Breaking News

थाना प्रभारी का कोविड सेंपल बदलने का मामला: स्वास्थ्यकर्मियों ने शहर में निकाला जुलूस, गिरफ्तार दोनों लैब टैक्निशिनयन को रिहा करने व पुलिस पर केस दर्ज करने की मांग

  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Health Workers Took Out A Procession In The City, Demanding The Release Of Both The Arrested Lab Technicians And Registering A Case Against The Police

14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रदर्शन करते हुए स्वास्थ्यकर्मी

आजाद नगर थाना प्रभारी गुरमीत सिंह का कोविड सैंपल बदलने के मामले में स्वास्थ्यकर्मी शहर की सड़कों पर उतरे। स्वास्थ्यकर्मियों ने नागरिक अस्पताल से लेकर पारिजात चौक पर जुलूस की शक्ल में मार्च किया और नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन में सैंकड़ों की संख्या में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी शामिल हुए। इनकी मांग है कि कोविड सेंपल बदलने के मामले में गिरफ्तार दोनों लैब टैक्निशियन दीपक व नीरज मेहता को तुरंत रिहा किया जाए व इस मामले में आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ केस दर्ज किया जाए। स्वास्थ्यकर्मियों का यह प्रदर्शन ड्यूटी के उपरांत दोपहर 2 बजे बाद शुरू किया गया है ताकि किसी तरह की स्वास्थ्य सेवाओं में बाधा पैदा ना हो। स्वास्थ्यकर्मियों ने प्रदर्शन के बाद इस मामले में डीजीपी के नाम नायब तहसीलदार ललित जाखड़ को अपना ज्ञापन सौंपा और पूरे मामले की न्यायिक जांच की मांग की।

तहसीलदार को ज्ञापन सौंपते हुए स्वास्थ्यकर्मी

तहसीलदार को ज्ञापन सौंपते हुए स्वास्थ्यकर्मी

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पुलिस कर्मचारियों ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल किया और स्वास्थ्य कर्मियों को जालसाजी और धोखाधड़ी करके फंसाया है। इस मामले में पैसे के लेन-देन का कोई साक्ष्य नहीं मिला है। इसके अलावा विभाग के कर्मचारियों पर पुलिस ने दबाव बनाकर सेंपल दिया था और उसी को चेक करने के लिए लैब में भेजा गया था। पुलिस खुद को इस मामले में बचाने के लिए उनको निशाना बना रही है जबकि गलती पुलिसकर्मचारियों की है।

आजाद नगर थाना में एक स्टाफ नर्स सहित तीन लोगों पर महिला की हत्या का केस दर्ज हुआ था। इसकी जांच थाना एसएचओ गुरमित कर रहे हैं। नर्स का नार्को टेस्ट गुजरात के गांधी नगर में होना था, जिससे पूर्व 13 मार्च को सिविल अस्पताल फ्लू क्लीनिक पर एसएचओ, नर्स सहित अन्य मुलाजिमों का सैंपल दिया था। अन्य की रिपोर्ट निगेटिव आ गई थी मगर एसएचओ की नहीं आई थी। सैंपल के कुछ दिन बाद थाना प्रभारी गुरमीत की रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी जिस कारण हत्या के आरोपियों को इसमें फायदा पहुंचा था और उनका नार्को टेस्ट नहीं हो पाया था।

खबरें और भी हैं…

हरियाणा | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

सुभाष बराला एक और साल के लिए चेयरमैन: ऐलनाबाद उपचुनाव से 5 दिन पहले सरकार ने बढ़ाया कार्यकाल, जाट वोटों को साधने की रणनीति

सोनीपत2 घंटे पहले कॉपी लिंक हरियाणा में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके सुभाष बराला …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *