Breaking News

ध्यान दें: श्रीमान जी! गड्डी सज्जे हत्थ रक्खो, खब्बे हत्थ वाली लेन काॅमर्शियल व्हीकल वास्ते छड्‌डो

जालंधर2 घंटे पहलेलेखक: सुरिंदर सिंह

  • कॉपी लिंक

नए नियम पर सख्ती

  • राजपुरा और चंडीगढ़ में येलो लाइन में जाने वाले जालंधरियों के कटने लगे चालान, इसलिए ट्रैफिक पुलिस कर रही अवेयर

जालंधर से चंडीगढ़ या राजपुरा जा रहे हैं तो अपनी लेन में गाड़ी चलानी होगी, क्योंकि दोनों शहरों में सड़क पर येलो लाइन के साथ-साथ हाईटेक कैमरे लगे हैं, जिससे ट्रैफिक पुलिस को पता चल जाता है कि कौन-सा व्हीकल अपनी लेन छोड़कर दूसरी लेन में गया और वह ओवर स्पीड था।

इसकी जानकारी जालंधरियों को न होने के कारण अब ऑनलाइन चालान उनके घर पहुंचने लगे हैं। चंडीगढ़ और राजपुरा में येलो लाइन का नियम लागू हुआ है, जिसमें सिर्फ हैवी और कॉमर्शियल व्हीकल के अलावा ऑटो या बसें ही चलेंगी। प्राइवेट वाहन का उस लेन में घुसने पर चालान कटना लाजिमी है। जालंधरियों को ऐसी स्थिति से बचाने के लिए ट्रैफिक पुलिस अवेयरनेस ड्राइव चला रही है। इसमें इंटरसेप्टर कैमरे की मदद से तेज स्पीड वाले वाहन चालकों के चालान भी काटे जा रहे हैं।

बैरिकेड लगा बाईं तरफ आने वाले वाहन चालकों को रोका, फिर समझाया किस तरफ चलाएं गाड़ी

7 हजार का चालान घर पहुंचा, अब सबको ध्यान रखने को कह रहे
हीरापुर गांव में रहने वाले गुरभाग सिंह बिट्टा ने बताया कि वे रिश्तेदार के साथ चंडीगढ़ जा रहे थे। राजपुरा होते हुए वे चंडीगढ़ पहुंच गए। शाम को घर पहुंचे तो उनके फोन पर मैसेज अाया कि रांग साइड चलने और ओवर स्पीड के कारण 7 हजार रुपए का चालान कट गया है। वे चंडीगढ़ गए तो पता लगा कि दो बार येलो लाइन के अंदर जाने और दो बार ओवर स्पीड का चालान कटा है। गुरभाग सिंह ने कहा कि ओवर स्पीड तो ठीक है, लेकिन येलो लाइन रूल की उन्हें जानकारी नहीं थी।

कागज पूरे होने पर भी भुगता एक हजार रुपए का चालान
स्वर्ण पार्क निवासी बल्ली माही ने कहा कि वे रुटीन में राजपुरा व चंडीगढ़ आते-जाते हैं। पिछले हफ्ते येलो लाइन वाला नियम चंडीगढ़ में लागू हो गया था। इसकी उन्हें जानकारी नहीं थी। वे कॉमर्शियल वाहन चलाते हैं। अपनी लेन छोड़कर प्राइवेट में घुस गए तो चंड़ीगढ़ पुलिस ने चौक में ही रोक लिया। कागजात पूरे थे, लेकिन अपनी लेन से भटक गया था। मौके पर एक हजार रुपए जुर्माना भुगतना पड़ा। अब लोगों को ध्यान से गाड़ी चलाने के लिए जागरूक कर रहे हैं।

रॉन्ग पार्किंग व ओवरलोडिंग का भी काटा जा रहा चालान
एडीसीपी गगनेश शर्मा ने बताया कि चंडीगढ़ में नियम लागू हो चुका है। जालंधर से जाने वाले लोग वहां परेशान न हों, इसलिए यहां अवेयरनेस ड्राइव शुरू की गई है। लेफ्ट साइड में वाहन चलाने वालों को रोक कर बताया जा रहा है कि चंडीगढ़ और राजपुरा में इस तरफ सिर्फ कॉमर्शियल व्हीकल ही चल सकते हैं। हादसे कम करने को हैवी व्हीकल्स को एक तरफ किया गया है। ओवरलोडेड और रॉन्ग पार्किंग वालों के भी चालान काटे जा रहे हैं।

एक हजार से पांच हजार तक चालान…हाईवे पर येलो लाइन से बाहर चलने वाले हैवी वाहनों को हजार रुपए और ओवर स्पीड वाहन चालकों को 5 हजार रुपए जुर्माना किया जा रहा है। इसी तरह येलो लाइन के अंदर घुसने वाले प्राइवेट वाहन के लिए भी चालान का नियम है।

खबरें और भी हैं…

पंजाब | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

अमृतसर में तेज रफ्तार वाहन ने ली फौजी की जान: क्वार्टर से ड्यूटी के लिए निकला था बीएसएफ का हवलदार कुलबिंदर सिंह, बोलेरो कैंपर ने मारी टक्कर; अस्पताल में तोड़ा दम

अमृतसरएक घंटा पहले कॉपी लिंक अमृतसर में सड़क हादसे में बीएसएफ के एक हवलदार की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *