Breaking News

अब बच्चों की पढ़ाई नहीं होगी प्रभावित: एससीईआरटी ने ई बुक्स तैयार कर भेजी स्कूलों को, ऑनलाइन बच्चे कर सकेंगे पढ़ाई

फरीदाबाद2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पलवल। जिला शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार बघेल के अनुसार एससीईआरटी ने ई-किताब का पीडीएफ लिंक जारी किया है।

जिले के सरकारी स्कूलों में अब बच्चों को पढ़ाई में किताबों की कमी महसूस नहीं होगी। क्योंकि एससीईआरटी ने पढ़ाई का खाका तैयार कर लिया है। कोरोना महामारी के कारण अभी तक सरकारी स्कूलों में नया सत्र शुरू नहीं हुआ है, क्योंकि बच्चों को किताबें उपलब्ध नहीं हो सकी थी। लेकिन अब स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई जारी रखने के लिए स्टेट काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (एससीईआरटी), गुडगांव ने ई बुक्स तैयार की हैं। जिसकी पीडीएफ फाइल बनाकर जिले के स्कूलों को भेजी गई है।

जिला शिक्षा अधिकारी व जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी को इस संदर्भ में नोटिफिकेशन जारी कर दिया गया है। कोरोना संक्रमण के चलते शिक्षा विभाग ने छुट्टियों को 30 जून तक बढ़ा दिया है। प्रदेश के शिक्षा मंत्री द्वारा दिए गए बयान से यह स्पष्ट हो गया है कि अभी जल्दी स्कूल नहीं खुलेंगे। सीबीएसई स्कूलों में एक अप्रैल से ऑनलाइन क्लास लेना शुरू कर दिया था, लेकिन सरकारी स्कूलों में किताबें नहीं पहुंचने से नए सत्र की पढ़ाई ठीक से नहीं चल पाई।

ऑनलाइन पढ़ाई कर सकते हैं बच्चे

जिला शिक्षा अधिकारी अशोक कुमार बघेल के अनुसार एससीईआरटी ने ई-किताब का पीडीएफ लिंक जारी किया है। इसे स्कूलों को भेज दिया गया है। इसे इंटरनेट की मदद से मोबाइल में डाउनलोड कर पढ़ाई की जा सकती है।

कैसे शुरू होगी ऑनलाइन पढ़ाई

जिला शिक्षा अधिकारी के अनुसार एप डाउनलोड करने के बाद उसे खोलने पर क्लास की लिस्ट सामने आएगी। उसके बाद विषय अनुसार सामने आ जाएगी। क्लास पर क्लिक करने पर ई-बुक खुल जाएगी। जिस विषय की किताब पढ़नी हो, उस पर क्लिक कीजिए। एससीईआरटी की ओर से पीडीएफ में वीडियो भी अपलोड किए गए हैं। इन वीडियो में विषय अनुसार पाठ्यक्रम शुरू कर दिया गया है।

महामारी के चलते नहीं मिली किताबें

जिला शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल के अनुसार स्कूलों की छुट्टियां हो जाने से शिक्षा अधिनियम के तहत अभी तक बच्चों को किताबें नहीं मिल सकी हैं। जबकि किताबों को शिक्षा विभाग की ओर से प्रकाशित करा लिया गया था, लेकिन वितरण नहीं हो सका। ऐसे में शिक्षा विभाग ने शिक्षकों को आदेश दिए कि पुराने बच्चों से किताबें लेकर नए को दे दी जाएं, ताकि कोरोना के कारण उनकी पढ़ाई प्रभावित न हो।

खबरें और भी हैं…

दिल्ली + एनसीआर | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

लुधियाना में कार नहर में गिरी, 3 दोस्तों की मौत: वेव सिनेमा में आए थे दिल्ली की एक लड़की समेत 4 स्टूडेंट्स, गुरदासपुर में पढ़ते थे; लौटते वक्त दूसरी गाड़ी से बचने की कोशिश में हादसा

Hindi News Local Punjab 3 Friends Died After Falling In Ludhiana Car Canal 4 Students …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *