Breaking News

अप्रैल से स्कूल बंद, नहीं बांटा गया मिड-डे मील: 686 स्कूलों के बच्चों के लिए 3 माह का मिड-डे मील जारी, बांटने के निर्देश नहीं

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बठिंडाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर विद्यार्थी घरों से ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं। मार्च में स्कूलों के अध्यापक व विद्यार्थियों के लगातार कोरोना संक्रमित होने पर पंजाब के सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं, 1 अप्रैल से स्कूल सिर्फ अध्यापकों के लिए खोले गए हैं, जबकि विद्यार्थियों को नहीं बुलाया जा रहा। घरों में बैठे सरकारी स्कूलों के बच्चों को सरकार की ओर से जारी किया जाने वाला मिड-डे मील अब तक नहीं मिला। पंजाब के सभी स्कूलों को मिड-डे मील पहुंचाया जा चुका है, वहीं खाना पकाने में आने वाला खर्च के रूप में कुकिंग कॉस्ट भी आ चुकी है। बच्चों को 3 महीने यानी अप्रैल, मई व जून महीने का मिड डे मील का कच्चा राशन व कुकिंग कास्ट बांटने संबंधी शिक्षा विभाग योजना बना रहा है जबकि वर्कर भी सरकार की गाइडलाइंस का इंतजार कर रहे हैं।

पहली तिमाही का कच्चा राशन पहुंचा, कुकिंग कॉस्ट भी भेजी गई

सरकार की ओर से मिड डे मील के पहली तिमाही के कच्चे राशन की एलोकेशन हो चुकी है। स्कूलों में बच्चों की संख्या के अनुपात में राशन सप्लाई दी जा चुकी है, वहीं कुकिंग कास्ट की राशि भी भेजी गई है। जिला बठिंडा में प्राइमरी व अपर प्राइमरी 686 स्कूलों की 8वीं तक के 90 हजार 332 बच्चों को निर्धारित अनुपात में राशन दिया जाना है। प्राइमरी के 54652 जबकि अपर प्राइमरी के 35860 बच्चे हैं। प्राइमरी के बच्चों के लिए 1130 क्विंटल गेहूं और 1130 क्विंटल चावल जबकि इतनी ही मात्रा में अपर प्राइमरी स्कूल के बच्चों के लिए कच्चा राशन की सप्लाई हो चुकी है।

घर-घर पहुंचाएंगे या स्कूल में बांटा जाएगा राशन, अभी तय नहीं

मिड डे मील का कच्चा राशन व कुकिंग कॉस्ट बच्चों को उनके घर पर जाकर दिया जाएगा अथवा बच्चों को स्कूल में बुलाकर सोशल डिस्टेंसिंग को पालन करते हुए बांटा जाएगा, इसके बारे में अभी कोई गाइडलाइंस नहीं आई है। हालांकि बीते साल इन दोनों तरीकों से मिड डे मील का राशन दिया गया था।

राशन पहुंचा, लेकिन बांटने संबंधी डायरेक्शन नहीं मिली हैं

^ कच्चा राशन की पहली क्वार्टर की एलोकेशन हो चुकी है और कुकिंग कास्ट भी आ चुकी है। हालांकि राशन बांटने संबंधी शिक्षा विभाग की कोई डायरेक्शन नहीं आई है। आलाकमान के निर्देश पहुंचते ही बच्चों को उनके हिस्से का राशन दिया जाएगा। बलजीत सिंह संदोहा, डिप्टी डीईओ एलिमेंटरी

खबरें और भी हैं…

पंजाब | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

पंजाब बोर्ड ने घोषित किया रिजल्ट: बच्चों की मौजां ही मौजां… बिना परीक्षा दिए 10वीं के 99.93 प्रतिशत और 8वीं के 99.88 प्रतिशत विद्यार्थी पास

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप मोहाली3 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *