Breaking News

गोलीबारी के मामले में 6 गिरफ्तार: बक्सर में दो प्रत्याशियों के समर्थकों के बीच हुई थी गोलीबारी, पुलिस ने 6 को दबोचा, सभी के खिलाफ FIR दर्ज

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Firing Took Place Between Supporters Of Two Candidates In Buxar, Police Arrested 6 Person; Bihar Bhaskar Latest News

बक्सर4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस ने गोलीबारी में शामिल आरोपियों को किया गिरफ्तार।

बक्सर जिले के करहसी गांव में आपसी वर्चस्व को ले हुई मारपीट और चली गोली में दोनों तरफ से पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार कर बुधवार की दोपहर जेल भेजने की तैयारी कर रही है। साथ ही पकड़े गए लोगो फर्द बयान पर 20 अज्ञात लोगों पर एफआईआर दर्ज कर आगे की कर रही है ।पंचायत चुनाव में ग्रामीणों में दहशत फैलाने के लिए बाहर से अपरधियों को भी बुलाया गया था। घटना के बाद एक्टिव दिखी पुलिस की छापेमारी देख अधिकतर लोग अंधेरे का फायदा उठा भागने में सफल रहे।

रात भर हुई छापेमारी
मंगलवार की रात से लेकर बुधवार की सुबह तक पुलिस अपरधियों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी करती रही ।बताया गया कि मंगलवार की रात से ही पुलिस प्रत्येक घर को खंगाला जिसमे 12 लोगो को गिरफ्तार किया गया।वही कुछ पास में लगी धान की फसल व अंधेरे का फायदा उठा भागने में सफल रहे।थाना अध्यक्ष अमित कुमार द्वारा बताया गया कि छापेमारी कर 12 लोगो को थाने लाया गया था।जिसमे पूछ ताछ करने के बाद 6 लोगो को छोड़ दिया गया ।जबकि दोनों तरफ से 3 -3 लोगो को जेल भेजने की तैयारी की जा रही है।जिसमें मुन्ना सिंह की ओर से शशिभूषण सिंह, श्रीकांत सिंह, संजय सिंह है।वही नाटा सिंह की ओर से पवन राय, विकास राय जो कि डिहरी निवासी है व करहंसी निवासी लक्ष्मण चौबे को जेल भेजा जा रहा है।

चुनावी भोज में शक्ति प्रदर्शन
मामला सोमवार की देर शाम की है। जहां दो मुखिया प्रत्याशियों के समर्थकों के बीच मारपीट के बाद कई राउंड गोलीबारी की वारदात को अंजाम दिया गया। इस गोलीबारी की घटना के बाद गांव में अफरा तफरी का माहौल कायम हो गया। हालांकि गोलीबारी में कोई हताहत नहीं हुआ।

बताया जा रहा है कि सदर प्रखंड में पंचायत चुनाव के आखिरी दिन गांव के पूर्व मुखिया मुन्ना सिंह की बहु रम्भा सिंह और नाटा सिंह की पत्नी डिंपी सिंह ने मुखिया प्रत्याशी को लेकर नामांकन करने के बाद भोज का आयोजन किया था। दोनों प्रत्याशियों ने पंचायत भवन के आस-पास ही पार्टी का आयोजन किया था।

इसी दौरान कई कार्यकर्ता एक दूसरे के भोज पार्टी में शामिल हो गए। जिसको देखते देखते दोनों तरफ से कार्यकर्ता भीड़ गए। विवाद इतना बढ़ गया कि मारपीट होने लगी। कड़ी मस्कत कर ग्रामीणों ने दोनों तरफ से मामले को शांत कराया। तभी एक पक्ष के नाटा सिंह के समर्थक ने फायरिंग करना शुरू कर दिया।

फायरिंग का जवाब देते हुए मुन्ना सिंह के समर्थक भी फायरिंग करने लगे। सूचना मिलते ही डीएसपी के नेतृत्व में कई थाने के अलावे भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंच गई। पुलिस के पहुंचते ही मामला शांत हो गया। थाना प्रभारी अमित कुमार ने बताया कि करहसी गांव के दो मुखिया प्रत्याशियों के समर्थकों को बीच आपसी विवाद में गोलीबारी हुई थी।

खबरें और भी हैं…

बिहार | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

बाप तो बाप ही होता है, बेटे को दी पटकनी: मोतिहारी में बाप के खिलाफ मैदान में उतरा बेटा, 149 वोट ही मिले; पिता बने मुखिया

मोतिहारी25 मिनट पहले कॉपी लिंक पिता सुरेश प्रसाद सिंह व बेटा अंशु सिंह। पूर्वी चंपारण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *