Breaking News

खोरी में तोड़फोड़ का मामला: पांच हजार मकान, 80 दुकान, 36 धार्मिक स्थल व पांच स्कूल समेत 6500 से अधिक अवैध निर्माणों पर चलेगा बुलडोजर

फरीदाबाद6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

नगर निगम, पुलिस व प्रशासन ने अतिक्रमण हटाने की तैयारी की है।

अरावली वन क्षेत्र में बसी लक्कड़पुर खोरी कॉलोनी में नगर निगम द्वारा ड्रोन सर्वे के बाद स्थिति क्लीयर हो गयी है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर तोड़फोड़ के लिए प्रशासन ने फुल प्रूफ प्लान तैयार कर लिया है। अब कभी भी वहां कार्रवाई शुरू हो सकती है। सूत्रों की मानें तो ड्रोन सर्वे के बाद जो आंकड़े सामने आए हैं उनमें 5000 मकान, 80 दुकान, 36 धार्मिक स्थल समेत 6500 से अधिक अवैध निर्माणों पर बुलडोजर चलेगा। सूत्रों ने ये भी बताया कि यहां करीब 170 एकड़ जमीन पर अवैध कब्जे हैं। निगम व जिला प्रशासन दिल्ली के अधिकारियों से भी संपर्क में हैं और दिल्ली से आने वाली बिजली व पानी की सप्लाई काटने का अनुरोध किया है ताकि लोग खुद मकान खाली कर चले जाएं। लेकिन इस बारे में निगम का कोई अधिकारी बोलने को तैयार नहीं है।

नगर निगम कमिश्नर डॉ गरिमा मित्तल

नगर निगम कमिश्नर डॉ गरिमा मित्तल

दो दिन में सर्वे से तैयार किया गया रिकार्ड

जानकर हैरानी होगी कि 40-50 वर्षों से बसनी शुरू हुई खोरी कॉलाेनी में अवैध निर्माण का कोई रिकार्ड नगर निगम के पास उपलब्ध नहीं था। सुप्रीम कोर्ट में भी निगम ने अंदाजा लगाकर 10 हजार मकान होने की बात कही थी। लेकिन दो दिन तक ड्रोन से कराए गए सर्वे के आधार पर जो स्थिति क्लीयर हुई है उसके अनुसार वहां 6500 से अधिक अवैध निर्माण हुए हैं। अब निगम के पास आधिकारिक डाटा उपलब्ध हो गया है। ड्रोन सर्वे में करीब 800 कच्चे मकानों की भी तस्वीरें सामने आयी है। उधर निगम कमिश्नर डॉ. गरिमा मित्तल का कहना है कि सर्वे पूरा कर लिया है। रिपोर्ट आनी बाकी है। रिपोर्ट के बाद पता चलेगा कि कितने अवैध निर्माण हुए हैं। एक दो दिन में स्थिति क्लीयर हो जाएगी।

सर्वे में ये रिपोर्ट आयी है सामने

मकान 5000

चर्च 01

स्कूल 05

इंडस्ट्री 02

मस्जिद 11

मंदिर 20

खाली प्लाट 800

दुकानें 80

खबरें और भी हैं…

दिल्ली + एनसीआर | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री का आरोप: कैप्टन की नाकामियों पर पर्दा डालने के लिए मोदी सरकार कर रही है प्रयास: सिसोदिया

नई दिल्ली3 घंटे पहले कॉपी लिंक कैप्टन सरकार ने पंजाब में 800 से ज्यादा सरकारी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *