Breaking News

ड्रग्स केस: नवाब मलिक के दामाद समीर खान को जमानत, NCB द्वारा जमा सबूतों के 11 नमूनों में नहीं हुई ड्रग्स की पुष्टि

  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Nawab Malik’s Son in law Sameer Khan Gets Bail, 11 Samples Of Evidence Submitted By NCB Did Not Confirm Drugs

मुंबई15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने मलिक के दामाद समीर खान को ड्रग्स मामले में 13 जनवरी को गिरफ्तार किया था।

मुंबई की एक विशेष अदालत ने ड्रग्स मामले में गिरफ्तार राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता एवं राज्य के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नवाब मलिक के दामाद समीर खान को गुरुवार को जमानत दे दी है। खान को ड्रग्स मामले में गिरफ्तार सेलीब्रेटी मैनेजर राहिल फर्नीचरवाला और ब्रिटिश नागरिक करन सेजनानी के साथ पकड़ा गया था। एनसीबी ने इन पर ड्रग्स जमा करने, उसे बेचने और खरीदने का आरोप लगाया था।

जानकारी के मुताबिक, एनसीबी उनके खिलाफ अदालत में पुख्ता सबूत ही नहीं पेश कर पायी थी। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने मलिक के दामाद समीर खान को ड्रग्स मामले में 13 जनवरी को गिरफ्तार किया था। आरोप था कि उनके पास से बड़ी मात्रा ने नशीला पदार्थ मिला था। अदालत के इस फैसले के बाद पहले से NCB पर हमलावर नवाब मलिक आज एक और प्रेस कांफ्रेंस कर क्रूज ड्रग केस में नया खुलासा कर सकते हैं। इसी मामले में आर्यन खान समेत 20 लोगों को NCB ने अरेस्ट किया है, जिसमें 4 ड्रग पेडलर हैं।

11 नमूनों की जांच में गांजा होने की पुष्टि नहीं
एनसीबी की तरफ से आरोप पत्र दायर किए जाने के बाद जुलाई महीने में दायर जमानत याचिका में फॉरेंसिक प्रयोगशाला की रिपोर्ट का हवाला दिया गया, जिसमें कहा गया है कि 18 में से 11 नमूनों की जांच में गांजा होने की पुष्टि नहीं हुई है। एनसीबी ने दावा किया कि ज्यादातर ड्रग्स सेजनानी के पास से जब्त किया गया, जो कि खान के साथ ड्रग्स के धंधे में शामिल थे। हालांकि, NCB खान और सेजनानी की मिलीभगत के सबूत नहीं पेश कर सकी।

खान की गिरफ्तारी के बाद NCB ने 14 जनवरी को उनके बांद्रा स्थित घर समेत वर्सोवा, खार, लोखंडवाला, कुर्ला और पवई इलाकों में छापेमारी की थी। छापेमारी के दौरान एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया था, हालांकि उसे बाद में छोड़ दिया गया।

पहले अदालत ने खारिज की थी खान की याचिका
पुख्ता सबूत नहीं होने के कारण एनडीपीएस अदालत ने सेलिब्रिटी मैनेजर राहिल फर्नीचरवाला और ब्रिटिश नागरिक करन सेजनानी को 50-50 हजार रुपये के मुचलके पर छोड़ने का आदेश दिया। इससे पहले खान की जमानत याचिका दो बार मामले में जांच की बात कहते हुए अदालत की ओर से खारिज कर दी गई थी। हालांकि, मामले में NCB ने चार्जशीट भी दायर कर दी है। खान ने अदालत में तर्क दिया कि उन्हें एक सह-आरोपी के बयान के आधार पर झूठा फंसाया गया था।

खबरें और भी हैं…

महाराष्ट्र | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

देश पर जानलेवा ड्रग्स का साया: महाराष्ट्र में हर साल औसतन 34 लोगों की नशाखोरी से होती है मौत, राजस्थान में नशे से मौतें 61% घटीं

Hindi News Local Maharashtra In Maharashtra, On An Average 34 People Die Every Year Due …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *