Breaking News

भाजपा के सवालों का झामुमो ने दिया जवाब: बाबूलाल मरांडी न्याय छोड़ आय की राजनीति करने लगे : सुप्रियो

रांची23 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रेस कांफ्रेंस में सुप्रियो भट्‌टाचार्य।

  • झामुमो ने दी चुनौती… पंकज मिश्रा के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत हो तो सामने लाएं, बेबुनियाद बयानबाजी से कुछ हासिल होने वाला नहीं है

भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी की ओर से उठाए गए सवाल को झामुमो ने आड़े हाथ लिया है। मंगलवार को साहेबगंज के कुछ लोगों के साथ प्रेस कांफ्रेंस कर मरांडी ने कई आरोप लगाए थे। गुरुवार को झामुमो के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने झामुमो केंद्रीय कार्यालय में प्रेस कांफ्रेंस कर उन आरोपों पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि राजधनवार की जनता ने बाबूलाल मरांडी को जिताकर विधानसभा में भेजा, आजतक वे अपने क्षेत्र में कभी नहीं गए।

लेकिन साहेबगंज के कुछ लोग उनके पास आ जाते हैं, जो खुद हिस्ट्रीशीटर हैं। उनको बगल में बैठाकर बाबूलाल मरांडी प्रेस कांफ्रेंस करते हैं। भाजपा के एक और सांसद हैं जो आईएएस और आईपीएस अधिकारियों को खुलेआम धमकाते हैं।

सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि अंकुश राजहंस का एक माइनिंग लीज 2020 में खत्म हो गया। इसके बाद उस जमीन पर अवैध माइनिंग की गई। उसके खिलाफ मामला दर्ज है। उन्होंने आरोप लगाया कि बाबूलाल मरांडी अब न्याय छोड़ आय की राजनीति करने लगे। वे भ्रष्टाचार के दलदल में कूद चुके हैं। अब जब मामलों की परत दर परत खुलेगी तो उनका चेहरा और चमक कर सामने आएगा।

झामुमो ने कहा… चारों मामलों पर नजर डालें तो सब साफ हो जाएगा

  • बाबूलाल जी के प्रेस कांफ्रेंस में आया अंकुश राजहंस एक पेशेवर अपराधी का बेटा है। बात 17 अक्टूबर 2018 की है। एक आईएएस अधिकारी को उसने दो घंटे तक बंधक बना लिया था। उस पर केस दर्ज हुआ, फिर सीएम हाउस से फोन जाने पर छोड़ दिया। बाबूलाल ऐसे परिवार की पैरवी कर रहे है।
  • बाबूलाल के प्रेस कांफ्रेंस में एक महिला रीता देवी भी थी। न्यायालय में 2020 में उसका जमीन पर दावा खारिज हो गया। उसके बाद वह उच्च न्यायालयों में दावा करने नहीं गई। क्योंकि उसके पास जमीन का कोई कागजात ही नहीं था। कागजात शिवशंकर प्रसाद के नाम से है।
  • एक मंडल जी को भी उस प्रेस कांफ्रेंस में बैठाया गया था। सुना है बड़ा पावरफुल मंडल है। उसने अपनी वंशावली से छेड़छाड़ कर जमीन हड़पने की बात कही। लेकिन झारखंड के सक्षम पदाधिकारी कहते हैं कि वंशावली में उसका कहीं नाम ही नहीं है।
  • एक और व्यक्ति मुकेश शुक्ला, जो भाजपा का पदाधिकारी भी है। प्रशासन का मानना है कि 2018 में जब रघुवर दास की सरकार थी, उसका मकान एसपीटी सप्लीमेंट्री एक्ट का उल्लंघन कर बना। पाकुड़ जिला प्रशासन ने उस मकान को ध्वस्त करने का आदेश दिया है।

रघुवर को बदनाम करने के लिए बाबूलाल ऐसा कर रहे
सुप्रियो भट्टाचार्य ने आरोप लगाया कि ऐसा लगता है, बाबूलाल जी रघुवर दास को बदनाम करने के लिए ऐसा कर रहे हैं। नहीं तो वे 2015 से 2019 तक के मामलों को क्यों सामने ला रहे हैं। ये प्रहार रघुवर दास के तरफ है। यदि किसी भी भाजपा नेता के पास पंकज मिश्रा के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत हो तो सामने लाएं। बेबुनियाद बयानबाजी से कुछ हासिल होने वाला नहीं है।

रूपा के परिजन चाहेंगे तो उच्च स्तरीय जांच जरूर होगी
साहेबगंज महिला थाना प्रभारी रहीं रूपा तिर्की की मौत मामले में सुप्रियो भट्‌टाचार्य ने कहा कि उनके परिजनों को संतुष्ट करने के लिए सरकार जरूर पहल करेगी। एसआईटी जांच रिपोर्ट आने के बाद भी यदि परिजन उच्च स्तरीय जांच की मांग करते हैं, तो उनकी संतुष्टि के लिए सरकार जांच कराएगी। सिर्फ भाजपा या बाबूलाल जी के मांग करने पर जांच नहीं होगी।

खबरें और भी हैं…

झारखंड | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

पत्नी की हत्या कर पति ने की खुदकुशी: आपसी विवाद में पत्नी की कुल्हाड़ी से वार कर की हत्या, लोगों ने पकड़ना चाहा तो आरोपी ने कुएं में कूद दी जान

Hindi News Local Jharkhand Ranchi In A Mutual Dispute, The Wife Was Killed By Attacking …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *