Breaking News

यूरोप अनलॉक: एक साल बाद पर्यटकों की मेजबानी को तैयार यूरोप; 20 देश खुलेंगे, कई ने जारी की ट्रैवल गाइडलाइन

  • Hindi News
  • International
  • Europe Ready To Host Tourists After A Year; 20 Countries Will Open, Many Issued Travel Guideline

पेरिस/ब्रसेल्स20 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

मार्च 2020 में पहली बार यूरोपीय संघ के दरवाजे बाहरी दुनिया के लिए काेराेना की वजह से बंद किए गए थे।

  • संक्रमण कम हाेने और टीकाकरण से अमेरिका समेत दुनिया के लिए खुल रहा यूरोप

काेराेना महामारी के चलते पर्यटकाें के लिए बंद रहा यूराेप अब धीरे-धीरे खुल रहा है। करीब एक साल बाद यूराेप में अमेरिका और अन्य देशाें के पर्यटकाें के लिए अनलॉक प्रक्रिया शुरू हो गई है। हालांकि, पर्यटकों को कुछ नियम-कायदाें का ख्याल रखना हाेगा। यूराेप पिछले साल काेराेना महामारी का हाॅटस्पाॅट था।

हालांकि वहां जैसे-जैसे टीकाकरण रफ्तार पकड़ रहा है, महामारी की रफ्तार धीमी पड़ती जा रही है। यहां पर कई देश घूमने पर लागू प्रतिबंधों को हटा चुके हैं या हटा रहे हैं। इनमें से ब्रिटेन तो ज्यादातर आबादी को टीकाकरण के बाद पूरी तरह अनलॉक की स्थिति में है।

सरकार की योजना 21 जून से ब्रिटेन को अनलॉक करने की है। यूराेप के 30 में से 20 देश अनलाॅक हाे रहे हैं। कोरोना की सबसे ज्यादा मार झेलने वाले इटली, स्पेन और फ्रांस में होटल, रेस्त्रां, पर्यटन स्थल और अंतरराष्ट्रीय यात्राओं को नियम-शर्तों के साथ खोला जा रहा है। एक हफ्ते में प्रमुख गतिविधियां शुरू होने की उम्मीद है। गाैरतलब है मार्च 2020 में पहली बार यूरोपीय संघ के दरवाजे बाहरी दुनिया के लिए काेराेना की वजह से बंद किए गए थे।

लोकप्रिय यूरोपीय देशाें में माैजूदा प्रवेश नियमों पर एक नजर

फ्रांस: मान्य टीका लगवा चुके लोगों को ही आने की अनुमति

फ्रांस ने भारत, द. अफ्रीका और ब्राजील सहित 16 देशों के पर्यटकों पर प्रतिबंध लगाया है। टीका लगवाने वालाें काे अनुमति दी है। लेकिन यह ध्यान रखना हाेगा कि टीके ईयू से मंजूर होने चाहिए। फ्रांस की सीमाएं बुधवार से फिर खुल गईं। यूरोप के बाहर और अन्य देशाें के लाेगाें काे आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपाेर्ट के साथ आने की अनुमति दी है।

इटली: कोविड टेस्ट और 10 दिन क्वारेंटाइन अनिवार्य

इटली अमेरिकियों के लिए मई मध्य से ही खुल गया है। हालांकि यहां आने पर 10 दिन क्वारेंटाइन रहने का नियम है। यहां आने से पहले काेविड-19 टेस्ट भी जरूरी है। इटली ने पिछले माह ब्रिटेन और इजरायल के पर्यटकों को भी अनुमति देना शुरू कर दिया। उन्हें काेराेना की निगेटिव रिपाेर्ट बताना होगी, जाे 48 घंटे से अधिक पुरानी नहीं हाे।

ग्रीस: वैक्सीन सर्टिफिकेट और निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी

पर्यटन पर निर्भर ग्रीस ने अप्रैल में अमेरिकी यात्रियों के लिए सीमा खोलना शुरू कर दी थी। अब चीन, ब्रिटेन और 20 अन्य देशों के लाेगाें को भी अनुमति दे दी है। सभी को टीका प्रमाण-पत्र या आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपाेर्ट बतानी होगी। हालांकि यह निर्देश 14 जून को समाप्त हो रहा है, लेकिन इसे बढ़ाया जा सकता है।

स्पेन: टीका लगवा चुके लोगों को ही एंट्री, भारतीयों पर पाबंदी

स्पेन ने सोमवार को अमेरिका व अधिकांश देशों के टीका लगवा चुके लाेगाें को आने की अनुमति दी है। डब्ल्यूएचओ से मंजूर और चीन के दाे टीके लगवाने वालाें काे भी अनुमति है। भारत, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका से आने वालाें पर प्रतिबंध अभी लागू है। कम जाेखिम वाले देशाें के पर्यटकाें काे भी आने की छूट दी गई है।

ब्रिटेन: 10 दिन का आइसोलेशन अनिवार्य, उड़ान को लेकर चर्चा

फिलहाल ब्रिटेन में गिने-चुने अमेरिकी पर्यटक हैं। विदेशियों के लिए 10 दिन का आइसाेलेशन जरूरी है। अमेरिका से उड़ान सेवा शुरू करने काे लेकर चर्चा जारी है। पीएम बाेरिस जाॅनसन अमेरिकी राष्ट्रपति जाे बाइडेन से जी-7 की बैठक के दाैरान चर्चा कर सकते हैं। हालांकि डेल्टा स्वरूप के कारण सावधानी बरती जा रही है।

ईयू: डिजिटल ट्रैवल सर्टिफिकेट पर काम जारी, कुछ देशों में शुरू

यूरोपीय संघ की कोई काेविड पर्यटन नीति नहीं है। लेकिन यह उन लोगों के लिए संयुक्त डिजिटल यात्रा प्रमाण-पत्र पर काम कर रहा है, जिनका टीकाकरण किया गया है। स्पेन, जर्मनी, ग्रीस, बुल्गारिया, क्रोएशिया, चेक गणराज्य, डेनमार्क और पोलैंड ने संयुक्त डिजिटल यात्रा प्रमाण-पत्र प्रणाली का उपयोग शुरू कर दिया है।

खबरें और भी हैं…

विदेश | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

अफगानिस्तान के भीतर खतरे में हजारा कबाइली: स्कूल हाे या खेल का मैदान, यहां तक कि जन्म के समय भी मारे जा रहे हजारा लाेग

काबुल4 घंटे पहले कॉपी लिंक काबुल में बीते 48 घंटों में यह चौथी बस थी, …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *