Breaking News

कई तरह की सुविधाओं से रहे वंचित केयू: केयू के पास 3 महीने बचे, शिक्षकाें की कमी और रिसर्च-इनोवेशन बेहतर ग्रेड में बन सकती है बाधा

जमशेदपुर13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

केयू प्रशासन का लक्ष्य इस बार ए-ग्रेड हासिल करने का है।

काेल्हान विश्वविद्यालय का नैक (नेशनल एक्रिडिटेशन एसेसमेंट काउंसिल) अगले साल हाेनी है। वीसी डाॅ गंगाधर पांडा ने सभी पीजी विभागों काे इसकी तैयारी शुरू करने का निर्देश दिया है, ताकि इस बार विवि काे बेहतर ग्रेड मिल सके। नैक में सिर्फ तीन महीने बचे हैं। पिछली बार केयू काे नैक से सी ग्रेड मिला है।

इस वजह से विवि काे कई प्रकार के फंड नहीं मिल पा रहे हैं। केयू प्रशासन का लक्ष्य इस बार ए-ग्रेड हासिल करने का है। इसकी राह में सबसे बड़ी बाधा शिक्षकाें की कमी है। आधारभूत संरचना, रिसर्च व इनोवेशन की स्थिति भी सही नहीं है।

कुलपति ने सभी पीजी विभागाें काे दिया तैयारी में जुटने का निर्देश

ऐसा है नया पैटर्न
यूजीसी नियमानुसार किसी संस्थान को सर्वाधिक 4 सीजीपीए दिए जा सकते हैं। इसे ध्यान में रखते हुए नैक टीम ग्रेडिंग करेगी। इसमें 3.76 या इससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले संस्थान को ए++, 3.51 से 3.75 के बीच अंक लाने काे ए+, 3.01 से 3.50 अंक वाले काे ए ग्रेड, 2.76 से 3 तक अंक वाले काे बी++, 2.51 से 2.75 अंक वाले काे बी+ तथा 2.01 से 2.50 तक अंक लाने वाले काे बी ग्रेड दिया जाएगा।

काॅलेजाें काे भी कराना हाेगा नैक मूल्यांकन

केयू के सी-ग्रेड कॉलेजों को भी नैक का मूल्यांकन कराना होगा। यूजीसी के नए नियम के अनुसार फंड प्राप्त करने के लिए काॅलेजाें को कम से कम बी-ग्रेड प्राप्त करना अावश्यक है। यूजीसी ने यह प्रावधान शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए किया है।

इन छह बिंदुओं पर मूल्यांकन

कैरियर एक्सपेक्ट, टिचिंग-लर्निंग एंड इवैलुएशन, रिसर्च इनोवेशन एंड एक्सटेंशन, इंफ्रास्ट्रक्चर व लर्निंग रिसाेर्स, स्टूडेंट सपाेर्ट एंड प्राेग्रेशन, गवर्नेंस लीडरशिप एंड मैनेजमेंट, इंस्टीट्यूशनल वैल्यू्ज एंड बेस्ट प्रैक्टिसेज।

शिक्षकाें की कमी दूर करने का प्रयास

अगले साल विवि में नैक हाेना है। इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है। बेहतर ग्रेड के लिए सभी पहलुओं पर काम कर हैं। शिक्षकाें की कमी हमारे लिए एक समस्या है। लेकिन इस कमी काे भी दूर किया जा रहा है। -डाॅ. पीके पाणि, प्रवक्ता, काेल्हान विश्वविद्यालय

खबरें और भी हैं…

झारखंड | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

झारखंड में 20 तक बारिश का अलर्ट: रांची में 24 घंटे में 26.6 मिमी बारिश हुई, 4 डिग्री सेल्सियस गिरा अधिकतम पारा

Hindi News Local Jharkhand Ranchi Latest Weather Update Of Jharkhand; Ranchi Received 26.6 Mm Of …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *