Breaking News

छत्तीसगढ़ में गरज-चमक के साथ बरसात: तीखी धूप के साथ हुई दिन की शुरुआत, दोपहर बाद अचानक घिरे बादलों से राजधानी तरबतर, बस्तर में भारी बरसात की चेतावनी

रायपुर33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

रायपुर में आज दोपहर बाद गरज-चमक के साथ तेज बरसात हुई।

दो दिन से छिटपुट बरसात के बाद आज अचानक फिर से गरज-चमक के साथ बरसात शुरू हुई है। दोपहर बाद अचानक घिरे बादलों ने राजधानी को तरबतर कर दिया है। मौसम विभाग का कहना है, पूरे छत्तीसगढ़ में हल्की से मध्यम बरसात होगी। वहीं बस्तर संभाग के एक-दो स्थानों पर भारी बरसात और वज्रपात की चेतावनी दी गई है।

राजधानी में दिन की शुरुआत चटख धूप से हुई। दिन चढ़ने के साथ धूप तीखी होती गई। दोपहर बाद अचानक उत्तर-पश्चिम से घने बादल आए और छा गए। ठंढी हवा चली, बादलों की गरज और बिजली चमकने से माहौल बना। बादल छाने के करीब आधा घंटे के भीतर बरसात शुरू हो गई। अधिकतर क्षेत्रों में बहुत हल्की बरसात हुई है। वहीं कुछ क्षेत्रों में ठीक-ठाक पानी गिरा। वर्षा का क्षेत्र रायपुर, बलौदा बाजार, गरियाबंद, धमतरी, महासमुंद, दुर्ग, बालोद, बेमेतरा, कबीरधाम और राजनांदगांव बताया जा रहा है। बस्तर में अधिकांश स्थानों पर बरसात है।

रायपुर मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया, उत्तर-पश्चिम बिहार और आसपास एक चक्रीय चक्रवाती घेरा 3.1 किलोमीटर के स्तर तक बना हुआ है। पंजाब से उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी तक औसत समुद्र तल पर स्थित है। इसकी वजह से प्रदेश में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छीटें पड़ने की संभावना बनी हुई थी। प्रदेश में एक दो स्थानों पर गरज चमक के साथ अंधड चलने और आकाशीय बिजली गिरने की सम्भावना है। उन्होंने बताया, बस्तर संभाग में घने बादल हैं। वहां आज भारी बरसात और बिजली गिरने की संभावना बनी हुई है।

मौसम विभाग की ओर से जारी इस तस्वीर में लाल घेरे में बस्तर संभाग का भारी बरसात की संभावना वाला क्षेत्र दिखाया गया है।

मौसम विभाग की ओर से जारी इस तस्वीर में लाल घेरे में बस्तर संभाग का भारी बरसात की संभावना वाला क्षेत्र दिखाया गया है।

कल मध्य छत्तीसगढ़ में भारी बरसात संभव

मौसम विभाग के मुताबिक 23 जून को प्रदेश के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में एक-दो स्थानों पर गरज चमक के साथ भारी वर्षा होने तथा अकाशी बिजली गिरने की संभावना है। भारी वर्षा का क्षेत्र मुख्यतः मध्य छत्तीसगढ़ रहने की सम्भावना है।

बरसात के बाद बोनी के लिए खेत तैयार करते किसान।

बरसात के बाद बोनी के लिए खेत तैयार करते किसान।

रायपुर में खरीफ की बोनी में तेजी आई

पिछले कुछ दिनों से रायपुर जिले अच्छी बरसात हुई है। राजस्व विभाग के मुताबिक एक जून से अब तक कुल 196.7 मिमी बरसात हो चुकी है। यह पिछले 10 वर्षों के औसत वर्षा 83.1 मिमी से 142 प्रतिशत अधिक है। इसकी वजह से खरीफ की फसलों की बोनी में तेजी आई है। अभी तक 32 हजार 85 हेक्टेयर खेतों में बोनी पूरी हो चुकी है। यह कुल बोनी के लक्ष्य 1 लाख 64 हजार 514 हेक्टेयर का 20 प्रतिशत है।

खबरें और भी हैं…

छत्तीसगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

अफसरों को निर्देश, नेता जी की सुनिए: कांग्रेस जिलाध्यक्षों ने 10 दिन पहले कहा था कि अफसर उनकी नहीं सुनते; सरकार का निर्देश- जनप्रतिनिधियों से सौहार्दपूर्ण व्यवहार करें

रायपुरएक घंटा पहले कॉपी लिंक सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी सचिवों, विभागाध्यक्षों, संभाग आयुक्तों, कलेक्टरों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *