Breaking News

अनदेखी: गमाडा-निगम के गांवों में जारी हैं अवैध निर्माण, बिना परमिशन बन रही इमारतें

मोहाली20 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

मोहाली के आसपास के गांवों में बिना परमीशन बिल्डिंग बन रही है।

  • इलाकों में कभी-कभी गमाडा की ओर से कार्रवाई की जाती हैं

मोहाली शहर के साथ सटे गांवों में लोगों की ओर से धड़ल्ले से अवैध निर्माण किए जा रहे हैं और बिना किसी विभाग के परमिशन लिए बहुमंजिला इमारतें बनाई जा रही हैं। ऐसे में ना सिर्फ नियमों को ताक पर रखकर काम किया जा रहा है बल्कि एरिया में पार्किंग तथा अन्य कई प्रकार की समस्याएं भी पैदा हो रही हैं।

हालांकि गमाडा के रेगुलेटरी विंग की ओर पिछले कुछ दिनों में मोहाली के साथ सटे गांवों में बनाई जा रही अवैध कालोनियों पर तो कार्रवाई की गई और वहां पर अवैध निर्माण भी कई गिराए हैं, लेकिन जो गांव पूरी तरह से विकसित हो चुके हैं वहां पर बनने वाले अवैध निर्माणों की ओर से किसी का कोई ध्यान नहीं है। इसलिए वहां पर लोगों की ओर से अपनी मनमर्जी से ही बिना परमिशन अवैध निर्माण बनाए जा रहे हैं।

पैरीफेरी में जमकर हो रहा अवैध निर्माण

गमाडा का रेगुलेटरी विंग भले ही छोटी कार्रवाई कर अपनी पीठ थपथपाता हो, लेकिन अवैध निर्माण धड़ल्ले से जारी है। बलौंगी में बिना परमिशन बड़ी इमारतें बन रही हैं। बलौंगी-खरड़ रोड पर एक के बाद एक दुकानें बन रही हैं। इसके साथ ही खरड़ कुराली रोड पर खेतों में अवैध कॉलोनियां काटी जा रही हैं।

रयात एंड बाहरा कॉलेज के आसपास ऐसी कई कॉलोनियां दिख रही है। गमाडा के रेगुलेटरी विंग के स्टॉफ की लापरवाही के चलते यह निर्माण हो रहे हैं। कुराली-खरड़ मार्ग पर तो कई बड़े होटल भी बनकर तैयार हो गए हैं। जिन पर कार्रवाई करना अब गमाडा के लिए टेढ़ी खीर साबित होगा।

अवैध निर्माण के दौरान बड़ा हादसा होने से टला

गत दिनों बलौंगी में बिना परमिशन बनाई जा रही बहुमंजिला इमारत की शटरिंग की प्लेट बिजली की तारों पर जा गिरी थी। जिससे की पूरे एरिया की बिजली की सप्लाई प्रभावित हो गई। इस बारे में जानकारी देते हुए गांव निवासी एवं कांग्रेसी नेता मनजीत सिंह ने बताया कि बिजली की सप्लाई प्रभावित होने के साथ एरिया में पानी की सप्लाई भी प्रभावित हो गई थी और लोगाें को बिजली तथा पानी दोनों ही समस्या का सामना करना पड़ा था।

उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से बिजली की लाइनों पर लोहे की शटरिंग की प्लेट गिरी थी उससे कोई बड़ा हादसा हो सकता था। उन्होंने कहा इस प्रकार के निर्माण पर पाबंदी लगनी चाहिए।

खबरें और भी हैं…

चंडीगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

SI और महिला कांस्टेबल के लिए फिजिकल वेरिफिकेशन: आज से; तकनीकी खामी से नहीं भरे जा सके कई कैंडिडेट के फार्म, घबराने की जरूरत नहीं

यमुनानगर2 घंटे पहले कॉपी लिंक हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (HSSC) के चेयरमैन भोपाल सिंह खदरी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *