Breaking News

फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़: ‘यू मे बी अरेस्टेड फॉर मिस यूज ऑफ सोशल सिक्योरिटी नंबर’ का मैसेज भेज ठगी करने वाला कॉल सेंटर पकड़ा

गुड़गांव23 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

इस कॉल सेंटर से देते थे ठगी की वारदातों काे अंजाम।

  • दो दिन पहले भी ठगी करने वाले कॉल सेंटर में की थी छापेमारी
  • पालम विहार के एक घर के बेसमेंट में चल रहा था फर्जी कॉल सेंटर

‘यू मे बी अरेस्टेड फ़ॉर मिसयूज ऑफ सोशल सिक्योरिटी नंबर’ का मैसेज भेजकर यूएस नागरिकों को ठगने वाले फर्जी कॉल सेंटर का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। कॉल सेंटर में काम करने वाले कर्मचारी गिरफ्तारी का डर दिखाकर यूएस नागरिकों से 200 से 500 डॉलर की ठगी करते थे। एसीपी करण गोयल ने बताया कि इंस्पेक्टर आजाद सिंह को सूचना मिली थी कि सेक्टर-23 के प्लॉट नंबर 3202 में फर्जी कॉल सेंटर चलाया जा रहा है।

इस पर छापेमारी कर टीम तैयार की गई। टीम मौके पर पहुंची तो पाया कि कुछ युवक, युवतियां कंप्यूटर के जरिए फोन कर रहे हैं। यहां मौजूद टीम लीडर वेस्ट मुंबई निवासी जरार हैदर ने बताया कि यह विदेशियों को ठगने के लिए वाउचर ग्रुप में भेजते हैं। मौके पर कॉल सेंटर टेक्नीशियन भोपाल निवासी प्राथीश पटेल व निशर्ग को भी काबू किया गया। उन्होंने बताया कि वह किस तरह से यूएस नागरिकों को कॉल करते हैं। यूएस नागरिकों को कॉल कर रहे 20 युवक व 11 युवतियों से भी पुलिस ने पूछताछ की।

पूछताछ में सामने आया कि कॉल सेंटर को जिगर प्रमार, भोला, दीपक व मौलिक चला रहे हैं। दो महीने पहले ही उन्होंने यह मकान किराए पर लिया था। जांच में पाया कि इन्होंने वेबसाइट्स से यूएस नागरिकों का डाटा लिया और वीसी डायलर से फोन करते हैं। आरोपी ठगी की राशि को ट्रांसफर करवाने के लिए ईबे, गूगल पे, टारगेट व नाइक के जरिए गिफ्ट कार्ड खरीदवाते थे।

यहां भी हो रही थी सैंकड़ों डॉलरों में ठगी

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि अमेरिकी नागरिकों का डाटा ऑनलाइन अलग-अलग वेबसाइट से खरीदकर अपने सर्वर वीआइसीआइ डायलर पर अपलोड करके तीन से चार हजार लोगों को काल करके उन्हें सोशल सिक्योरिटी नंबर ब्लाक करने भय दिखाते थे। इसके बाद उनसे 200 से 500 डालर की मांगते थे। मना करने पर नंबर सस्पेंड करने या अरेस्ट वारंट का खौफ दिखाते थे। इसके बाद ग्राहक से टारगेट, ई-बे, नाइक एवं गूगलप्ले के गिफ्ट वाउचर खरीदवाकर वसूली करते थे।

खबरें और भी हैं…

दिल्ली + एनसीआर | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

भारी भरकम डेवलपमेंट चार्ज के नोटिसों से उद्ममी परेशान: निगम कमिश्नर से बोले- उद्योग बंदी व मंदी के दौर से गुजर रहे, ऐसे में नोटिस थमाना व्यावहारिक नहीं

Hindi News Local Delhi ncr Faridabad Said To The Commissioner Of The Corporation The Industry …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *