Breaking News

यूपी बोर्ड परीक्षा 2021 का नया कार्यक्रम जारी, आठ मई से होगी शुरुआत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ
Published by: ishwar ashish
Updated Wed, 07 Apr 2021 08:19 PM IST

यूपी बोर्ड : उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड
– फोटो : Amar Ujala Graphics

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश की माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की हाई स्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा आठ मई से शुरू होगी। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने इस संबंध में बुधवार को पूरा कार्यक्रम जारी कर दिया है।

बता दें कि पहले बोर्ड परीक्षा 24 अप्रैल से 12 मई तक प्रस्तावित थी पर पंचायत चुनाव के मद्देनजर परीक्षाओं को स्थगित किया गया था।

नए कार्यक्रम के मुताबिक, परीक्षा आठ मई से शुरू होकर 28 मई तक चलेगी।

हाईस्कूल की परीक्षा 8 मई से शुरू होकर 12 दिनों में 25 मई को समाप्त होगी जबकि इंटरमीडिएट की परीक्षा 15 कार्य दिवसों में पूरी होकर 28 मई 2021 को समाप्त होगी। इसके पहले 2020 में भी हाईस्कूल की परीक्षा का इसी तरह 12 दिनों में व इंटरमीडिएट की परीक्षा 15 दिनों में सम्पन्न हुई थी।

इस बार हाईस्कूल की परीक्षा में 1674022 छात्र और 1320290 छात्राओं को मिलाकर कुल 2994312 परीक्षार्थी शामिल होंगे। वहीं, इंटरमीडिएट की परीक्षा में 1473771 छात्र व 1135730 छात्राएं मिलाकर कुल 2609501 परीक्षार्थी शामिल होंगे।

बता दें कि 2020 की हाईस्कूल की परीक्षा में कुल 3024480 परीक्षार्थी जबकि इंटरमीडिएट की परीक्षा में कुल 2586339 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। प्रदेश में नकलविहीन एवं सुचितापूर्ण परीक्षाओं के आयोजन कराने जाने के लिए तैयारियों के संबंध में सभी मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशकों और जिला विद्यालय निरीक्षकों को शासन द्वारा आवश्यक निर्देश दिए गए हैं।

उत्तर प्रदेश में संस्कृत शिक्षा परिषद की परीक्षाओं की तिथियां भी आगे बढ़ाई जाएंगी। 29 अप्रैल से प्रस्तावित परीक्षाएं अब मई के दूसरे सप्ताह के बाद ही शुरू होंगी। गौरतलब है कि संस्कृत शिक्षा परिषद कक्षा 8 से 12 तक के विद्यार्थियों की बोर्ड परीक्षाएं आयोजित कराता है। इसे प्रथमा, पूर्व मध्यमा और उत्तर मध्यमा के नाम से जाना जाता है।

परीक्षाएं 29 अप्रैल से प्रस्तावित थीं, पर पंचायत चुनाव को देखते हुए परिषद तिथियों में बदलाव करने जा रहा है। परिषद के सचिव आरके तिवारी ने बताया था कि यूपी बोर्ड परीक्षा का नया शिड्यूल तय होने के बाद संस्कृत बोर्ड की परीक्षाओं की नई तिथियों की घोषणा की जाएगी।

उन्होंने बताया कि अभी तक 16 मंडलों से सूची नहीं मिलने के चलते परीक्षा केंद्र निर्धारित नहीं हो पा रहा है। यूपी बोर्ड परीक्षा की भांति संस्कृत बोर्ड की परीक्षा भी सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होगी। उन्होंने बताया कि 200 से कम विद्यार्थी होने पर संबंधित जिलों के राजकीय व सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में परीक्षा कराई जाएगी।

विस्तार

उत्तर प्रदेश की माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की हाई स्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा आठ मई से शुरू होगी। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने इस संबंध में बुधवार को पूरा कार्यक्रम जारी कर दिया है।

बता दें कि पहले बोर्ड परीक्षा 24 अप्रैल से 12 मई तक प्रस्तावित थी पर पंचायत चुनाव के मद्देनजर परीक्षाओं को स्थगित किया गया था।

नए कार्यक्रम के मुताबिक, परीक्षा आठ मई से शुरू होकर 28 मई तक चलेगी।

हाईस्कूल की परीक्षा 8 मई से शुरू होकर 12 दिनों में 25 मई को समाप्त होगी जबकि इंटरमीडिएट की परीक्षा 15 कार्य दिवसों में पूरी होकर 28 मई 2021 को समाप्त होगी। इसके पहले 2020 में भी हाईस्कूल की परीक्षा का इसी तरह 12 दिनों में व इंटरमीडिएट की परीक्षा 15 दिनों में सम्पन्न हुई थी।

इस बार हाईस्कूल की परीक्षा में 1674022 छात्र और 1320290 छात्राओं को मिलाकर कुल 2994312 परीक्षार्थी शामिल होंगे। वहीं, इंटरमीडिएट की परीक्षा में 1473771 छात्र व 1135730 छात्राएं मिलाकर कुल 2609501 परीक्षार्थी शामिल होंगे।

बता दें कि 2020 की हाईस्कूल की परीक्षा में कुल 3024480 परीक्षार्थी जबकि इंटरमीडिएट की परीक्षा में कुल 2586339 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। प्रदेश में नकलविहीन एवं सुचितापूर्ण परीक्षाओं के आयोजन कराने जाने के लिए तैयारियों के संबंध में सभी मंडलीय संयुक्त शिक्षा निदेशकों और जिला विद्यालय निरीक्षकों को शासन द्वारा आवश्यक निर्देश दिए गए हैं।

उत्तर प्रदेश में संस्कृत शिक्षा परिषद की परीक्षाओं की तिथियां भी आगे बढ़ाई जाएंगी। 29 अप्रैल से प्रस्तावित परीक्षाएं अब मई के दूसरे सप्ताह के बाद ही शुरू होंगी। गौरतलब है कि संस्कृत शिक्षा परिषद कक्षा 8 से 12 तक के विद्यार्थियों की बोर्ड परीक्षाएं आयोजित कराता है। इसे प्रथमा, पूर्व मध्यमा और उत्तर मध्यमा के नाम से जाना जाता है।

परीक्षाएं 29 अप्रैल से प्रस्तावित थीं, पर पंचायत चुनाव को देखते हुए परिषद तिथियों में बदलाव करने जा रहा है। परिषद के सचिव आरके तिवारी ने बताया था कि यूपी बोर्ड परीक्षा का नया शिड्यूल तय होने के बाद संस्कृत बोर्ड की परीक्षाओं की नई तिथियों की घोषणा की जाएगी।

उन्होंने बताया कि अभी तक 16 मंडलों से सूची नहीं मिलने के चलते परीक्षा केंद्र निर्धारित नहीं हो पा रहा है। यूपी बोर्ड परीक्षा की भांति संस्कृत बोर्ड की परीक्षा भी सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होगी। उन्होंने बताया कि 200 से कम विद्यार्थी होने पर संबंधित जिलों के राजकीय व सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में परीक्षा कराई जाएगी।

आगे पढ़ें

यहां देखें पूरी समय सारिणी

Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | – Amar Ujala

About R. News World

Check Also

दिल्ली में कोरोना बेकाबू: केजरीवाल बोले- रद्द हों सीबीएसई की परीक्षाएं, 24 घंटे में रिकॉर्ड 13500 संक्रमित

सार दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह बताया कि बीते 24 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *