Breaking News

कोरोना का खतरा अभी टला नहीं: दुर्ग जिले में 7 दिनों में मिले 104 नए संक्रमित, 5 की मौत, एक्टिव मरीजों की संख्या 142 हुई; रिकवरी रेट 98 फीसदी पहुंचा

भिलाई9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

भिलाई के पावर हाउस मार्केट का यह नजारा है। जहां लोग ना तो सोशल डिस्टेसिंग का पालन कर रहे है और ना ही मास्क पहन रहे है।

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में पिछले 7 दिनों में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 123 से बढ़कर 142 हो गई है। इस बीच 104 नए मरीज मिले। इससे पहले 13 जुलाई को कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 123 थी। जिले में मंगलवार को 9 नए मरीज मिले और पहले के 12 मरीज रिकवर हो गए है। हालांकि पिछले 30 दिनों में 5 मरीजों की मौत भी हुई है। इसमें 18 जुलाई को 2 और 19 व 20 जुलाई को एक-एक मरीज की जान गई। फिलहाल अभी जिले में रिकवरी रेट करीब 98 प्रतिशत है।

दुर्ग शहर के कसारीडीह में माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। बावजूद लोग बिना रोक टोक के सड़कों पर घूम रहे है।

दुर्ग शहर के कसारीडीह में माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। बावजूद लोग बिना रोक टोक के सड़कों पर घूम रहे है।

जिले में स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम से कोऑर्डिनेशन कर प्रशासन ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित कर रहा है, जहां माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने की जरूरत है। अभी तक जिले में 7 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए जा चुके है। कोरोना की दूसरी लहर के विकराल होने के साथ ही कंटेनमेंट जोन की व्यवस्था खत्म हो गई थी। कंटेनमेंट जोन घोषित करने के बाद प्रशासन संबंधित क्षेत्र को पूरी तरह सील कर देता है। मेडिकल इमरजेंसी के अलावा वहां से बाहर आना और भीतर जाना प्रतिबंधित होता है।

अभी खतरा टला नहीं
CMHO डॉ.गंभीर सिंह ठाकुर ने बताया कि मंगलवार को 9 नए कोरोना मरीज मिले है। पहले मिले 12 मरीजों की रिकवरी हो चुकी है। कुल 3547 सैंपलों की जांच में 9 संक्रमित मिले है। इस लिए संक्रमण दर करीब 0.3 है। लेकिन अभी किसी नए वैरिएंट की संभावना नहीं दिख रही है। लेकिन सभी को कोरोना गाइडलाइन का पालन अनिवार्य करना चाहिए।

खबरें और भी हैं…

छत्तीसगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

अफसरों को निर्देश, नेता जी की सुनिए: कांग्रेस जिलाध्यक्षों ने 10 दिन पहले कहा था कि अफसर उनकी नहीं सुनते; सरकार का निर्देश- जनप्रतिनिधियों से सौहार्दपूर्ण व्यवहार करें

रायपुरएक घंटा पहले कॉपी लिंक सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी सचिवों, विभागाध्यक्षों, संभाग आयुक्तों, कलेक्टरों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *