Breaking News

GST काउंसिल की बैठक 12 को: कोविड से जुड़े जरूरी सामान पर टैक्स की दरों में कटौती की उम्मीद, ब्लैक फंगस की दवाओं पर भी होगा फैसला

  • Hindi News
  • Business
  • Covid Relief Material, GST Council To Meet On June 12 To Discuss Tax Cut On COVID Essentials

नई दिल्ली15 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

28 मई को हुई जीएसटी काउंसिल की बैठक में कोविड से जुड़े सामान पर टैक्स कटौती को लेकर कोई फैसला नहीं हो पाया था। – फाइल फोटो

  • 8 मंत्रियों के समूह की रिपोर्ट पर विचार के बाद होगा फैसला
  • 28 मई की बैठक में टैक्स को लेकर फैसला नहीं हो पाया था

वस्तु एवं सेवा कर (GST) से जुड़े सभी जरूरी फैसले लेने वाली काउंसिल यानी जीएसटी काउंसिल की बैठक 12 जून को होने जा रही है। इस बैठक में कोविड से जुड़े जरूरी सामान और ब्लैक फंगस की दवा पर टैक्स की दरों में कटौती पर फैसला होने की उम्मीद है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी है।

पिछली बैठक में मंत्री समूह बनाने का हुआ था फैसला

इससे पहले 28 मई को जीएसटी काउंसिल की बैठक हुई थी। इस बैठक में पीपीई किट, मास्क और वैक्सीन जैसे कोविड से जुड़े जरूरी सामान पर टैक्स की दरें तय करने के लिए मंत्रियों का समूह (GoM) बनाने का फैसला हुआ था। इससे अगले ही दिन यानी 29 मई को 8 मंत्रियों के समूह का गठन कर दिया गया था। मेघालय के सीएम कोनराड संगमा को इस मंत्री समूह का कन्वीनर बनाया गया था। मंत्री समूह को 7 जून को अपनी रिपोर्ट जमा करनी थी।

कई राज्यों के वित्त मंत्रियों ने की टैक्स कटौती की वकालत

अधिकारियों के मुताबिक, जीएसटी काउंसिल की बैठक 12 जून को होगी। इसमें मंत्री समूह की रिपोर्ट के आधार पर टैक्स में कटौती पर विचार किया जाएगा। मंत्री समूह में शामिल कई राज्यों के वित्त मंत्रियों ने कोविड से जुड़े जरूरी सामान पर टैक्स की दरों में कटौती की वकालत की है। मंत्री समूह के सदस्य और उत्तर प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने बुधवार को कहा कि वे मरीजों की सुविधा के लिए कोविड से जुड़े सामान पर टैक्स कटौती के पक्ष में हैं। लेकिन टैक्स रेट को लेकर जीएसटी काउंसिल का फैसला स्वीकार होगा।

इन वस्तुओं पर टैक्स में कटौती की संभावना

जिन सामानों पर टैक्स में कटौती या छूट दी जा सकती है उनमें मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन, पल्स ऑक्सीमीटर, हैंड सैनेटाइजर, ऑक्सीजन थैरेपी में इस्तेमाल होने वाले उपकरण जैसे कंसंट्रेटर, वेंटिलेटर, पीपीई किट, N-95 और सर्जिकल मास्क, तापमान मापने वाले उपकरण शामिल हैं। इसके अलावा मंत्री समूह को कोविड की वैक्सीन, कोविड के उपचार में इस्तेमाल होने वाले ड्रग-मेडिसिन और कोविड की जांच में इस्तेमाल होने वाली टेस्टिंग किट पर टैक्स की दरों को लेकर भी रिपोर्ट देनी थी।

अभी दवाओं पर टैक्स की दर

मौजूदा समय में घरेलू स्तर पर बनाई जा रही कोविड वैक्सीन पर 5% जीएसटी वसूला जा रहा है। वहीं, कोविड से जुड़ी दवाओं और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पर 12% जीएसटी लग रहा है। विपक्षी दलों, सामाजिक संगठनों समेत आम लोग कोविड से जुड़ी दवाओं और अन्य उपकरणों पर जीएसटी दरों में कमी करने की मांग कर रहे हैं। ताकि आम लोगों को कोविड की दवाएं सस्ती दर पर मिल सकें।

खबरें और भी हैं…

बिजनेस | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

चिकन की खपत ज्यादा होगी: 2025 तक एक तिहाई एवरेज फूड बजट चिकन-मटन का होगा, घट सकता है ब्रेड, चावल और दूसरे अनाजों पर होने वाला खर्च

Hindi News Business Economy By 2025, One third Of The Average Food Budget Will Be …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *