Breaking News

थोड़ी राहत: सिविल की महिला डॉक्टर समेत 115 संक्रमित, 5 मरीजों ने दम तोड़ा

जालंधर2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

रविवार को सिविल अस्पताल के वैक्सीनेशन सेंटर में कम लोग पहुंचे।

  • ब्लैक फंगस का कोई नया मरीज नहीं
  • तंदुरुस्त होने के बाद 449 लोगों को मिली छुट्‌टी
  • सवा तीन महीने बाद मरीजों का आंकड़ा निचले स्तर पर पहुंचा, फिर भी सतर्कता जरूरी

कोरोना और ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या में कमी से कुछ राहत मिली है। एक दिन पहले जालंधर में कोरोना के 184 मरीज आए थे। रविवार को 115 नए संक्रमित मिले जबकि 5 लोगों की कोरोना से मौत हो गई। संक्रमितों में सिविल अस्पताल की एक महिला डाॅक्टर भी शामिल है।

सवा तीन महीने बाद मरीजों का आंकड़ा निचले स्तर पर है। रविवार को ज्यादा मरीज बस्ती बावा खेल, ज्वाला नगर, राजा गार्डन, किला मोहल्ला व पटेल चौक एरिया में पाए गए। रविवार को ब्लैक फंगस का कोई नया मामला सामने नहीं आया।

अब जालंधर में एक्टिव केस 1774 हैं जबकि तंदुरुस्त होने के बाद 449 लोगों को छुट्‌टी मिली। सेहत विभाग ने 6442 सैंपल लिए थे। जिले में कुल 61200 मरीज पॉजिटिव हैं। अब तक 1409 लोगों की जिले में कोरोना से जान जा चुकी है।

यह वैक्सीनेशन सेंटर आपके इंतजार में है, आप किस इंतजार में हैं

अस्पतालों में मरीजों की संख्या घटी
कोरोना की दूसरी लहर ने मार्च में तेजी पकड़ी थी। रविवार को राहत की खबर ये रही कि अब जालंधर के अस्पतालों में सिर्फ 230 भर्ती मरीज रह गए हैं। पहली जून से जालंधर में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार कम हो रही है।

केस कम हुए हैं, लेकिन इसका यह अर्थ भी नहीं है कि महामारी पूरी तरह खत्म हो गई है। बल्कि अभी तीसरी लहर की आशंका बरकरार है। इस लहर में वायरस का असर बच्चों पर ज्यादा होने की आशंका जाहिर की गई है।

अफवाहों पर ध्यान न दें

दुकानों के समय नहीं बदला

सिटी में दुकानों के समय में काेई बदलाव नहीं हुआ है। रविवार रात सोशल मीडिया पर चले एक गलत मैसेज के कारण व्यापारी नेता असमंजस में पड़ गए। मैसेज था कि बाजार खुलने के समय में बदलाव हो रहा है। जिला प्रशासन द्वारा पहले तय किया गया समय ही लागू है।

डीसी से और राहत की उम्मीद में व्यापारी

सिटी के व्यापारी अब कर्फ्यू से राहत की उम्मीद कर रहे हैं। ट्रेडर्स फोरम से फाउंडर मेंंबर रविंदर धीर कहते हैं – अब हमें उम्मीद है कि रात के कर्फ्यू में कुछ राहत मिलेगी। सरकार ने 10 जून को दोबारा विचार करना है, कर्फ्यू के समय पर।

फिलहाल लोग शाम 6 बजे से सुबह 5 बजे तक के नाइट कर्फ्यू व शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक के वीकेंड लॉकडाउन का सामना कर रहे हैं। इसके अलावा जिम, खेल स्टेडियम व शॉपिंग मॉल और सिनेमा बंद हैं। लगातार जिम संचालक धरने दे रहे हैं। स्ट्रीट फूड विक्रेता घाटे में हैं।

खबरें और भी हैं…

पंजाब | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

विरोध प्रदर्शन: रैनक बाजार और घरों के ऊपर से निकलतीं तारें शिफ्ट न होने पर कौंसलर 16 जून को देंगे धरना

जालंधर4 घंटे पहले कॉपी लिंक रैनक बाजार में तीन माह पहले मंजूर हुए बिजली की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *