Breaking News

सोना लूट: पौने 4 माह की जांच के बाद पुलिस के हाथ लगी सबसे कमजोर कड़ी, मास्टरमाइंड अब भी है गिरफ्त से बाहर

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • After Four And A Half Months Of Investigation, The Weakest Link In The Hands Of The Police, The Mastermind Is Still Out Of Custody

भागलपुर43 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

90 लाख के सोना लूट मामले में पौने चार माह की जांच के बाद पुलिस को सबसे कमजोर कड़ी हाथ लगी है। इस मामले का मास्टरमाइंड मोअज्जमचक का अालम अब तक नहीं पकड़ा गया है। लूट का सोना उसी के पास है। पुलिस ने उसके 2 सहयोगी को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। लेकिन उन दोनों से पुलिस को आलम या लूटे गए सोने के बारे में कुछ जानकारी नहीं मिल पाई। पौने 4 माह की पुलिस की जांच का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि लूट में प्रयुक्त बाइक भी बरामद नहीं हो पाई। अगर बाइक बरामद होती तो वह एक सबूत हो सकता था।

क्योंकि कई सीसीटीवी कैमरे में लुटेरों का भागते हुए गतिविधि कैद हुअा है। सोना बरामद नहीं होने से दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद भी पुलिस पर सवाल उठ रहा है। जेल भेजे गए एक आरोपी शहजादा उर्फ सनखी का कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है। वह घूम-घूम कर कपड़ा फेरी करता है। हालांकि जेल गया दूसरा आरोपी सत्यम उर्फ कारे चोरी की बाइक बरामदगी मामले में पहले जेल जा चुका है। अब तक पुलिस यह साबित नहीं कर पाई है कि बिहपुर के सोनवर्षा गांव निवासी सत्यम से मोअज्जमचक के आलम का कैसे संपर्क हुआ।

खबरें और भी हैं…

बिहार | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

बेलगाम बस: अनुबंध निगम से, पर 700 रुपए रोज न देना पड़े, इसलिए ऑपरेटर बेगूसराय की बसें नहीं ले जा रहे सरकारी स्टैंड

Hindi News Local Bihar Bhagalpur From The Contract Corporation, But Do Not Have To Pay …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *