Breaking News

जम्मू-कश्मीर: दिल्ली में सर्वदलीय बैठक से पहले आज गुपकार की बैठक, अब्दुल्ला करेंगे अध्यक्षता

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू
Published by: प्रशांत कुमार
Updated Tue, 22 Jun 2021 10:12 AM IST

सार

गुपकार गठबंधन के नेताओं की 11 बजे बैठक होने जा रही है। इस बैठक की अध्यक्षता फारूक अब्दुल्ला करेंगे।

उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

दिल्ली में सर्वदलीय बैठक से पहले मंगलवार को गुपकार गठबंधन के नेताओं की बैठक होने जा रही है। इसमें सर्वदलीय बैठक को लेकर रणनीति तैयार की जाएगी। पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला अपने आवास पर पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकार डिक्लेरेशन (पीएजीडी) की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। बैठक सुबह 11 बजे होने की संभावना है।

इसके लिए पीएजीडी के सभी नेताओं को निमंत्रण दिया गया है। इस बैठक में सभी के शामिल होने की संभावना है। जिसमें गठबंधन के नेता रणनीति के बारे में फैसला करेंगे। सभी नेताओं से सलाह मशविरा करने के बाद संयुक्त रणनीति बनाई जाएगी। बता दें कि अब्दुल्ला पीएम मोदी की बैठक के लिए आमंत्रित 14 नेताओं में शामिल हैं। वह पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ केंद्र के साथ इस तरह की पहली बातचीत पर विचार-विमर्श कर रहे हैं।

प्रदेश की राजनीतिक गतिविधियों पर केंद्र की पैनी नजर
केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला बैठक को लेकर पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। वे प्रस्तावित बैठक को लेकर जम्मू और कश्मीर में चल रही राजनीतिक घटनाक्रम की पल-पल की जानकारी हासिल कर रहे हैं। बीते दो दिनों से कश्मीर में सियासी सरगर्मी तेज है। पीडीपी की राजनीतिक मामलों की समिति ने महबूबा मुफ्ती को फैसला लेने के लिए अधिकृत किया है तो नेकां प्रमुख दो दिनों से पार्टी सांसदों व नेताओं से विचार-विमर्श कर रहे हैं। पीपुल्स कांफ्रेंस व अपनी पार्टी ने भी बैठक कर रायशुमारी की है। जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी प्रमुख अल्ताफ बुखारी आज अपने पत्ते खोल सकते हैं। ज्ञात हो कि बैठक के लिए चार पूर्व मुख्यमंत्रियों, चार उप मुख्यमंत्रियों समेत 14 नेताओं को सर्वदलीय बैठक के लिए बुलाया गया है।  

यह भी पढ़ें- ऑपरेशन गुंड ब्राठ: आतंकी कमांडर मुदासिर पंडित और असरार के खात्मे की कहानी, एक्सक्लूसिव तस्वीरें

प्रदेश की अर्थव्यवस्था का मुद्दा भी उठेगा

सर्वदलीय बैठक में प्रदेश से जुड़े नेता राजनीतिक गतिरोध दूर करने, आम लोगों के दर्द तथा नौकरशाही से लोगों को आ रही परेशानियों को उठा सकते हैं। इसके साथ ही राज्य का दर्जा बहाल करने और परिसीमन की प्रक्रिया को जल्द पूरा कर विधानसभा चुनाव कराने की मांग भी रख सकते हैं। नेताओं की ओर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद लगभग दो साल तक प्रदेश की अर्थव्यवस्था का मुद्दा भी उठाया जा सकता है। इसमें पर्यटन से लेकर कारोबार को हुए नुकसान की बात भी नेता रखेंगे।

विस्तार

दिल्ली में सर्वदलीय बैठक से पहले मंगलवार को गुपकार गठबंधन के नेताओं की बैठक होने जा रही है। इसमें सर्वदलीय बैठक को लेकर रणनीति तैयार की जाएगी। पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला अपने आवास पर पीपुल्स अलायंस फॉर गुपकार डिक्लेरेशन (पीएजीडी) की बैठक की अध्यक्षता करेंगे। बैठक सुबह 11 बजे होने की संभावना है।

इसके लिए पीएजीडी के सभी नेताओं को निमंत्रण दिया गया है। इस बैठक में सभी के शामिल होने की संभावना है। जिसमें गठबंधन के नेता रणनीति के बारे में फैसला करेंगे। सभी नेताओं से सलाह मशविरा करने के बाद संयुक्त रणनीति बनाई जाएगी। बता दें कि अब्दुल्ला पीएम मोदी की बैठक के लिए आमंत्रित 14 नेताओं में शामिल हैं। वह पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ केंद्र के साथ इस तरह की पहली बातचीत पर विचार-विमर्श कर रहे हैं।

प्रदेश की राजनीतिक गतिविधियों पर केंद्र की पैनी नजर

केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला बैठक को लेकर पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। वे प्रस्तावित बैठक को लेकर जम्मू और कश्मीर में चल रही राजनीतिक घटनाक्रम की पल-पल की जानकारी हासिल कर रहे हैं। बीते दो दिनों से कश्मीर में सियासी सरगर्मी तेज है। पीडीपी की राजनीतिक मामलों की समिति ने महबूबा मुफ्ती को फैसला लेने के लिए अधिकृत किया है तो नेकां प्रमुख दो दिनों से पार्टी सांसदों व नेताओं से विचार-विमर्श कर रहे हैं। पीपुल्स कांफ्रेंस व अपनी पार्टी ने भी बैठक कर रायशुमारी की है। जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी प्रमुख अल्ताफ बुखारी आज अपने पत्ते खोल सकते हैं। ज्ञात हो कि बैठक के लिए चार पूर्व मुख्यमंत्रियों, चार उप मुख्यमंत्रियों समेत 14 नेताओं को सर्वदलीय बैठक के लिए बुलाया गया है।  

यह भी पढ़ें- ऑपरेशन गुंड ब्राठ: आतंकी कमांडर मुदासिर पंडित और असरार के खात्मे की कहानी, एक्सक्लूसिव तस्वीरें

Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | – Amar Ujala

About R. News World

Check Also

जम्मू-कश्मीर: एनआईए ने आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की साजिश के मामले में कई स्थानों पर की छापेमारी

सार एनआईए ने जम्मू-कश्मीर और अन्य प्रमुख शहरों में कई स्थानों पर हाल ही में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *