Breaking News

कोरोना को मात: कोविड वार्ड में वेंटिलेटर पर भर्ती गर्भवती ने स्वस्थ बच्ची को दिया जन्म

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कुरुक्षेत्र21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कुरुक्षेत्र। आरोग्यम अस्पताल में भर्ती जसलीन।

  • जिले में पहला केस, जच्चा में कोरोना के लक्षण, नवजात की रिपोर्ट निगेटिव

कोरोना को लेकर मची अफरातफरी के बीच सुखद खबरें भी आ रही हैं। ऐसे ही एक खबर कुरुक्षेत्र में कोविड डेडिकेटिड अस्पताल से आई। यहां कोरोना वार्ड में वेंटिलेटर पर ही एक गर्भवती की डिलीवरी हुई। महिला ने एक स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया। बच्ची का रेपिड एंटीजन टेस्ट किया। इसमें वह निगेटिव है।

दो दिन पहले ही गर्भवती महिला को श्री बालाजी आरोग्यम अस्पताल में एडमिट किया था। फिजिशियन डॉ. अनुराग कौशल व सर्जन डॉ. नेहा खानेजा ने हालात देखते हुए गर्भवती को वेंटिलेटर पर रखा था। कोरोना लक्षण देखते हुए महिला को सिविल अस्पताल से यहां रेफर किया गया था।

धक्के खाने के बाद मिला बेड : भगवानपुर निवासी गौरव के मुताबिक पत्नी जसलीन की तीसरी डिलीवरी होनी थी। उसे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। हालत काफी नाजुक थी। जिस पर वे उसे पहले दो प्राइवेट अस्पताल लेकर गए, लेकिन वहां ऑक्सीजन बेड नहीं मिला। इसके बाद सिविल अस्पताल लेकर गए। वहां से जसलीन को बालाजी आरोग्यम अस्पताल में रेफर किया गया। उनके लिए आरोग्यम अस्पताल के चिकित्सक किसी फरिश्ते से कम नहीं हैं। अस्पताल में तुरंत इलाज शुरू हुआ।

कोरोना वार्ड में पहली डिलीवरी : डॉ. अनुराग के मुताबिक यह जिले में पहला मामला है। दो मई को उसे सिविल अस्पताल से रेफर किया था। महिला में सभी लक्षण कोरोना के ही थे। ऐसे में उसे वेंटिलेटर पर लेने के अलावा कोई रास्ता नहीं था। डॉ. नेहा की देखरेख में उसकी मंगलवार को डिलीवरी हुई। अब जसलीन की हालत ठीक है। वहीं बच्ची भी स्वस्थ है। एहतियात के तौर पर बच्ची को एक चाइल्ड केयर अस्पताल में रखा है।

खबरें और भी हैं…

हरियाणा | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

पंचकूला में सनसनीखेज वारदात: खड़क मंगोली में चाकू से गोदकर 24 साल के युवक को मौत के घाट उतारा, गेट नंबर 3 के पास मिला शव

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप पंचकूला16 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *