Breaking News

कोरोना का बढ़ा कहर: सीएम ने कहा पूर्ण लॉकडाउन के पक्ष में नहीं, पर हालात न सुधरे तो मजबूरन लेंगे फैसला

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चंडीगढ़एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

तस्वीर जालंधर के भार्गव कैंप इलाके की है।

  • कैप्टन ने की मंत्रियों के साथ रिव्यू मीटिंग
  • अधिकतर मंत्रियों ने कहा- पूर्ण लॉकडाउन ही विकल्प बचा है

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने साफ कर दिया है कि वह पूर्ण लॉकडाउन के हक में नहीं हैं। लेकिन राज्य में लगाई बंदिशों की पालना न करने वालों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर स्थिति में सुधार न हुआ तो पूर्ण लॉकडाउन लगाने पर मजबूर होना पड़ेगा। कोविड को लेकर हुई रिव्यू मीटिंग के दौरान कई मंत्रियों ने भी सीएम को लॉकडाउन लगाने को सुझाव दिया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने राज्य में अब तक पूर्ण लॉकडाउन के आदेश देने से गुरेज ही किया है, क्योंकि इससे सबसे अधिक मार गरीबों पर पड़ती है। प्रवासी मजदूरों को पलायन करना पड़ता है और उद्योगों में अव्यवस्था आ जाती है। उन्होंने कहा कि अगर लोगों की तरफ से बंदिशों की पालना नहीं की गई तो सख्त कदम उठाने पड़ सकते हैं। डीजीपी दिनकर गुप्ता ने मीटिंग में बताया कि मौजूदा रोकों को सख्ती से लागू करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं।

स्थिति भयानक- अस्पताल भर रहे, बेड कम

स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने बताया स्थिति बहुत भयानक बनी हुई है क्योंकि राज्य में एल -3 के लिए सिर्फ 300 बेड बचे हैं। उन्होंने कहा अस्पताल भर रहे हैं। स्वास्थ्य सचिव हुसन लाल ने कहा राज्य की पॉजिटिविटी दर 12% पर है और पिछले 7-10 दिनों से मालवा में केस बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा एल -3 के 90% बेड भर गए हैं और कई मामलों में 100% भर गए हैं जिस कारण स्थिति भयानक है। मृत्यु दर 2% के पार है और ग्रामीण इलाकों में इससे भी अधिक यानी 2.7% है। घरों में मृत्यु दर भी 2% है। सबसे चिंता का कारण यह है कि कुल मौतों में से 17% मरीज सह बीमारियों से भी पीड़ित नहीं थे।

तैयारी- पीक की आशंका, स्टेडियम बनेंगे अस्पताल

आगामी दिनों में कोविड पीक पर जा सकता है। सीएम ने 10 दिन में 20% बेड बढ़ाने को कहा है। उन्होंने मरीजों को रखने के लिए स्टेडियम, जिमनेजियम और अन्य ऐसे स्थानों को तैयार करने के आदेश दिए हैं। टैंट वाले कैंप स्थापित करने और जिम, हॉल को एल -2 और एल -3 सुविधाओं से लैस करने को कहा है।

दिक्कत- ऑक्सीजन टैंकरों की कमी, सीएम ने केंद्र से मांगे

सीएम अमरिंदर ने केंद्र से ऑक्सीजन सप्लाई और ऑक्सीजन टैंकर तुरंत बढ़ाने की मांग की है। उन्होंने कहा-पिछले कुछ दिनों से 195 मी. टन ऑक्सीजन डिमांड के मुकाबले 110-120 मीट्रिक टन सप्लाई हो रही है। जबकि डिमांड रोजाना 15-20 फीसदी बढ़ रही है। मंत्री ओपी सोनी ने कहा-हमें और ऑक्सीजन सिलेंडर भी चाहिए।

खबरें और भी हैं…

चंडीगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

धोखाधड़ी का मामला: नायब तहसीलदार समेत 4 राजस्व अफसरों ने 14 फर्जी लोगों के नाम कर दी 558 एकड़ जमीन

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप चंडीगढ़8 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *