Breaking News

विरोध प्रदर्शन: एक साल से नहीं दिया हाेटल प्रबंधक ने मजदूराें काे वेतन, यूनियन ने दिया धरना

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शिमला13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

धरना प्रदर्शन करते हिमाचल होटल मजदूर लाल झंडा यूनियन के सदस्य।

हिमाचल होटल मजदूर लाल झंडा यूनियन संबंधित सीटू के बैनर तले खलीणी स्थित निजी होटल प्रबंधन के खिलाफ मजदूरों ने होटल परिसर में विरोध प्रदर्शन किया। यूनियन ने चेताया है कि अगर होटल प्रबंधन ने शीघ्र ही लंबित वेतन, ईपीएफ व ईएसआई की राशि के भुगतान अाैर वर्ष 2020 में हुए समझौते को लागू न किया तो आंदोलन तेज होगा।

यूनियन के अध्यक्ष बालक राम व महासचिव विनोद बिरसांटा ने कहा है कि होटल प्रबंधन ने 135 मजदूरों का जनवरी 2020 से अप्रैल 2021 तक के वेतन का भुगतान नहीं किया है जोकि वेतन भुगतान अधिनियम 1936 का सीधा उल्लंघन है। इससे मजदूरों को अपने परिवार का पालन-पोषण करना मुश्किल हो गया है।

पिछले सोलह महीने से मजदूर बिना वेतन के गुजर-बसर कर रहे हैं परंतु श्रम विभाग खामोश है। प्रबंधन ने मजदूरों का ईपीएफ और ईएसआई का पैसा मार्च 2014 से मजदूरों से काटा है परंतु इसे ईपीएफ व ईएसआई विभाग में जमा नहीं किया है।

इस संदर्भ में बार-बार शिकायतें करने के बावजूद ईपीएफ व ईएसआई विभाग की ओर से कोई कार्रवाई नहीं हुई है। यूनियन ने सरकार से मांग उठाई कि होटल प्रबंधन के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाए ताकि मजदूरों को न्याय मिल सके।

प्रदर्शन में सीटू जिला सचिव बाबू राम, यूनियन अध्यक्ष बालक राम, ईस्टबोर्न इकाई अध्यक्ष दुष्यंत कुमार, महासचिव कपिल नेगी, रजनीश कुमार, मनोहर शर्मा, कमलेश,विद्यादत्त, सनी, विक्रम शर्मा, ललित, ज्योति, बलवंत मेहता इत्यादि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं…

हिमाचल | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

नियम में बदलाव: दूसरी डोज का समय बढ़ा, ट्रांसपोर्ट की कमी से भी घटी कोरोना वैक्सीनेशन की रफ्तार

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप शिमला9 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *