Breaking News

तैयारी अभी से: सेक्टर-45 में 10 दिन में शुरू होगा बच्चों के लिए काेविड डेडिकेटेड हॉस्पिटल

चंडीगढ़2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • कोरोना की तीसरी लहर की अाशंका के चलते शुरू में लेवल-1 की सुविधाओं के साथ ऑपरेशनल हा़े जाएगा हाॅस्पिटल

कोरोना की थर्ड वेव में बच्चे के ज्यादा प्रभावित होने की आशंका के चलते प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। वीरवार को मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डाॅ. विरेंदर नागपाल के नेतृत्व में चाइल्ड स्पेशलिस्ट और एनेस्थीसिया डिपार्टमेंट्स के डाॅक्टर ने सिविल हॉस्पिटल सेक्टर-45 हॉस्पिटल में उपलब्ध सुविधाओं का जायजा लिया।

डाॅ. नागपाल ने बताया कि हॉस्पिटल काे पीडियाट्रिक काेविड डेडिकेटेड हॉस्पिटल बनाया जाएगा। सेकंड वेव में जाे दिक्कतें आई हैं, वे थर्ड वेव में न आएं। चूंकि थर्ड वेव में बच्चाें काे ज्यादा दिक्कत अाने की संभावना जताई जा रही है। हॉस्पिटल में काेविड पाॅजिटिव बच्चाें के इलाज के लिए सुविधाएं ठीक हैं। कुछ और सुविधाएं जुटाने का सवाल है ताे वह भी जल्द जुटा ली जाएंगी।

एमएस डाॅ. नागपाल ने बताया कि चूंकि हॉस्पिटल ऑक्सीजन पाइप लाइन पहले से बिछी हुई है। ऐसे में अगले 10 दिन के भीतर लेवल-1 की सुविधाएं यहां पर शुरू कर दी जाएंगी। लेवल-1 में आईसीयू बेड की सुविधा हाेगी। अगर जरूरत पड़ी ताे यहां पर आईसीयू बेड बढ़ाए जाएंगे।

साथ ऑक्सीजन बेड की सुविधा भी हाेगी। डाॅ. नागपाल ने बताया कि हॉस्पिटल में बच्चाें की देखभाल के लिए 4 चाइल्ड स्पेशलिस्ट रखे जाएंगे। इनकी नियुक्ति की प्रक्रिया चल रही है। इसके अलावा एनेस्थीसिया के चार एक्सपर्ट भी रखे जाएंगे। बच्चों के इलाज में कोई कमी नहीं रखी जाएगी।

पंचकूला में भी बच्चों के लिए बना रहे आईसीयू यूनिट

पंचकूला में कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर स्वास्थ्य विभाग की ओर से तैयारी की जा रही है। विभाग की ओर से सेक्टर-6 सिविल हॉस्पिटल में 9 बेड का बच्चों का आईसीयू तैयार किया गया है। इसे अब विभाग की ओर से 9 बेड से बढ़ाकर 20 बेड तक करने की प्लानिंग की जा रही है।

इसके अलावा पीडियाट्रिक वार्ड को भी अपग्रेड किया जा रहा है। जिले की डिस्पेंसरी में भी बच्चों को एडमिट करने के लिए अलग से वार्ड तैयार करने की प्लानिंग है। इसमें बच्चों को एडमिट करने से लेकर उनके ट्रीटमेंट के लिए पीडियाट्रिक डॉक्टरों की टीम को भी बढ़ाने के लिए तैयारी की जा रही है।

सरकारी के अलावा प्राइवेट हॉस्पिटल में भी बच्चों को देखते हुए अलग से बंदोबस्त करने के लिए कहा गया है। विभाग की ओर से प्राइवेट अस्पताल संचालकों को भी बच्चों के लिए अलग से आईसीयू बनाने को लेकर काम किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं…

चंडीगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

शहर के डंपिंग ग्राउंड से लोग परेशान: चंडीगढ़ में तेज बारिश के कारण डंपिंग ग्राउंड की दीवार टूटी, आसपास रहने वालों ने रोष प्रदर्शन किया

Hindi News Local Chandigarh Due To Heavy Rains In Chandigarh, The Wall Of The Dumping …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *