Breaking News

गरमाई राजनीति: छठ पूजा के आयोजन को लेकर सरकार और विपक्ष में घमासान, पर्यावरण मंत्री ने कहा- भाजपा को कभी पूर्वांचल वालों की चिंता नहीं रही

  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • There Is A Tussle Between The Government And The Opposition Over The Organization Of Chhath Puja, Environment Minister Said – BJP Has Never Been Worried About The People Of Purvanchal

नई दिल्लीएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक

दिल्ली में कोरोना संक्रमण की 3लहर की आशंकाओं के बाद दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट (डीडीएमए) के समाजिक दूरी के निर्देश को ध्यान में रखकर दिल्ली सरकार के द्वारा छठ पूजा के आयोजन पर सार्वजनिक रूप से आयोजन पर रोक लगाने के बाद आम आदमी पार्टी और विपक्ष में घमासान हो शुरू हो गई है।

छठ पूजा के आयोजन पर रोक लगाने के बाद पूर्व प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी के खुलकर दिल्ली सरकार के विरोध में आते हुए छठ पूजा के आयोजन के रायशुमारी के लिए ‘रथ यात्रा’ के घोषणा के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसका विरोध करते हुए कहा कि भाजपा इस पर राजनीति कर रहे हैं।

छठ पूजा के आयोजन में सुबह शाम पानी में उतर कर भगवान सूर्य को अर्घ देना पड़ता है। इस दौरान एक भी व्रती को कोरोना हुआ तो पुरी तालाव, नदी में कोरोना होगा और सभी लोग प्रभावित होंगे। इसके बाद इस मामले में नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी, कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी, प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष आदेश गुप्ता, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और उसके बाद अब दिल्ली प्रदेश के आप संयोजक व मंत्री गोपाल रॉय भी इस राजनीति में कूद पड़े है। आम आदमी पार्टी, भाजपा और कांग्रेस तीनों ही पार्टियों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है।

केजरीवाल बताएं केंद्र से सिंतबर में क्यों नहीं लिया दिशा-निर्देश
मनोज तिवारी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर पूछा है कि अगर वास्तव में वह छठ पूजा को प्रतिबंधित करने के लिए गंभीर होते तो सितंबर में ही प्रतिबंध लगाने की घोषणा करने से पहले ही केंद्र से दिशा-निर्देश जारी करने की मांग सकते थे। तिवारी ने केजरीवाल पर हिंदू समाज की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया। उन्होंने लिखा, बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि आप लगातार हिंदू समाज की भावनाओं को ठेस पहुंचा रहे हैं और दिल्ली में कट्टरपंथी मुस्लिम तुष्टीकरण के दोषी हैं।

भाजपा कर रही है छठ पूजा पर दोयम दर्जे की राजनीति
दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने छठ पूजा पर हो रही राजनीति‍ को लेकर कहा है कि भाजपा को कभी भी पूर्वांचल वालों की चिंता नहीं रही। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए ही छठ पूजा के सार्वजन‍िक तौर पर मनाने की अनुमति नहीं दी गई है लेकिन भाजपा पूर्वांचल के नाम पर दोयम दर्जे की राजनीति‍ कर रही है। गोपाल रॉय ने कहा कि भाजपा सांसद मनोज तिवारी दोयम दर्जे के नेता हैं। विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद उन्हें पार्टी ने साइडलाइन कर दिया है।

मनोज किसी पहचान के मोहजात नहीं: बक्शी
उधर, भाजपा नेता नीलकांत बक्शी ने मंत्री गोपाल राय के बयान पर प्रत‍िक्र‍िया जाहिर करते हुए कहा है कि तो अब मुख्यमंत्री के बाद दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने भी माना छठ पूजा को आप सरकार ने दिल्ली में रोका है। उन्होंने कहा कि भाजपा के देश भर में स्टार प्रचारक और राष्ट्रीय कार्यकार‍िणी में शामिल दूसरी बार के सांसद मनोज तिवारी किसी पहचान के मोहजात नहीं हैं।

खबरें और भी हैं…

दिल्ली + एनसीआर | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

किसान मोर्चे का आज देशभर में प्रदर्शन: मंत्री अजय मिश्र की बर्खास्तगी की मांग को लेकर दिल्ली बॉर्डर पर होंगी सभाएं, जानिए- क्या है प्लान?

गाजियबाद2 घंटे पहले कॉपी लिंक तीन कृषि कानूनों के खिलाफ गाजीपुर समेत दिल्ली के चार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *