Breaking News

नहीं रुक रही कालाबाजारी: गरीबों का 5000 क्विंटल अनाज, अफसरों ने बाजार में बेच खाया

जमशेदपुरएक दिन पहले

  • कॉपी लिंक

बर्मामाइंस गोदाम में जांच करती टीम।

  • गोदामों तक पहुंचने से पहले 1 करोड़ का राशन डकार गए माफिया
  • शहर के 4 एसएफसी गोदाम में 4 दिनों तक चली छापेमारी खत्म

पूर्वी सिंहभूम जिले में गरीबों का एक करोड़ रुपए का अनाज अफसरों और सप्लायरों ने बेच खाया। इसका खुलासा चार एसएफसी गोदामों में चार दिनों तक हुई जांच में हुआ है। साकची गोदाम, जमशेदपुर प्रखंड विकास पदाधिकारी कार्यालय परिसर गोदाम व बर्मामाइंस के दो गोदामों की जांच में 4770 क्विंटल अनाज कम मिला। बर्मामाइंस के एक गोदाम में 487 क्विंटल अनाज ज्यादा मिला, इसे खपाने की तैयारी थी। वहीं 4 हजार नमक का बोरा भी कम मिला।

साकची के गोदाम में नौ हजार बोरा अनाज कम मिला। एक बोरा में 50 किलो अनाज होता है। 4770 किलो खाद्यान्न की कीमत 95.40 लाख रुपए है जबकि गोदाम में ज्यादा मिले 487 क्विंटल अनाज की कीमत लगभग 9.47 लाख रुपए है, जिसकी कालाबाजारी हुई। वहीं गायब हुए नमक की बाजार में कीमत करीब तीन लाख रुपए है। गरीबों के अनाज को एजीएम, डीएसडी, एफसीआई के ट्रांसपोर्टर व पीडीएस दुकानदारों ने बाजार में बेच दिया। जमशेदपुर से लेकर रांची तक खाद्य व आपूर्ति विभाग के अधिकारी व मंत्री कोषांग के कर्मचारियों की मिलीभगत से यह गोरखधंधा चल रहा है। डीएसडी व दुकानदार कालाबाजारी के अहम दोषी हैं। पीडीएस दुकानदार को खाद्यान्न का आवंटन होता है, पर दुकानदार आधा अनाज ही उठाता है, बाकी उलटे गोदाम में ही बेच देता है। कई बार माल गोदाम में पहुंचने से पहले ही सौदा कर लिया जाता है।

साकची गोदाम, 9000 बोरा कम मिला खाद्यान्न, एजीएम को शोकॉज

साकची एसएफसी गोदाम में 9000 बोरा अनाज स्टाॅक रजिस्टर से कम मिला। डीसीएलआर रवींद्र गगराई 4 दिनों से जांच में जुटे थे। शनिवार को जांच पूरी होने पर एजीएम केपी सिंह ने यह कह विरोध किया कि गिनती सही तरीके से नहीं हुई है। डीसीएलआर ने जांच रिपोर्ट एसडीओ नीतीश कुमार सिंह को सौंपी। एजीएम को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। जवाब आने के बाद कार्रवाई होगी।

बर्मामाइंस गोदाम, 478 बोरा चावल कम, 974 बोरा गेहूं ज्यादा मिला

एसएफसी के बर्मामाइंस में दो गोदाम हैं। यहां 478 बोरा चावल कम था, जबकि 974 बोरा गेहूं ज्यादा मिला। एक बोरा में 50 किलो गेहूं होता है। एजीएम जगदीश हाजर के खिलाफ कार्रवाई की अनुंशसा की है। इधर, जमशेदपुर प्रखंड स्थित गोदाम में 56 क्विंटल अनाज कम मिला। डीडीसी परमेश्वर भगत ने जांच रिपोर्ट डीसी सूरज कुमार को सौंप एजीएम कृष्णा कुंटिया के खिलाफ कार्रवाई करने की अनुशंसा की।

जांच रिपोर्ट मिली है, अब करेंगे कार्रवाई

जांच पूरी हो गई है। साकची गोदाम में 9000 बोरा अनाज और बर्मामाइंस गोदाम में 428 बोरा चावल कम मिला। जबकि यहां गेहूं का 974 बोरा ज्यादा मिला है। जमशेदपुर प्रखंड कार्यालय गोदाम में 56 क्विंटल खाद्यान्न कम पाया है। सभी की जांच रिपोर्ट मिली है। दोषी पर कार्रवाई होगी।
नीतीश कुमार सिंह, एसडीओ

खबरें और भी हैं…

झारखंड | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

सड़क हादसे में टाटा स्टील कर्मी की मौत: बाइक अनियंत्रित होकर खंभे से टकराई, सिर और मुंह पर लगी गहरी चोट

जमशेदपुर23 मिनट पहले कॉपी लिंक लोगों ने जख्मी गीतेश्वर प्रसाद को एमजीएम पहुंचाया, जहां डॉक्टर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *