Breaking News

घूस का चस्का पड़ा भारी: अमृतसर में SMO को विजिलेंस ने धरा, CWO से इन्सेंटिव का 40 प्रतिशत मांगता था 21 दिन पहले प्रोमोट हुआ विधायक का करीबी

  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Vigilance Defeats SMO In Amritsar, Demands 40 Percent Of Incentive From CWO Promoted To MLA 21 Days Ago

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अमृतसर3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

अमृतसर में रिश्वत के साथ गिरफ्तार किया गया थोड़े दिन पहले ही प्रोमोट हुआ विधायक का करीबी सीनियर मेडिकल अफसर डॉ. राजू चौहान।

अमृतसर में शुक्रवार को एक वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी को विजिलेंस ब्यूरो ने गिरफ्तार किया है। बताया जाता है कि एक विधायक के करीबी माना जाता डॉ. राजू 21 दिन पहले इस पद पर प्रोमोट हुआ था और महीने के चक्कर में पड़ गया। नतीजा यह रहा कि मामला विजिलेंस तक पहुंच गया। आज उसे चार हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया है। ने भागने की कोशिश की, लेकिन विजिलेंस टीम कॉलर से पकड़कर घसीटते हुए बाहर तक लेकर आई।

मिली जानकारी के अनुसार थरिएवाल ब्लॉक में सीनियर मेडिकल अफसर के रूप में कार्यरत डॉ. राजू चौहान शहर के एक विधायक का करीबी है। इससे पहले नगर निगम में हेल्थ अफसर और सिविल सर्जन कार्यालय में जिला महामारी अधिकारी के रूप में काम कर चुका है। सिविल अस्पताल अमृतसर में कुछ महीने मेडिकल अफसर के रूप में काम किया और 9 अप्रैल को ही सीनियर मेडिकल अफसर के रूप में प्रोमोट हुआ है।

आरोप है कि डॉ. राजू चौहान ने अपने ब्लॉक के प्राइमरी हेल्थ सेंटरों के कम्युनिटी वेलफेयर अफसरों से महीने की मांग की थी। सभी कम्युनिटी वेलफेयर अफसर डॉ. राजू से तंग आ चुके थे। असल में कम्युनिटी वेलफेयर अफसरों CWO को काम के बदले कुछ इन्सेंटिव मिलता है। SMO इस इन्सेंटिव का चालीस प्रतिशत मांगता था। फिर उसने प्रतिमाह पांच हजार रुपए फिक्स कर​दिए थे। कुछ कम्युनिटी अफसर मजबूरी में पैसे दे भी दे चुके हैं।

इन्हीं में से एक गांव अब्दाल स्थित प्राइमरी हेल्थ सेंटर के कम्युनिटी वेलफेयर अफसर डॉ. गुरबख्शीश सिंह भी हैं। डॉ. गुरबख्शीश सिंह के अनुसार उन्होंने पैसे देने से इन्कार किया तो डॉ. राजू चौहान ने विभागीय कार्रवाई की धमकियां दी। बेवजह गैरहाजिरी दर्ज करने लगा।

इस शिकायत पर विजिलेंस ने सुबह थरिएवाल में ट्रैप लगाया। सुबह नौ बजे डॉ. गुरबख्शीश सिंह ने डॉ. राजू चौहान को 4 हजार रुपए पकड़ाए। इसी दौरान विजिलेंस ने पकड़ लिया। इस दौरान डॉ. चौहान ने भागने की कोशिश की, लेकिन विजिलेंस टीम कॉलर से पकड़कर घसीटते हुए बाहर तक लेकर आई। बहरहाल, विजिलेंस डॉ. राजू चौहान से पूछताछ की जा रही है।

खबरें और भी हैं…

पंजाब | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

टैक्स चोरी: रिश्वत देने वाले वरुण महाजन को भेजा जेल, रिमांड खत्म होने पर अदालत में पेश किया गया

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप जालंधर3 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *