Breaking News

अनदेखी: 6 महीने में पूरा होना था वन स्टॉप सेंटर, 2 साल बाद भी अधूरा

लुधियाना36 मिनट पहलेलेखक: रागिनी कौशल

  • कॉपी लिंक
  • जालंधर में जनवरी 2020 को ही सेंटर हो चुका तैयार, लुधियाना में मदर चाइल्ड हॉस्पिटल के कमरे में चल रहा

सूबे का सबसे बड़ा जिला लेकिन महिलाओं की शारीरिक और मानसिक परेशानियों के हल के लिए वन स्टॉप सेंटर की बिल्डिंग तक तैयार नहीं हो सकी है। जबकि दावा 6 महीने में बिल्डिंग तैयार होने का किया गया था। 14 अगस्त, 2019 को बिल्डिंग का नींव पत्थर रखने के बाद सरकार द्वारा वाह-वाही तो ले ली गई कि महिलाओं को अपनी समस्याओं के हल के लिए दर-दर नहीं भटकना होगा। लेकिन सिस्टम की दुर्दशा ऐसी है कि जुलाई, 2021 तक भी बिल्डिंग नहीं मिली है।

ऐसे में वन स्टॉप सेंटर सिविल हॉस्पिटल लुधियाना के मदर चाइल्ड हॉस्पिटल में एक कमरे में चल रहा है। लुधियाना जैसे बड़े जिले को जालंधर से ही सीख ले लेनी चाहिए। जहां पर तय तारिख के अनुसार जनवरी, 2020 में ही सेंटर की शुरुआत हो गई। लेकिन लुधियाना में अफसरों द्वारा कभी कोविड महामारी, कभी लेबर के चले जाने, कभी अन्य टेक्नीकल कारणों का हवाला देकर देरी होने की बात कही जा रही है। लुधियाना में इस प्रोजेक्ट के लिए 45.5 लाख का फंड जारी किया गया था।

डीसी ने मीटिंग में काम तेज करने के दिए थे आदेश, 24 घंटे चलना है सेंटर
दिसंबर, 2020 में आयोजित जिला स्तर की मीटिंग में डीसी ने वन स्टॉप सेंटर की बिल्डिंग के काम को तेजी से खत्म करने के आदेश दिए थे। जिसके बाद मार्च में बिल्डिंग मुकम्मल होने की बात कही थी। दिसंबर, 2019 में नींव पत्थर रखने के 6 महीने बाद बिल्डिंग बनने का काम शुरु हुआ था। वन स्टॉप सेंटर में किसी भी तरह की घरेलू हिसांस, शारीरिक व मानसिक प्रताड़ना झेल रही महिलाओं व लड़कियों को एक ही जगह पर डॉक्टर, पुलिस, साइकोलॉजिस्ट, वकील की सुविधा मुफ्त में मिलती है। ताकि महिलाओं को एक थाने से दूसरे थाने में अपनी शिकायत लिखवाने के लिए न जाना पड़े।

फिलहाल सिविल हॉस्पिटल में मदर चाइल्ड हॉस्पिटल में चल रहे सेंटर में हॉस्पिटल के टाइमिंग के अनुसार ही काम चल रहा है। जहां महिलाएं आकर अपनी समस्याएं बता देती हैं और मेंबर्स द्वारा उनका हल कर दिया जाता है। नियमों के अनुसार ये सेंटर 24 घंटे चलना है। जहां पर किसी भी समय महिला आकर अपनी समस्या बता सकती है। वहीं, अगर महिला के पास आश्रय नहीं है तो उसके रहने के लिए प्रबंध होगा।

इसी महीने बन कर हो जाएगा तैयार
इस सेंटर की बिल्डिंग का काम चल रहा है। इसी महीने इसके बन कर तैयार हो जाने की संभावना है। पहले लेबर के चले जाने के कारण इस बिल्डिंग का काम पूरा होने में समय लग गया।
– गुलभार सिंह, डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम अफसर

खबरें और भी हैं…

पंजाब | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

अमृतसर में युवक को निर्वस्त्र करके पीटा: झगड़े के बाद 5 युवकों ने नौजवान को पहले बंदी बनाया और मानव मूत्र पिलाया, थप्पड़ मारते हुए वीडियो बनाई

Hindi News Local Punjab In Amritsar, Five Boys Tortured A Man, Beat Up Him Nude …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *