Breaking News

रीवा में पुश्तैनी मकान ढहा: पूर्व महापौर के भाई का जर्जर मकान धराशाई, पति-पत्नी समेत 6 साल की मासूम मलबे में दबी, 1 घंटे के बाद SDERF ने सुरक्षित निकाला

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Satna
  • The Dilapidated House Of The Brother Of The Former Mayor Of Rewa Collapsed, 6 year old Innocent Girl Including Husband And Wife Injured

रीवा32 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • सिटी कोतवाली थाना अंतर्गत कटरा मोहल्ले में स्थित है मकान

शहर के सिटी कोतवाली थाना अंतर्गत कटरा मोहल्ले में रीवा के पूर्व महापौर के भाई का जर्जर मकान धराशाई हो गया है। बताया गया कि जिस समय पुश्तैनी मकान ढहा है। उस दौरान पति-पत्नी समेत 6 साल की मासूम छत के नीचे ही बैठे थे। तभी अचानक से जर्जन मकान गिर गया। हादसे की आवाज सुनकर परिवार के अन्य लोग अंदर दौड़े तो पूर्व महापौर के भाई चींख पुकार रहे थे।

साथ ही वे परिवार सहित मलबे में फंसे हुए थे। ऐसे में आनन फानन में पुलिस ​सहित SDERF की टीम व होमगार्ड को सूचना दी गई। जानकारी के बाद पहुंचे SDERF के जवानों ने रेस्क्यू कर तीनों को बाहर निकालकर संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद छुटटी दे दी गई है।

सिटी कोतवाली निरीक्षक एपी सिंह ने बताया कि शुक्रवार की शाम करीब 6 से 7 बजे के बीच पूर्व महापौर के भाई का परिवार अपने पुश्तैनी मकान के अंदर बैठे थे। तभी अचानक से जर्जर मकान धराशाई हो गया। हादसे में रमाशंकर ताम्रकार पिता रघुनंदन प्रसाद 45 वर्ष, रागिनी ताम्रकार पति रमाशंकर 40 वर्ष, आस्था ताम्रकार पिता रामाशंकर 6 वर्ष मलबे में दब गए। घर गिरने की तेज आवाज सुनकर परिवार के अन्य सदस्य मौके पर भाग कर पहुंचे तो पूरा मकान ढहा पड़ा था। जबकि पूर्व महापौर के भाई कहीं दिख नहीं रहे थे। सिर्फ उनकी चीखें सुनाई दे रही थी। ऐसे में परिवार के अन्य सदस्य डायल 100 सहित सिटी कोतवाली पुलिस को सूचना भेजी थी।

1 घंटे में पूरा हुआ रेस्क्यू ऑपरेशन
बड़े हादसे की सूचना के बाद सिटी कोतवाली का पुलिस अमला 7.30 बजे मौके पर पहुंचा। साथ ही आनन फानन में SDERF की टीम व होमगार्ड के जवानों को रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए बुलाया गया। जहां पर SDERF के जवानों ने एक घंटे की मशक्कत के बाद 8.30 बजे तीनों को सुरक्षित निकाल लिए है। हादसे में पूर्व महापौर के भाई का परिवार बाल बाल बच गया है। लेकिन शरीर में कई जगह कंक्रीट की चपेट लगने से तीनों को संजय गांधी अस्पताल एंबुलेंस से ले जाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद तीनों को छुटटी दे दी गई है। घायल दम्पत्ति पूर्व महापौर राजेंद्र ताम्रकार के भाई-बहु और भतीजी है।

खबरें और भी हैं…

मध्य प्रदेश | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

टल रहा हज सफर, कमेटी हो रही करोड़पति: हज प्रोसेसिंग फीस के नाम पर पिछले साल जुटाए थे साढ़े 13 करोड़, इस बार भी 65 हजार आवेदनों से मिल चुके हैं करोड़ों रुपए

Hindi News Local Mp Bhopal In The Name Of Haj Processing Fee, 13 And A …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *