Breaking News

अनलॉक की तरफ बढ़ी हरियाणा सरकार: बदल दिया स्कूलों का समय; 8:30 से दोपहर 12:30 तक लगेंगी कक्षाएं, रोस्टर प्रणाली खत्म सभी को आना होगा

चंडीगढ़3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

स्कूलों के समय में बदलाव मुख्यमंत्री दूरवर्ती शिक्षा कार्यक्रम के मद्देनजर किया गया है।

हरियाणा सरकार ने अनलॉक की दिशा में आगे बढ़ते हुए शिक्षा को ट्रैक पर लाना शुरू कर दिया है। इसके तहत मंगलवार को सरकार ने स्कूलों के समय में बदलाव करने के आदेश जारी कर दिए। अब सुबह 8:30 बजे से दोपहर बाद 12:30 बजे तक कक्षाएं लगेंगी। स्कूलों के समय में बदलाव मुख्यमंत्री दूरवर्ती शिक्षा कार्यक्रम के मद्देनजर किया गया है। शिक्षा निदेशालय ने इस पर अमल करने के लिए सभी जिला शिक्षा, मौलिक शिक्षा, खंड शिक्षा, खंड मौलिक शिक्षा अधिकारियों, स्कूल मुखिया व प्रभारियों को पत्र लिखा है। यह आदेश 22 जून से ही लागू माने जाएंगे।

इसके अलावा सभी शिक्षक अपने स्कूल मुखिया के मार्गदर्शन में दाखिला व अन्य सभी कार्य स्कूल प्रबंधन समिति की सहायता से पूरा करेंगे। स्कूल शिक्षा विभाग ने यह भी निर्णय लिया है कि अवसर मोबाइल ऐप, जियो टीवी मोबाइल ऐप व दिल्ली दूरदर्शन के ई-विद्या चैनल पर पहली से 12वीं तक के प्रसारित होने वाले कार्यक्रम और एजुसेट पर कक्षा व विषयवार प्रसारित होने वाले कार्यक्रमों का अवलोकन भी शिक्षक करेंगे। इसके बाद वे अपनी कक्षा के बच्चों को विषयवार दिशा निर्देश देंगे।

गर्भवती हो या दिव्यांग, अब सभी स्कूल आएंगे

हरियाणा स्कूल शिक्षा विभाग ने स्कूलों में स्टाफ के लिए लागू रोस्टर प्रणाली भी खत्म कर दी है। अब सभी शैक्षणिक और गैर-शैक्षणिक कर्मचारियों को स्कूल आना होगा। दिव्यांग, गर्भवती महिला व गंभीर बीमारियों से पीड़ित स्टाफ को भी कोई छूट नहीं मिलेगी। उन्हें भी स्कूलों में उपस्थित होने का निर्देश जारी कर दिया गया है। शिक्षकों को ऑनलाइन पढ़ाई के अलावा स्कूलों में बच्चों का दाखिला प्रतिशत भी बढ़ाना होगा। इसके लिए शिक्षक अपने-अपने क्षेत्र के गण्यमान्य लोगों व बच्चों के अभिभावकों से संपर्क करेंगे। उनसे आग्रह किया जाएगा कि अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में दाखिल करवाएं।

इसके साथ ही सरकारी स्कूल छोड़ने वाले बच्चों के अभिभावकों से भी संपर्क करके अपडेट लेंगे, ताकि पता चले कि बच्चे ने कहीं और दाखिला लिया है या पढ़ाई ही छोड़ दी है। शिक्षक स्कूल छोड़ने वाले बच्चों व उनके अभिभावकों को दोबारा दाखिला लेने के लिए भी प्रेरित करेंगे। इस कार्य की रोजाना रिपोर्ट स्कूल मुखिया को सौंपनी होगी। स्कूल मुखिया इसे जिला शिक्षा व मौलिक शिक्षा अधिकारियों को भेजेंगे, जिसमें पूरी जानकारी रहेगी कि कितने दाखिले करवाए, कितने अभिभावकों से संपर्क किया। बच्चों के स्कूल छोड़ने का कारण क्या रहा।

खबरें और भी हैं…

हरियाणा | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

पूछताछ में खुलासा: इंटर स्टेट साइबर फ्राॅड गैंग का गुर्गा गिरफ्तार, एटीएम कार्ड बदलकर फर्जी जनरल स्टाेर के नाम पर ली स्वाइप मशीन से करते थे खाते खाली

Hindi News Local Haryana Hisar Bhiwani Inter state Cyber Fraud Gang’s Henchman Arrested, Used To …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *