Breaking News

पटना में दिनदहाड़े गोलीबारी: एंबुलेंस चलाने वाले गुटों में वर्चस्व की जंग, PMCH कैंपस में रहनेवाले युवक को सिर में गोली मार भागे अपराधी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना44 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

घटना के बाद PMCH कैंपस में पूछताछ करती पुलिस।

पटना में दिनदहाड़े एक बड़ी घटना हो गई है। PMCH कैंपस में एक युवक के पास अपराधी पहुंचे और सिर में गोली मारकर भाग गए। घायल युवक का नाम शोएब है। उसकी हालत गंभीर है और इलाज के लिए उसे PMCH में एडमिट कराया गया है। शोएब को गोली क्यों और किसने मारी? इस बारे में किसी कुछ नहीं पता है। घटना की जानकारी मिलने के बाद पीरबहोर थाना की पुलिस टीम मौके पर पहुंची। पूरे मामले की छानबीन की, लेकिन उनके हाथ अभी कुछ नहीं लगा है। थानेदार रिजवान खान खुद घटना स्थल पर पहुंचकर छानबीन कर रहे हैं।

पुलिस की शुरुआती जांच में जो बातें सामने आई, उसके मुताबिक PMCH कैंपस में सीतामढ़ी क्वार्टर है। इसके पास में कुछ झोपड़ियां बनी हुई हैं। उसी में से एक झोपड़ी में शोएब अपने परिवार के साथ रहता है। मंगलवार को वो अपनी झोपड़ी के बाहर बैठा हुआ था। अचानक से दो युवक वहां पहुंचे। इशारा कर शोएब को अपने पास बुलाया। इसके बाद उसके सिर में गोली मारी और फरार हो गए। जबकि, गोली लगते ही शोएब वहीं पर गिर गया। गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग पहुंचे, जल्दी से उसे हॉस्पिटल ले गए। वहां उसकी हालत अभी गंभीर बनी हुई है।

PMCH में इलाजरत घायल शोएब।

PMCH में इलाजरत घायल शोएब।

पुलिस का मुंह बंद, वर्चस्व की सामने आ रही है बात

इस घटना की जांच कर रही पुलिस टीम का मुंह बंद है। घटना के पीछे का कारण क्या है? इस बारे में अभी कुछ भी नहीं बता रही है। लेकिन, भास्कर को जो जानकारी अपने सूत्रों से मिली है, उसके अनुसार शोएब को गोली मारने के पीछे की वजह वर्चस्व की लड़ाई है। दरअसल, इस मामले का कनेक्शन PMCH में एंबुलेंस चलाने वाले दो गुटों से जुड़ा है। जिसमें एक गुट मो. अलाउद्दीन उर्फ बिकाउ का है। जिसकी पिछले साल अपराधियों ने गोली मारकर हत्या की थी। घायल शोएब भी इसी गुट से जुड़ा है। उसकी गाड़ी भी एंबुलेंस के तौर पर चलती है। जबकि दूसरा गुट PMCH कैंपस में अपना वर्चस्व जमाने की कोशिशों में लगा है। इमरजेंसी के पास 3-4 दिन पहले भी एंबुलेंस चलाने को लेकर दोनों गुटों में मारपीट हुई थी।

खबरें और भी हैं…

बिहार | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

सर! लॉकडाउन में पिम्पल्स के इलाज के लिए ई-पास चाहिए: DM ने कहा अभी इंतजार करें, देखिए लॉकडाउन में किए जा रहे कैसे-कैसे बहाने

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप पूर्णिया3 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *