Breaking News

जम्मू-कश्मीर: नरवाल में पकड़े गए आतंकी नदीम के चार अन्य साथियों की पहचान, एनआईए करेगी जांच

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू
Published by: जम्मू और कश्मीर ब्यूरो
Updated Thu, 22 Jul 2021 12:36 AM IST

सार

मामले की जांच एनआईए ने अपने पास ले ली है और केस दर्ज कर नए सिरे से जांच शुरू कर दी है। संभव है कि दो से तीन दिन में कश्मीर के अलग-अलग जगहों पर उन आतंकियों को पकड़ने के लिए कार्रवाई होगी।

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

जम्मू शहर के बठिंडी में लश्कर-ए-तैयबा आतंकी नदीम से मिली 5.5 किलो आईईडी मामले की जांच अब एनआईए करेगी। गृह मंत्रालय ने एनआईए को जांच करने के आदेश दिए हैं। पुलिस से एनआईए को केस ट्रांसफर कर दिया। वहीं इस मामले में अब तक पकड़े गए तीन आतंकियों के अलावा चार और आतंकियों के नाम सामने आए हैं।

पहचाने गए आतंकी कश्मीर के पुलवामा, शोपियां, बनिहाल के रहने वाले हैं। जम्मू एयरबेस पर हमले से पहले 27 जून की शाम को बनिहाल के रहने वाले नदीम को पुलिस ने बठिंडी से दबोचा था। एनआईए ने इसे लेकर केस दर्ज कर लिया है। एनआईए ने पुलिस से अब तक की सारी जांच का रिकार्ड और अन्य दस्तावेज अपने कब्जे में ले लिए।

नदीम से पूछताछ करने के बाद दो और आतंकियों के नाम सामने आए। पुलिस ने शोपियां के रहने वाले नदीम आयुब और बनिहाल के रहने वाले तालिब डार रहमान को भी दबोचा। ये सभी लश्कर के लिए काम करते हैं। इनको पाकिस्तान से भेजी गई पांच किलो आईईडी से मंदिरों के आसपास कई धमाके करने थे। इससे पहले ही दबोच लिया गया। ये सभी पाकिस्तान में बैठे लश्कर हैंडलरों के संपर्क में थे। सूत्रों का कहना है कि इस मामले में बहुत से लोग जुड़े हुए हैं।

यह भी पढ़ें- पूर्व मंत्री का हैवान बेटा: 200 लड़कियों से की छेड़छाड़, सातवीं कक्षा की छात्रा से दुष्कर्म का आरोप 

 

जम्मू-कश्मीर में बॉर्डर पार से आने वाले विस्फोटक के पूरे रूट की जानकारी इन आतंकियों से पूछताछ में सामने आ सकती है। अब तक तीन लोग इसमें पकड़े गए हैं, चार और आतंकियों की पहचान की गई है। यह भी इनके नेटवर्क में थे। माना जा रहा है कि इस नेटवर्क में कई अन्य लोग जुड़े हैं। इन आतंकियों की चेन तोड़ने के लिए मामले की जांच एनआईए को सौंपी गई है।

विस्तार

जम्मू शहर के बठिंडी में लश्कर-ए-तैयबा आतंकी नदीम से मिली 5.5 किलो आईईडी मामले की जांच अब एनआईए करेगी। गृह मंत्रालय ने एनआईए को जांच करने के आदेश दिए हैं। पुलिस से एनआईए को केस ट्रांसफर कर दिया। वहीं इस मामले में अब तक पकड़े गए तीन आतंकियों के अलावा चार और आतंकियों के नाम सामने आए हैं।

पहचाने गए आतंकी कश्मीर के पुलवामा, शोपियां, बनिहाल के रहने वाले हैं। जम्मू एयरबेस पर हमले से पहले 27 जून की शाम को बनिहाल के रहने वाले नदीम को पुलिस ने बठिंडी से दबोचा था। एनआईए ने इसे लेकर केस दर्ज कर लिया है। एनआईए ने पुलिस से अब तक की सारी जांच का रिकार्ड और अन्य दस्तावेज अपने कब्जे में ले लिए।

नदीम से पूछताछ करने के बाद दो और आतंकियों के नाम सामने आए। पुलिस ने शोपियां के रहने वाले नदीम आयुब और बनिहाल के रहने वाले तालिब डार रहमान को भी दबोचा। ये सभी लश्कर के लिए काम करते हैं। इनको पाकिस्तान से भेजी गई पांच किलो आईईडी से मंदिरों के आसपास कई धमाके करने थे। इससे पहले ही दबोच लिया गया। ये सभी पाकिस्तान में बैठे लश्कर हैंडलरों के संपर्क में थे। सूत्रों का कहना है कि इस मामले में बहुत से लोग जुड़े हुए हैं।

यह भी पढ़ें- पूर्व मंत्री का हैवान बेटा: 200 लड़कियों से की छेड़छाड़, सातवीं कक्षा की छात्रा से दुष्कर्म का आरोप 

 

आगे पढ़ें

पूछताछ में और नाम आ सकते हैं सामने

Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | – Amar Ujala

About R. News World

Check Also

अनुच्छेद-370 से मुक्ति के दो साल: डेढ़ साल में ही घुटनों पर आ गया पाकिस्तान, छह महीने से गोलाबारी नहीं

अजय मीनिया, जम्मू Published by: प्रशांत कुमार Updated Thu, 05 Aug 2021 10:19 AM IST …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *