Breaking News

फर्जीवाड़ा: चेक रिटर्न के मामले में कोर्ट ने दोगुना रकम चुकाने का आदेश दिया, दो साल की सजा सुनाई

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सूरतएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक
  • कोर्ट का वक्ता जाया करने पर आरोपी पर 50 हजार जुर्माना भी लगाया गया

चेक रिटर्न के मामले में कोर्ट ने एक ऐसा आदेश सुनाया है, जिसे धोखाधड़ी कर रहे ऐसे लोगों पर कोर्ट ने शिकंजा कसने की कोशिश की हैं। इस आदेश से धोखाधड़ी करने वाले लोगों की चिंता जरूर बढ़ सकता है। कोर्ट ने आरोपी को चुकाने वाली रकम से दोगुना रकम चुकाने का आदेश दिया तथा कोर्ट का वक्त जाया करने के लिए भी आरोपी को पांच लाख रुपए का आर्थिक जुर्माना भरने के लिए कहा, इसके अलावा 2 वर्ष की सजा भी आरोपी को सुनाई गई है।

शिकायतकर्ता अशोक सिंघल आशीर्वाद ट्रेडर्स के नाम पर सीमेंट का व्यापार करते है। जिनके पास से आरोपी शांतिलाल पटेल जो की ग्रीनरी डेवलपर्स के नाम से कंस्ट्रक्शन का काम करते हैं। उन्होंने शिकायतकर्ता अशोक भाई के पास से 47.85 लाख का का माल खरीदा था। लेकिन कैस में पेमेंट नहीं कर पाने की वजह से इसके लिए चेक दिया था, लेकिन चेक वापस हो जाने से मामला 2019 में कोर्ट पहुंच गया था।

दोगुना रकम और जुर्माना भरने की सजा हुई

अहमदाबाद के ग्रीनरी डेवलपर्स का मालिक आरोपी शांतिलाल पटेल के खिलाफ शिकायतकर्ता के एडवोकेट विनय शुक्ला ने कोर्ट में मामला दर्ज करवाया था। एडवोकेट ने बताया कि कोर्ट ने आरोपी को सजा सुनाते हुए 47.85 लाख के एवज में कुल 90 लाख रुपए चुकाने के लिए आदेश दिया है। अब आरोपी को दोगुना रकम अब चुकाना होगा। इसके अलावा कोर्ट ने कहा कि आरोपी ने कोर्ट का वक्त जाया किया 5.71 लाख रुपए का दंड भी सुनाया है, ताकि आगे कोई ऐसा न करें।

बिल्डर सिक्योरिटी रकम दे यह नहीं मान सकते: कोर्ट

बचाव पक्ष के वकील विनय शुक्ला ने बताया कि कोर्ट ने पहली बार इतना बड़ा दंड किसी व्यक्ति को सुनाया है। ऐसा माना जा सकता है ऐसा बहुत कम केसों में होता है। बचाव पक्ष ने कहा कि शिकायतकर्ता को जो चेक दिया गया था।

वह उसके माल खरीदने के लिए नहीं बल्कि शिकायतकर्ता ने आरोपी के पास से मकान खरीदा था। जिसके लिए उसने उन्हें कैश पेमेंट दिया था लेकिन शिकायतकर्ता को या भरोसा नहीं था कि हम उसे घर देंगे या नहीं। इसकी सिक्योरिटी के एवज में हमने शिकायतकर्ता को चेक दिया था।

खबरें और भी हैं…

गुजरात | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

महामारी से बचाव की तैयारी: 33 जिलों में 13 हजार कम्युनिटी कोविड केयर सेंटरों में 1.20 लाख बेड की व्यवस्था

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप गांधीनगर3 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *