Breaking News

जैन करियाना स्टोर मालिक की हत्या का मामला: सहमे दुकानदार सड़क पर उतर बोले- जालंधर में कानून व्यवस्था चौपट , एक आरोपी को अरेस्ट कर हालात संभालने में जुटी पुलिस

  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Shocked Shopkeepers Came Down On The Road And Said Law And Order Collapsed In Jalandhar, Police Engaged In Handling The Situation By Arresting An Accused

जालंधरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

भगत सिंह चौक पर प्रदर्शन करते दुकानदार।

सोढ़ल रोड पर जैन करियाना स्टोर के मालिक सचिन जैन की हत्या के बाद दुकानदारों में दहशत का माहौल बन गया है। बुधवार को दुकानदारों ने भगत सिंह चौक पर रोष प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि जालंधर में कानून व्यवस्था चौपट हो चुकी है। हर दूसरे-तीसरे दिन गोलियां चल रही हैं। अब दुकानदार भी इससे सुरक्षित नहीं हैं। वहीं, हालात संभाल छवि बचाने के लिए पुलिस ने बुधवार को हत्या के एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

दुकानदार सचिन जैन, जिसकी लुटेरों ने हत्या की

दुकानदार सचिन जैन, जिसकी लुटेरों ने हत्या की

DCP बाेले, एक आरोपी पकड़ा, 2 को पकड़ने के लिए 8 टीमें रेड कर रहीं

DCP इन्वेस्टिगेशन गुरमीत सिंह ने कहा कि इस हत्याकांड में शामिल आरोपी आदमपुर के हरीपुर निवासी दीपक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में दूसरा आरोपी अर्शप्रीत सिंह उर्फ वड्‌डा प्रीत फरार है। दीपक से पूछताछ के बाद वारदात में शामिल तीसरे आरोपी की पहचान साहिल निवासी राजनगर के तौर पर हो गई है। इन दोनों को पकड़ने के लिए पुलिस की 8 टीमें लगातार रेड कर रही हैं।

दुकानदार बोले- सचिन को सही इलाज मिलता तो वो जिंदा होता, अस्पतालों पर कार्रवाई हो

दुकानदारों ने कहा कि गोली लगी हालत में सचिन जैन को दोस्त एक्टिवा पर लेकर घूमते रहे लेकिन किसी अस्पताल ने उसका इलाज नहीं किया। उन्होंने ऐसे अस्पतालों पर भी कार्रवाई की मांग की। उन्होंने प्रशासन को चेतावनी दी कि वो पूरे हालात सुधारे वर्ना अभी शांतमयी प्रदर्शन है, आगे दुकानदार बड़ा संघर्ष करने से पीछे नहीं हटेंगे।

रुपए लूटने आए थे, हाथापाई हुई तो सचिन को मारी गोली

सचिन सोढ़ल रोड पर जैन करियाना स्टोर चलाते थे। दो दिन पहले रात के वक्त वह दिन भर की कमाई इकट्‌ठी कर घर जाने की तैयारी में थे। तभी तीन आरोपी दीपक, अर्शप्रीत उर्फ वड्‌डा प्रीत व साहिल वहां आए। आरोपियों ने सचिन से रुपए मांगे, इसको लेकर उनमें हाथापाई हुई तो सचिन को गोली मार दी और भाग निकले। इसके बाद दोस्त सचिन को एक्टिवा पर लेकर प्राइवेट अस्पतालों में गए लेकिन पुलिस केस कहकर भर्ती नहीं किया गया। जिसके बाद सिविल व फिर एक निजी अस्पताल ले जाने के बावजूद उन्हें बचाया न जा सका।

खबरें और भी हैं…

चंडीगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

चंडीगढ़ में क्लासेज अनलॉक: सोमवार से 7वीं-8वीं के स्टूडेंट्स भी जा सकेंगे स्कूल, रात 10:30 बजे तक खुलेंगे रेस्टोरेंट्स; लेकिन 50% लोग ही अलाउड

Hindi News Local Chandigarh Schools Open For 7th 8th Class Students Restaurants Will Be Able …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *