Breaking News

फोन टेपिंग मामले का जोरदार विरोध: जासूसी करा कर कर्नाटक और मध्यप्रदेश में सरकारों को तोड़ा गया

रांची13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रदर्शन में शामिल कांग्रेस के विधायक, मंत्री और वरिष्ठ नेता।

  • राजभवन के समक्ष कांग्रेस का प्रदर्शन

इजराइली स्पाइवेयर पेगासस के माध्यम से विपक्षी नेताओं, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी, चुनाव आयुक्त, पत्रकारों और गणमान्य लोगों के फोन हैकिंग के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस ने गुरुवार को राजभवन के समक्ष प्रदर्शन किया। जासूसी कांड की सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में न्यायिक जांच और गृहमंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग को लेकर कांग्रेस ने देशव्यापी विरोध कार्यक्रम किया। कोरोना गाइडलाइन के तहत प्राप्त निर्देशों के आलोक में मार्च व जुलूस को स्थगित कर दिया गया।

मौके पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. रामेश्वर उरांव ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा विरोधियों की निगरानी और फोन हैकिंग कराना पूरी तरह गैर कानूनी है। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट को स्वतः संज्ञान लेते हुए न्यायिक जांच का आदेश देना चाहिए। उन्होंने कहा कि जासूसी का काम प्रधानमंत्री के इशारे पर ही संभव है। इसके माध्यम से ही कर्नाटक और मध्यप्रदेश में सरकार तोड़ने काम किया गया। जबकि इजरायली सरकार का स्पष्ट कहना है कि इसका इस्तेमाल केवल आतंकी और आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए सिर्फ सरकार को ही दिया जा सकता है।

भाजपा और केंद्र सरकार अभी 50 हजार लोगों की जासूसी करा रही है : सहाय
पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय ने कहा कि भाजपा और केंद्र सरकार अभी 50 हजार लोगों की जासूसी करा रही है, लेकिन आने वाले समय में इसकी संख्या बढ़कर 50 करोड़ भी हो सकती है। यह काम पीएमओ और केंद्रीय गृह मंत्रालय से सहमति मिले बिना संभव ही नहीं है।

देशव्यापी आंदोलन की गूंज केंद्र सरकार के कानों तक जरूर पहुंचेगी : बादल

लोकतांत्रिक मूल्यों पर बड़ा प्रहार किया गया, दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए : बन्ना गुप्ता
स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि केंद्र सरकार ने लोकतांत्रिक मूल्यों पर बड़ा प्रहार किया है और इस भूल के लिए बिना विलंब किये केंद्र सरकार को माफी मांगनी चाहिए तथा दोषियों पर कार्रवाई होनी चाहिए। कृषि मंत्री बादल ने कहा कि पेगासस के कारण अब बेडरूम में भी लोग सुरक्षित नहीं।

लोकतांत्रिक मूल्यों के हनन के लिए देशव्यापी आंदोलन की गूंज केंद्र सरकार के कानों तक जरूर पहुंचेगी। मौके पर रोशन लाल भाटिया, नीटा डिसूजा, राजेश ठाकुर, केशव महतो कमलेश, संजय पासवान, संजय पांडे, मानस सिन्हा, विधायक उमाशंकर अकेला, दीपिका पांडेय सिंह, आलोक कुमार दूबे, लाल किशोर नाथ शाहदेव, डॉ. राजेश गुप्ता, गीताश्री उरांव आदि माैजूद थे।

खबरें और भी हैं…

झारखंड | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

रांची में शव मिलने से सनसनी: तुपुदाना में सड़क किनारे फेंका मिला युवक का शव, पूरे शरीर में हैं जख्म के निशान, जांच में जुटी पुलिस

रांची2 घंटे पहले कॉपी लिंक मृतक की पहचान के लिए तुपुदाना ओपी पुलिस ने सभी नजदीकी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *