Breaking News

तानाशाह की बहन का महाशक्ति पर तंज: यो जोंग ने नॉर्थ कोरिया और अमेरिका के बीच बातचीत की संभावनाओं को खारिज किया, बोलीं- चर्चा की उम्मीदें USA को निराश करेंगी

  • Hindi News
  • International
  • Yo Jong Dismissed The Possibility Of Talks Between North Korea And America, Said The Hopes Of Talks Will Disappoint The USA

सियोलएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

जोंग अपने अधिकारियों को चर्चा और टकराव दोनों के लिए तैयार रहने को कह चुकी हैं। – फाइल फोटो

अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच बातचीत पर कोरिया के तानशाह किम जोंग उन की बहन किम यो जोंग ने अमेरिका से बातचीत को लेकर एक बयान दिया है। इससे आने वाले दिनों में दोनों देशों के बीच बनने वाली कूटनीतिक संभावनाओं पर विराम लग गया है। उन्होंने दोनों देशों के बीच बनने वाले रिश्तों को एक तरह से अपने बयान के जरिए खारिज कर दिया है।

सरकारी मीडिया के अनुसार, किम यो जोंग ने कहा कि ऐसा लगता है अमेरिका हालात की व्याख्या स्वयं को दिलासा देने के लिए कर रहा है। यही उम्मीद अमेरिका को निराश करेगी।

ये बयान उन्होंने US नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर जैक सुलिवन की एक टिप्पणी के बाद दिया है। इससे पहले जोंग ने अपने अधिकारियों से चर्चा और टकराव दोनों के लिए तैयार रहने को कहा था। सुलविन ने उनके इस बयान को दिलचस्प संकेत बताया था।

दक्षिण कोरिया के दौरे पर हैं उत्तर कोरिया के दूत सुंग किम
जोंग का बयान ऐसे वक्त आया है, जब उत्तर कोरिया के अमेरिकी दूत सुंग किम दक्षिण कोरिया के दौरे पर हैं। सुंग किम ने सोमवार बताया कि उन्हें उम्मीद है कि उत्तर कोरिया वार्ता के अमेरिकी प्रस्तावों पर जल्द ही सकारात्मक प्रतिक्रिया देगा।

किम ने परमाणु क्षमता बढ़ाने की धमकी दी
इससे पहले किम ने अपनी परमाणु क्षमता को बढ़ाने की धमकी दी है। उसने कहा है कि कूटनीतिक और दो देशों के बीच संबंध भविष्य में अमेरिका की नीतियों पर निर्भर करेंगे, जिन्हें वह शत्रु के रूप में देखता है।

खबरें और भी हैं…

विदेश | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

अमेरिकी विदेश मंत्री की एस जयशंकर से मुलाकात: एंटनी ब्लिंकन बोले- राष्ट्रपति बाइडेन का संकल्प है कि भारत और अमेरिका के रिश्तों की मजबूती बनाई रखी जाए

Hindi News National US India | US Secretary Of State Antony Blinken India Visit Update; …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *