Breaking News

आरोपों में घिरा प्रोपर्टी डीलर: सन्नी इन्क्लेव के मालिक पर धोखे से प्लॉट बेचने के आरोप, कोर्ट में केस फाइल; SHO से मांगी रिपोर्ट, मामले की सुनवाई 4 मई को

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चंडीगढ़4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कोर्ट ने थाना सदर, खरड़ के SHO से रिपोर्ट मांग ली है। अब मामले की सुनवाई 4 मई को होगी।

सन्नी इन्क्लेव के मालिक जरनैल सिंह बाजवा के खिलाफ खरड़ जिला अदालत में केस फाइल हुआ है। बाजवा के खिलाफ सेक्टर-34 के रहने वाले अभिजीत ढिल्लों ने प्लॉट के नाम पर धोखाधड़ी के आरोप लगाए हैं। आरोप के मुताबिक बाजवा ने ढिल्लों का प्लॉट धोखे से किसी और को बेच दिया।

ढिल्लों ने जब इस बारे में मोहाली पुलिस को शिकायत दी तो किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की। आखिर में ढिल्लों ने बाजवा के खिलाफ खरड़ डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में CRPC की धारा 156(3) के तहत शिकायत दी और केस दर्ज किए जाने की मांग की। कोर्ट ने थाना सदर, खरड़ के SHO से रिपोर्ट मांग ली है। अब मामले की सुनवाई 4 मई को होगी।

ढिल्लों की ओर से एडवोकेट APS राणा ने केस दायर किया। एडवोकेट राणा ने बताया कि अभिजीत ढिल्लों ने 2011 में बाजवा डेवलपर्स से न्यू सन्नी इन्क्लेव सेक्टर-123 में 250 स्क्वायर यार्ड्स का एक प्लॉट खरीदा था। उस वक्त उन्होंने ये प्लॉट 15 हजार 900 रुपए प्रति स्क्वायर यार्ड की कीमत पर खरीदा था और उसकी पूरी कीमत 39 लाख 57 हजार 351 रुपए थी।

उन्होंने कंपनी के साथ 10 फरवरी 2011 को एग्रीमेंट किया। उन्होंने बाजवा डेवलपर्स को 28 लाख 20 हजार रुपए जमा करवा दिए थे। इसके अलावा ढिल्लों ने 2011 में सेक्टर-123 में ही 42 लाख 91 हजार 572 रुपए कीमत का 250 गज का प्लॉट और खरीदा।

लेकिन बाजवा डेवलपर्स ने ढिल्लों से पूछे बिना उन्हीं का प्लॉट आगे किसी और को बेच दिया। ढिल्लों ने कई बार कंपनी को सेल डीड और प्लॉट का फिजिकल पजेशन देने के लिए कहा, लेकिन वे उनकी बात को टालते रहे।

कंपनी ने उन्हें प्लॉट को आगे बेचे जाने के बारे में बताया ही नहीं। अगस्त 2018 में ढिल्लों को कंपनी की इस हेराफेरी के बारे में पता चल गया। ढिल्लों ने जब कानूनी कार्रवाई शुरू की तो बाजवा ने उन्हें प्लॉट अलॉट कर दिए। लेकिन उन्हें फिजिकल पजेशन ही नहीं दिया।

खबरें और भी हैं…

चंडीगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

कोविड समीक्षा बैठक: पीएम से बोले सीएम-सूबे पर बाहरी मरीजों का दबाव 300 मीट्रिक टन ऑक्सीजन दें

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप चंडीगढ़2 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *