Breaking News

IIT कानपुर की रैंकिंग सुधरी: पिछले साल के मुकाबले IIT कानपुर को 73 रैंक की उछाल मिली, कई संस्थानों को पीछे छोड़ा

कानपुर7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आईआईटी कानुपर की रैंकिंग में सुधार आया है।

  • – आईआईटी कानपुर ने आईआईटी खड़कपुर,आईआईटी गुवाहाटी,आईआईटी रुड़की को पीछे छोड़ा

स्टार्टअप, शिक्षा और शोध के मामले में दुनिया भर में अपना नाम करने वाले आईआईटी कानपुर को क्यूएस एशिया यूनिवर्सिटी रैंकिंग में 277 स्थान मिला है। पिछले साल 350 वे नंबर पर आने वाले आईआईटी कानपुर की देश में भी रैंक सुधरी है। पिछले साल इसकी छठवीं रैंकिंग थी, लेकिन इस बार आईआईटी पांचवें स्थान पर पहुंच गया है।

आपको बता दें क्वाक्यूरेली साइमंड्स ग्लोबल हायर एजुकेशन हर वर्ष क्यूएस वर्ल्ड रैंकिंग जारी करता है। यह दुनिया का सबसे बड़ा हायर एजुकेशन नेटवर्क है जो शैक्षणिक गतिविधियां, शोध कार्य राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सेमिनार और छात्र शिक्षक अनुपात के आधार पर संस्थानों की ,क्यू एस रैंकिंग जारी होती है।

आईआईटी कानपुर शोध कार्य, स्टार्टअप राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन करता रहता है। कोरोना महामारी के दौरान आईआईटी कानपुर ने देश को तकनीक रूप से समृद्ध किया और दुनिया भर में अपनी छाप छोड़ी। तभी इस बार पिछले साल के मुकाबले आईआईटी कानपुर को 73 रैंक की उछाल मिली है। 350 रैंक से सीधे से 277 रैंक मिली है।

वहीं, हर साल की तरह इस बार भी क्यू एस इंडिया रैंकिंग में आईआईटी मुंबई को पहला स्थान मिला है। आईआईटी खड़कपुर,आईआईटी गुवाहाटी,आईआईटी रुड़की भी आईआईटी कानपुर से पिछड़ गए हैं। संस्थान की इस उपलब्धि पर निदेशक प्रोफेसर अभय करंदीकर ने सभी को बधाई दी हैं।

देश के संस्थान और विश्वविद्यालयों की विश्ववार रैंकिंग

संस्थान/विश्वविद्यालय/ रैंकिंग

आईआईटी बंबई 177

आईआईटी दिल्ली 185

आईआईएससी बेंगलुरु 186

आईआईटी मद्रास 255

आईआईटी कानपुर 277

आईआईटी खड़गपुर 280

आईआईटी गुवाहाटी 395

आईआईटी रुड़की 400

खबरें और भी हैं…

उत्तरप्रदेश | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

वाराणसी के छात्रों के लिए अच्छी खबर: IGNOU में नए सत्र में दाखिला लेने के लिए 15 जुलाई तक कर सकते हैं आवेदन, अधिक जानकारी के चेक करे वेबसाइट

वाराणसी18 मिनट पहले कॉपी लिंक शनिवार को ऑनलाइन प्रवेश की प्रक्रिया के संबंध में जानकारी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *