Breaking News

अनलॉक करने की प्रक्रिया शुरू: त्योहारों को देखते हुए सात जिलों में कारोबार का समय बढ़ाया गया

रायपुर17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • रायपुर, दुर्ग, राजनांदगांव, मुंगेली, जांजगीर, बिलासपुर, बलरामपुर में बढ़ा समय

प्रदेश में अगले माह से शुरू हो रहे त्यौहारी सीजन को देखते हुए जिलों को पूरी तरह से अनलॉक करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। सात जिलों रायपुर, दुर्ग, मुंगेली, बिलासपुर, बलरामपुर, जांजगीर-चांपा और राजनांदगांव में दुकानों के खोलने का समय बढ़ा दिया गया है।

रायपुर में सात बजे तक, चांपा-जांजगीर, मुंगेली, दुर्ग और राजनांदगांव में अब 8 बजे तक दुकानें खुल सकेंगी। इसके साथ ही राजधानी रायपुर में अब सभी दुकानें, माॅल, शो रूम बाजार, मंडी और शराब दुकानें शाम 7 बजे तक खुली रहेंगी। देर शाम रायपुर कलेक्टर सौरभ कुमार सहित सभी सात जिलों के कलेक्टर ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है। उम्मीद है कि आने वाले समय में दूसरे अन्य जिलों में भी छूट दी जा सकती है।

व्यापारियों की 8 बजे तक खोलने की थी मांग
रायपुर के व्यापारियों ने रात 8 बजे तक कारोबार के लि‍ए छूट देने की मांग की थी। राज्य सरकार ने जिलों को अनलॉक करने का अधिकार कलेक्टरों को दिया है। उनको संक्रमण के मामले को ध्यान में रखकर अनलॉक करने पर निर्णय लेना है। हालांकि, पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमण के मामले कम हुए हैं लेकिन सरकार का मानना है कि खतरा कम नहीं हुआ है। इसे ध्यान में रखते हुए फिलहाल दुकानों को 7 बजे तक खोलने की छूट दी गई है। बता दें कि पहले सभी जिलों में शाम 6 बजे तक ही दुकानों को खोलने की इजाजत थी।

दो माह बाद सोमवार से मंत्रालय व कार्यालयों में जा सकेगी आम जनता
प्रदेश के प्रशासनिक मुख्यालय मंत्रालय समेत सभी सरकारी दफ्तरों में सोमवार से अधिकारियों -कर्मचारियों की सौ -फीसदी उपस्थिति रहेगी। यानी पूरे स्टाफ के साथ काम प्रारंभ होगा। इसके साथ ही जनता के लिए राज्य सरकार के सभी दफ्तर खोल दिए गए हैं। अब फरियादी अपनी अर्जियां लेकर पहले की तरह जाकर काम करा सकेंगे। बैन हटने के बावजूद, जुलूस, यूनियनों के प्रतिनिधि मंडल या समूहों को किसी भी हालत में इंट्री नहीं दी जाएगी। नवा रायपुर में मंत्रालय से जीएडी ने करीब दो माह पहले पहले लगाए प्रतिबंध को उठा लिया है। हालांकि जीएडी सचिव डीडी सिंह का कहना है कि धारा 144 पहले की तरह लागू रहेगी।

पूरे प्रदेश में सभी सरकारी कार्यालयों में इसका पालन होगा। प्रदर्शन, जुलूस, प्रतिनिधि मंडल या समूहों में किसी को भी प्रवेश की इजाजत नहीं दी जाएगी। शासन की कोविड को लेकर जारी की गई गाइड-लाइनों का पूरी तरह पालन किया जाएगा। मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, फिजिकल डिस्टेंसिंग, लगातार हाथ सेनिटाइज करना व धोना आदि सभी कार्यालयों में लागू रहेगा। मालूम हो कि पहले 33 प्रतिशत, फिर 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ कर्मचारियों से काम लिया जा रहा है। कोरोना जब अप्रैल में पीक पर था तब 9 तारीख से दफ्तर बंद कर दिए गे थे और आम जनता का प्रवेश भी बैन कर दिया था।

केवल जीएडी, वित्त, राहत एवं आपदा जैसे जरूरी विभागों में अधिकारी-कर्मचारी काम कर रहे थे। संयुक्त सचिव संजय अग्रवाल ने सरकार के सभी विभागों, राजस्व मंडल, सभी संभागीय कार्यालयों, विभागाध्यक्ष कार्यालयों, कलेक्टोरेट व निचले स्तर के सभी दफ्तरों में सोमवार से काम प्रारंभ करने के निर्देश जारी किए। सोमवार से सभी श्रेणी के कर्मचारियों-अधिकारियों को हाजिरी देनी होगी।

खबरें और भी हैं…

छत्तीसगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

लॉकडाउन से राहत मिली पर सावधान रहना जरूरी: दो माह बाद शाम सात बजे तक खुले बाजार, हर तरफ लगा जाम

रायपुरएक घंटा पहले कॉपी लिंक लॉकडाउन के करीब दो महीने के बाद शहर के बाजार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *