Breaking News

चिपको आंदोलन को बदनाम कर रहे कांग्रेसी: BJP सांसद राकेश सिंह बोले- मैं भी जंगल का हिमायती हूं, लेकिन जहां प्रदेश का सबसे बड़ा ग्रीन स्पोटर्स सिटी प्रस्तावित है, वहां झाड़ियां उगती हैं, पेड़ नहीं

  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • BJP MP Rakesh Singh Said, I Am Also A Supporter Of The Forest, But Where The State’s Largest Green Sports City Is Proposed, Bushes Grow There, Not Trees.

जबलपुर3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

डुमना एयरपोर्ट के पीछे प्रस्तावित ग्रीन स्पोर्ट्स सिटी के बारे में जानकारी देने ग्राउंड जीरो परपहुंचे सांसद राकेश सिंह।

डुमना एयरपोर्ट के ठीक पीछे 40 एकड़ क्षेत्रफल में प्रस्तावित ग्रीन सिटी स्पोर्ट्स सिटी प्रदेश का सबसे बड़ा होगा। देश के खेल मानचित्र पर जबलपुर की एक अलग पहचान बनेगी। जबलपुर सांसद राकेश सिंह मंगलवार को मीडिया कर्मियों के साथ ग्राउंड जीरो पर पहुंचे थे। सांसद बोले-मैं भी पेड़ और जंगल का हिमायती हूं। डुमना नेचर पार्क को संवारने का काम मैंने ही कराया।

एयरपोर्ट को चालू कराया। कांग्रेस की दिक्कत ये है कि वे विकास की नकारात्मकता से चिपक गए हैं। जहां ग्रीन स्पोर्ट्स सिटी का निर्माण होना है, वहां सिर्फ बारिश के दिनों में झाड़ियां उगती हैं। चिपको डुमना के नाम से आंदोलन चलाकर कांग्रेस इस पवित्र चिपको आंदोलन को बदनाम कर रही है।

कुछ इस तरह नजर आएगी ग्रीन स्पोर्ट्स सिटी।

कुछ इस तरह नजर आएगी ग्रीन स्पोर्ट्स सिटी।

विकास कार्यों से कांग्रेस को परेशानी
सांसद राकेश सिंह ने कहा कि 55 सालों से कांग्रेस ने कभी जबलपुर का विकास नहीं किया। जबलपुर के हक छिनते रहे। अब प्रदेश में पिछले 15 सालों से बीजेपी सरकार और केंद्र में पीएम मोदी की सरकार आने के बाद से जबलपुर में विकास की एक यात्रा शुरू हुई है। तो कांग्रेस की पेट में दर्द होने लगा है। प्रदेश का सबसे बड़ा फ्लाईओवर जबलपुर में बन रहा है। भारतमाला परियोजना के अंतर्गत जबलपुर शहर के चारों ओर ग्रेटर रिंग रोड का निर्माण होने जा रहा है। साइंस सेंटर, जियो पार्क, आईटी पार्क-2 के निर्माण की मंजूरी मिल चुकी है। ब्रॉडगेज चालू हो चुका है।

अड़ंगा नहीं लगा तो ग्रीन स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स का प्रोजेक्ट जल्द
सांसद राकेश सिंह ने दैनिक भास्कर से बातचीत में कहा कि कानूनी अड़ंगा नहीं लगा तो ग्रीन स्पोर्ट्स सिटी के निर्माण प्रोजेक्ट पर जल्द ही काम शुरू हाे जाएगी। सबसे पहले इसके ड्राइंग-डिजाइन को तैयार कराएंगे। इसके बाद आगे की प्रक्रिया शुरू होगी। जहां ग्रीन सिटी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स प्रस्तावित है, वो 180 एकड़ का पूरा क्षेत्रफल है। यहां पहले से लोकायुक्त कार्यालय, आईटी पार्क-2, ज्यूडिशियल अकादमी, मप्र शासन सूचना एवं प्रौद्योगिकी आदि कई प्रोजेक्ट आने हैं। कांग्रेस को यहां आकर धरातल पर देखना चाहिए कि यहां पेड़ है की झाड़ी। इस तरह के आंदोलन चलाकर जनता को भ्रमित करने का कोई फायदा नहीं होने वाला।

डुमना एयरपोर्ट के चारों ओर कई प्रोजेक्ट पाइपलाइन में।

डुमना एयरपोर्ट के चारों ओर कई प्रोजेक्ट पाइपलाइन में।

डुमना एयरपोर्ट के चारों ओर कई प्रोजेक्ट
डुमना एयरपोर्ट का 1212 एकड़ क्षेत्रफल में फैलाव किया जा रहा है। इसके चाराें ओर बाउंड्री वाल का काम लगभग पूरा हो चुका है। इसके चारों ओर कई महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट आने वाले हैं। एयरपोर्ट के पिपरिया साइड में 124 एकड़ में विधि विश्वविद्यालय बनेगा। गधेरी साइड में 40 एकड़ में ग्रीन स्पोर्ट्स सिटी, 17 एकड़ में मप्र शासन सूचना एवं प्रौद्योगिकी, 59 एकड़ में ज्यूडिशियल अकादमी, 5 एकड़ में लोकायुक्त का भवन, 247 एकड़ में भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी एवं विनिर्माण संस्थान, 10 एकड़ में जजेस बंगलो, 20 एकड़ में फूड क्रॉफ्ट इंस्टीट्यूट, 110 एकड़ रेलवे को मिला है।

ये है कांग्रेस का पूरा आंदोलन
डुमना एयरपोर्ट के पीछे गधेरी गांव से लगे 40 एकड़ क्षेत्रफल में ग्रीन स्पोर्ट्स सिटी की घोषणा के बाद युवा कांग्रेस के समर्थ अवस्थी द्वारा चिपको डुमना आंदोलन की शुरूआत की गई है। पिछले दिनों युवक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष विक्रांत भूरिया तक आंदोलन में शामिल हो चुके हैं। समर्थ का दावा है कि ये जंगल का हिस्सा है। यहां पौधरोपण कर उसे जंगल ही रहने देना चाहिए। इंसानी बसाहट हुई तो डुमना नेचर पार्क और वहां के जंगल उजड़ जाएंगे। कांग्रस के इसी आंदोलन का सच बताने सांसद राकेश सिंह मंगलवार को मीडिया कर्मियों के साथ ग्राउंड जीरों पर लेकर पहुंचे थे। साथ में बीजेपी विधायक सुशील तिवारी, अशोक रोहाणी और महानगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर भी मौजूद रहे।

डुमना बचाने कांग्रेस का जाेरदार आंदोलन:BJP सांसद प्रस्तावित ग्रीन स्पोर्ट्स सिटी के विरोध में चिपको डुमना आंदोलन चला रही है कांग्रेस, प्रदेश अध्यक्ष की अगुवाई में कांग्रेसियों ने दी गिरफ्तारी

खबरें और भी हैं…

मध्य प्रदेश | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

आंबेडकर की मूर्ति तोड़ी, तनाव: प्रतिमा तोड़ने से नाराज भीम आर्मी ने किया चक्काजाम, प्रशासन- पुलिस ने बमुश्किल संभाले हालात, FIR

Hindi News Local Mp Gwalior Tension Due To Breaking Of Statue, Bhim Army Did A …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *