Breaking News

टीका नहीं ‘फीकाकरण’: 73 लाख आबादी वाले हिमाचल में एक हफ्ते में 51 हजार लोगों काे ही लग पाई वैक्सीन

शिमला17 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना का टीका लगवाता एक व्यक्ति।

  • 7 दिन के कोरोना के टीकाकरण के ट्रेंड में हिमाचल 23वें नंबर पर
  • 12 लाख आबादी वाले चंडीगढ़ में 7 दिनों में 22 हजार और 15 लाख आबादी वाले गोवा में 57 हजार लाेगों को लगा टीका

एक तरफ देश के तमाम राज्यों में टीकाकरण में लगातार तेजी लाई जा रही है, वहीं हिमाचल प्रदेश में पिछले एक सप्ताह में 51,300 लोगों को ही वैक्सीन लगाई गई है। यह आंकड़ा प्रदेश में वैक्सीन ड्राइव की बेहद धीमी रफ्तार का उदाहरण है। आबादी के हिसाब से इस सप्ताह पूरे देश में प्रदेश में टीकाकरण सबसे कम हुआ है। हिमाचल में वैक्सीनेशन की रफ्तार एक करोड़ व उससे कम की आबादी वाले लगभग सभी राज्यों से धीमी है। करीब 22 लाख आबादी वाले चंडीगढ़ में एक हफ्ते में 21.8 हजार वैक्सीन, 15.4 लाख आबादी वाले गोवा में 57 हजार, मात्र 6.6 लाख आबादी वाले सिक्किम में 33.3 हजार टीके लगाए गए हैं। 2.9 लाख जनसंख्या वाले लद्दाख जैसे राज्यों में इन सात दिनों में 10 हजार टीके लगे हैं। 18 प्लस एज ग्रुप के लिए 31 मई से वैक्सीन खत्म हो गई थी इसलिए टीकाकरण रोकना पड़ा।

वहीं फ्रंट लाइन वर्कर, हेल्थ केयर वर्कर और 45 साल से अधिक आयु वाले लाेगाें के लिए प्रदेश में टीके की काेई कमी नहीं है। इस आयु वर्ग के लाेगाें के लिए टीके की 1 लाख 74 हजार 730 से अधिक की डाेज उपलब्ध है, लेकिन लाेगाें का टीके के प्रति रूझान पिछले कुछ दिनाें से कम देखने काे मिल रहा है। हालांकि प्रदेश सरकार केंद्र से लगातार टीकों की डिमांड कर रही है।
अभी तक 25 लाख 16 हजार 669 लाेगाें काे ही लग पाए हैं टीके

प्रदेश में 73 लाख की आबादी में से महज 25 लाख 16 हजार 669 लाेगाें काे ही टीके लग पाए हैं। इसमें 85,581 हेल्थ केयर वर्कर, 1 लाख 65 हजार फ्रंट लाइन वर्कर, 45 साल से अधिक के 17 लाख 18 हजार 61 और18 से 44 साल तक के एक लाख 9 हजार 76 लाेगाें काे टीके की पहली डाेज लग चुकी है।

भास्कर Q&A – एनएचएम के मिशन निदेशक डाॅ. निपुण जिंदल ने बताया टीकाकरण की धीमी रफ्तार का कारण…

Q. टीकाकरण अभियान प्रदेश में इतना सुस्त क्यों चल रहा है?
A. 18 प्लस के लाेगाें के टीके की डाेज न हाेने के कारण इस कार्यक्रम काे बीच में राेकना पड़ा। इससे टीकाकरण अभियान थोड़ा स्लो जरूर हुआ है।
Q. क्या 45प्लस की कैटेगिरी के लिए टीकाकरण की रफ्तार ठीक है?
A. 45 प्लस की अायु वाले जितने लाेगाें काे टीके लगाने का लक्ष्य तय किया गया था, उस लक्ष्य काे हासिल कर लिया गया है। इस उम्र के 17 लाख लोगों को टीके लग चुके हैं।
Q. वैक्सीनेशन में तेजी लाने के लिए सरकार क्या कर रही है?
A. केंद्र से वैक्सीन की लगातार डिमांड की जा रही है। अभी सरकार ने 73 लाख डोज की डिमांड की थी जिसमें से 2.74 लाख डोज ही मिले। अभी टीकाें की स्पलाई सुचारू हाे गई है। टीकाकरण कार्यक्रम में तेजी लाई जाएगी।
Q. अब तक प्रदेश में कितनों को टीका लग चुका है और आगे क्या बदलाव किया जा रहा है?
A. अब तक हिमाचल में टीका की पहले डोज 20 लाख से ज्यादा लोगों को लग चुकी है। इस वर्ग की आबादी लगभग 32 लाख है। फ्रंटलाइन वर्कर में नई श्रेणियाें काे अभी हाल ही में शामिल किया गया है। 21 जून से केंद्र की गाइडलाइन से प्रोटोकोल बदल जाएगा।.

7 दिन का ट्रेंड: टीका लगाने में तेलंगाना-राजस्थान अव्वल रहे, लेकिन छत्तीसगढ़-हिमाचल पिछड़ गए

7 दिन का ट्रेंड: टीका लगाने में तेलंगाना-राजस्थान अव्वल रहे, लेकिन छत्तीसगढ़-हिमाचल पिछड़ गए

खबरें और भी हैं…

हिमाचल | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

बारसात से बढ़ी समस्या: रामपुर के जीरो पॉइंट पर भूस्खलन होने से रामपुर-शनेरी सड़क रही बाधित

रामपुर बुशहर5 घंटे पहले कॉपी लिंक बरसात का मौसम आते ही रामपुर के तहत भूस्खलन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *