Breaking News

भास्कर एक्सक्लूसिव: अब बंगाल की लकड़ी पर होगा बिहारियाें का अंतिम संस्कार, चिता के सौदागरों ने बढ़ा दिया लकड़ी का भी दाम

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; Patna Municipal Corporation Imported Wood From West Bengal For Funeral Of Covid Patients

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटनाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

बढ़ी कीमतों को देखते हुए पटना नगर निगम ने बाहर से लकड़ी मंगाने का फैसला लिया है।

बिहार में हर सांस के सौदे के बाद अब चिता के सौदागर सामने आए हैं। डेड बॉडी बढ़ने के साथ ही उन्होंने लकड़ियों का दाम बढ़ा दिया है। ऐसे में अब नगर निगम ने बिहार से बाहर की लकड़ियों पर अंतिम संस्कार कराने का फैसला किया है। इसके लिए सिक्किम, सिलीगुड़ी और कोलकाता से लकड़ियां मंगाई गई है। सोमवार तक पटना के गुल्बी घाट पर 20 टन और खाजेकलां घाट पर 250 टन लकड़ी की व्यवस्था की गई है। वहीं, 50 टन और लकड़ी मंगलवार को घाट पर पहुंच जाएगी। अब इन्हीं बाहर की लकड़ियों पर कोविड से मरने वालों का अंतिम संस्कार किया जाएगा। नगर आयुक्त का कहना है कि लकड़ियों का दाम बढ़ा दिया गया है, जिससे बाहर से लकड़ियां मंगाई जा रही हैं।

बांस घाट पर सामान्य शव की नो एंट्री

अब बांस घाट पर सामान्य मौत के लिए अंतिम संस्कार नहीं होगा। सोमवार से इस पर बैन लगा दिया गया है। बांस घाट पर मात्र कोरोना संक्रमित मृतकों का ही अंतिम संस्कार किया जाएगा। गुल्बी घाट, खाजेकलां घाट और नंदगोला घाट पर कोविड एवं अन्य परिस्थितियों में सामान्य मृत व्यक्तियों की भी अंत्येष्टि की व्यवस्था की जाएगी। नंदगोला घाट पर अंत्येष्टि के लिए व्यवस्था तत्काल प्रारंभ करने के निर्देश दिए गए हैं। पश्चिम बंगाल से 300 टन लकड़ी मंगा ली गई है।

कोरोना से मरने वालों की भीड़ से बढ़ी मुश्किल

कोरोना महामारी के कारण मृतकों की संख्या में वृद्धि को देखते हुए पटना नगर निगम के नगर आयुक्त हिमांशु शर्मा ने तत्काल प्रभाव से पटना सिटी वार्ड संख्या 70 में नंदगोला घाट पर अंत्येष्टि के लिए व्यवस्था करने का निर्देश दिया है। उक्त घाट पर लकड़ी से दाह संस्कार प्रारंभ किया जाएगा। इस घाट पर भी कोरोना मृतकों के अंतिम संस्कार की प्रक्रिया पटना नगर निगम द्वारा निशुल्क की जाएगी।

नंदगोला घाट पर भी प्रमुख स्थानों पर CCTV कैमरों को इंस्टॉल कर दिया गया है। “मे आई हेल्प यू” डेस्क, कंट्रोल रूम की व्यवस्था भी की जाएगी। साथ ही कोरोना से मृत संक्रमितों के लिए अंतिम संस्कार के लिए पटना नगर निगम द्वारा की गई व्यवस्थाओं की जानकारी माइक के माध्यम से भी प्रसारित की जाएगी।

सिलीगुड़ी, सिक्किम और कोलकाता से मंगाई लकड़ियां

पटना नगर निगम का कहना है कि निगम द्वारा उक्त सभी घाटों पर कोविड मृत व्यक्तियों की अंत्येष्टि नि:शुल्क करायी जा रही है। इसके लिए सिक्किम, सिलीगुड़ी एवं कोलकाता से लकड़ियां मंगाई गई हैं। अभी तक गुल्बी घाट पर 20 टन एवं खाजेकलां घाट पर 250 टन लकड़ी की व्यवस्था की गई है। वहीं, 50 टन लकड़ी मंगलवार तक घाट पर पहुंचेगी।

मौत का तांडव देख बढ़ाए जा रहे घाट

कोरोना महामारी के दौरान अंत्येष्टि से घाटों पर बढ़ते दबाव को नियंत्रित करने के लिए पटना नगर निगम द्वारा घाटों की संख्या बढ़ाई जा रही है। साथ ही कोविड मृतक के परिजनों से अपील भी की जा रही है कि वे पार्थिव शरीर को घाट पर लेकर पहुंचने से पहले संबंधित घाट के कंट्रोल रूम में कॉल कर दाह संस्कार के लिए पहले ही समय निर्धारित करवा लें। वे कंट्रोल रूम द्वारा बताए समय पर पहुंच कर कम से कम अवधि में अंत्येष्टि की प्रक्रिया पूर्ण करने में सहयोग करें।

खबरें और भी हैं…

बिहार | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

ऑक्सीजन नहीं, मौत का सिलेंडर: पटना में एक्सपायरी डेट के सिलेंडर में 12 लीटर ऑक्सीजन के लिए 25 हजार की डिमांड

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप पटना33 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *