Breaking News

संक्रमण से राहत मिली: चंडीगढ़ में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमित 66 मरीज मिले, 2 की मौत, केस कम होने पर ऑक्सीजन प्लांट पर लगाई सिक्योरिटी भी वापस ली

  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • In Chandigarh, 66 Corona Infected Patients Were Found In The Last 24 Hours, 2 Died, The Security Imposed On The Oxygen Plant Was Also Withdrawn When The Cases Were Reduced.

चंडीगढ़14 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

शहर में रोजाना 2 हजार से ज्यादा लोग वैक्सीन लगवा रहे है। शहर में अब संक्रमण प्रभाव कम हो रहा। फाइल फोटो

  • शहर में आज तक कोरोना संक्रमण से 783 मरीजों की मौत हुई, शहर में अभी 581 एक्टिव मरीज

शहर में कोरोना संक्रमण का प्रभाव कम होने से अब प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने राहत की सांस ली है। शहर में अब रोजाना संक्रमित मरीजों की संख्या 100 से कम आने लगी है। शहर में पिछले 24 घंटों के दौरान 66 नए मरीज मिले है जबकि 2 मरीजों की मौत हुई है। इस समय शहर में 581 कोरोना के एक्टिव मरीज है। रोजाना 100 से ज्यादा मरीज ठीक होेकर अपने घरों को जा रहे है। शहर में आज तक 60 हजार 928 पॉजिटिव मरीज सामने आए है जिनमें से 59 हजार 564 मरीज ठीक हो गए है। संक्रमित 783 मरीजों की आज तक मौत हो गई है।

सिक्योरिटी हटाई गई

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर जब पीक पर थी तो ऑक्सीजन गैस की मांग काफी बढ़ गई थी। शहर में जहां पर ऑक्सीजन प्लांट थे वहां पर पुलिस का पहरा लगा दिया गया था। शहर में अब कोरोना के मामले कम होने के बाद प्रशासन ने ऑक्सीजन सप्लाई के लिए लगाई गई सिक्योरिटी भी वापस ले ली है। दरअसल अप्रैल में ऑक्सीजन की ज्यादा जरूरत थी। ऐसे में सप्लाई किसी भी वजह से प्रभावित न हो इसके लिए प्रशासन ने ऑक्सीजन प्लांट और सिलेंडर रीफ़िल करने वाले प्लांट पर पुलिस सिक्योरिटी लगा दी थी। बद्दी से आने वाले ऑक्सीजन टैंकर के साथ एस्कॉर्ट का खास इंतजाम किया गया था। अब प्रशासन ने इसे वापस ले लिया है। जिन अफसरों की ड्यूटी अलग-अलग प्लांट में लगाई गई थी उन्हें अपने डिपार्टमेंट में वापस बुला लिया गया है।

शहर को मिल रहा 20 मीट्रिक टन

केंद्र सरकार ने चंडीगढ़ के लिए 20 मीट्रिक टन का कोटा तय किया था। एक दौर ऐसा भी था जब चंडीगढ़ में भी मेडिकल ऑक्सीजन की कमी होने लगी थी और इस कोटे से प्राइवेट हाॅस्पिटलों और सरकारी हाॅस्पिटलों का ही गुजारा हो रहा था। जो मिनी कोविड केयर सेंटर बनाए गए थे उनको अपने लिए खुद ही ऑक्सीजन का इंतजाम करने के निर्देश जारी किए गए थे।

शहर में बनाए कोविड केयर सेंटर में खाली पड़े बेड

शहर में बनाए गए कोविड केयर सेंटरों में अब संक्रमण का प्रभाव कम होने से काफी संख्या में बेड खाली हो गए है। इसके अलावा सरकारी अस्पतालों में भी बेड खाली हो गए है। शहर में बनाए गए कई कोविड केयर सेंटर तो ऐसे है कि जिनमें 100 बेड है उनमें केवल 2 मरीज दाखिल है और सेंटर के 98 बेड खाली है। पंजाब यूनिवर्सिटी के इंटरनेशनल हॉस्टल में बनाए गए सेंटर में ऐसी ही हालत है। इसी तरह शहर के सरकारी अस्पताल पीजीआई में 373 बेड है जिनमें से 98 पर मरीज है और 275 बेड खाली पड़े है। एक अस्पताल में तो कोई भी मरीज दाखिल नहीं है।

अस्पताल के नाम ऑक्सीजन बेड की संख्या दाखिल मरीज खाली बेड
पीजीआई 373 98 275
जीएमसीएच 32 97 54 43
जीएमएसएच-16 242 50 192
सीएच-45 42 0 42
पंजाब यूनिवर्सिटी हॉस्टल 100 2 98

खबरें और भी हैं…

चंडीगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

शहर के डंपिंग ग्राउंड से लोग परेशान: चंडीगढ़ में तेज बारिश के कारण डंपिंग ग्राउंड की दीवार टूटी, आसपास रहने वालों ने रोष प्रदर्शन किया

Hindi News Local Chandigarh Due To Heavy Rains In Chandigarh, The Wall Of The Dumping …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *