Breaking News

गोरखपुर में मौसा निकला मासूम का किडनैपर: ढाई साल के मासूम को लेकर भाग रहा मौसा देवरिया में पकड़ा गया; सुबह आया और टॉफी ​दिलाने के बहाने लेकर हो गया फरार

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Gorakhpur
  • Moussa, Who Was Running Away With A Two And A Half Year Old Innocent, Was Caught In Deoria; Came In The Morning And Absconded On The Pretext Of Getting Toffee,Gorakhpur, Gorakhpur News, Gorakhpur Crime News, Child Kidnepped, Kidnepping, Gorakhpur Police, Breking News Gorakhpur, Gorakhpur News Today

गोरखपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

रात 8 बजे जीआरपी की मदद से पुलिस ने सीताराम और उसके साथी जयशंकर श्रीवास्तव उर्फ मनीष को पकड़कर बच्चे को बरामद कर लिया।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले से सोमवार की सुबह एक मासूम रहस्यमय परिस्थितियों में लापता हो गया। काफी देर तक खोजबीन करने के बाद कोई सुराग नहीं लगने पर बच्चे की मां ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी इस बीच देवरिया रेलवे स्टेशन पर जीआरपी ने बच्चे को उसके मौसा के साथ बरामद कर लिया। आरोप है कि बच्चे का मौसा ही उसका अपहरण कर ले जा रहा था। घटना गुलरिहा इलाके के पादरी बाजार स्थित नंद नगर कॉलोनी की है।

बच्चे को टॉफी दिलाने के बहाने कर लिया अपहरण
शाहपुर इलाके के पादरी बाजार स्थित नंद नगर कॉलोनी निवासिनी सरोज गुप्ता का ढाई वर्षीय पुत्र आदर्श गुप्ता सोमवार की सुबह घर के पास से रहस्यमय परिस्थितियों में लापता हो गया। आदर्श के पिता दीपक गुप्ता की एक साल पहले मृत्यु हो गई है। सरोज देवी अपने पुत्र के साथ अकेली नंद नगर कॉलोनी में रहती हैं और मजदूरी कर जीविका चलाती हैं।

सरोज का आरोप है कि सोमवार की सुबह उनके जीजा सीताराम गुप्ता घर आए थे। कुछ देर रुकने के बाद बच्चे को टॉफी दिलाने के बहाने साथ में लेकर निकले और आधे घंटे तक जब बच्चा घर नहीं लौटा तो सरोज ने सीताराम के नंबर पर फोन किया। सीताराम ने बताया कि बच्चे को उसने कभी घर पर ही छोड़ दिया है।

मोबाइल लॉकेशन से पकड़ा गया मौसा
जिसके बाद परेशान सरोज मोहल्ले और आसपास में बच्चे की तलाश की। जब कहीं पता नहीं चला तो पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मोहल्ले में लगे सीसीटीवी कैमरे को चेक किया तो बच्चे को ले जाते हुए सीताराम दिख रहा था। लेकिन घर वापस आते नहीं दिखा था। जिसके बाद सीताराम की तलाश शुरू हुई। लोकेशन के आधार पर पुलिस ने देवरिया जीआरपी को सूचना दी और करीब रात 8 बजे जीआरपी की मदद से पुलिस ने सीताराम और उसके साथी जयशंकर श्रीवास्तव उर्फ मनीष को पकड़कर बच्चे को बरामद कर लिया। दोनों के खिलाफ पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। अब इस बात की जांच की जा रही है कि वह बच्चे को अपने साथ अपहरण कर क्यों ले जा रहा था।

खबरें और भी हैं…

उत्तरप्रदेश | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

गोरखपुर में देर रात एनकाउंटर: पुलिस की गोली से घायल हुआ शातिर बदमाश धर्मदेव यादव, साथी फरार; डबल बैरल बंदूक और बाइक बरामद, दिव्या दूबे हत्याकांड का आरोपी है बदमाश

Hindi News Local Uttar pradesh Gorakhpur Vicious Crook Dharamdev Yadav Injured By Police Bullet, Fellow …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *