Breaking News

पानी का संकट: पानी के लिए निगम पार्षदों को आधी रात में धरने पर बैठना पड़ा, पांच घंटे तक बैठे रहे, फिर पहुंचे निगम अधिकारी

फरीदाबाद3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पानी सप्लाई शुरू होने के बाद धरना समाप्त किया गया।

पानी के लिए अब सत्ताधारी निगम पार्षदों को भी धरने पर बैठना पड़ रहा है। क्योंकि अधिकारी फोन नहीं उठाते और कर्मचारी बूस्टरों से गायब रहते हैं। मामला एनआईटी क्षेत्र का है। यहां सोमवार की आधी रात में निगम पार्षदों को पानी के लिए धरने के लिए मजबूर होना पड़ा। करीब पांच घंटे तक धरने पर बैठे रहे। इसके बाद निगम अधिकारी मौके पर पहुंचे और मोटर चलवाकर पानी की सप्लाई शुरू होने के बाद धरना खत्म हुआ। पार्षदों का आरोप है कि अधिकारी फोन नहीं उठाते। कर्मचारी बूस्टरों से गायब रहते हैं। ऐसे में लोगों को पानी कैसे मिलेगा।

बता दें कि एनआईटी क्षेत्र में पानी की सप्लाई मंझावली रैनीवेल से आती है। वहां से पानी मिर्जापुर पहुंचता है। इसके बाद सेक्टर-11 बूस्टिंग स्टेशन पर आता है। यहां से पानी मोटरों की सहायता से वार्ड 5, 6, 7, 8, 10, 11 में सप्लाई होती है।15 दिनों से यहां पानी की समस्या बनी है। मोटर खराब है उसे ठीक नहीं कराया जा रहा है। ऐसे में लाखों लोगों को परेशानी हाे रही है। लोग पार्षदों के पास पहुंच रहे हैं। सोमवार की आधी रात इस समस्या को लेकर पार्षद पति कविंद्र चौधरी, सुरेंद्र अग्रवाल और मनोज नासवा सेक्टर 11 बूस्टर पहुंचकर धरने पर बैठे गए। क्योंकि इन लोगों के इलाकों में पानी नहीं जा रहा है।

एक्सईएन को रात में मौके पर भेजा

पार्षदों ने देररात निगम कमिश्नर डॉ. गरिमा मित्तल को फोन कर समस्या बताई। तो उन्होंने रात में ही एक्स्ईएन विवेक गिल को मौके पर भेजकर समस्या का समाधान कराने का आदेश दिया। कविंद्र चौधरी ने बताया कि बूस्टर पर मौजूद कर्मचारी से जब मोटर चलाने के लिए कहा गया तो, उसने कहा कि मोटर लोड नहीं उठा रही है। ये कोई एक दिन की बात नहीं अक्सर यही समस्या रहती है। आधी रात में मौके पर पहुंचे एक्सईएन विवेक गिल ने सभी मोटरें चालू करवाई। पानी सप्लाई शुरू होने के बाद करीब डेढ़ बजे धरना खत्म हुआ। निगम कमिश्नर गरिमा मित्तल का कहना है कि इस मामले में जिम्मेदार कर्मचारी और ठेकेदार की जांच की जाएगी। लापरवाही पाए जाने पर सख्त कार्रवाई होगी।

खबरें और भी हैं…

दिल्ली + एनसीआर | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

अधिकारी के बेतुके बोल: परेशान लोगों ने निगम अधिकारी से पानी मांगा तो एक्स्ईएन बोले, फरीदाबाद में किसी की हिम्मत नहीं जो डिमांड पर पानी उपलब्ध करा दे

फरीदाबाद4 घंटे पहले कॉपी लिंक पानी संकट को लेकर सैनिक कॉलाेनी के लोग अफसरों के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *