Breaking News

बिजली अच्छादन योजना: 33 केवी यूजी लाइन का काम जुलाई में हो जाएगा पूरा, शहर के 60% इलाकों में आंधी व बारिश में भी निर्बाध बिजली मिलेगी

  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • The Work Of 33 KV UG Line Will Be Completed In July, 60% Areas Of The City Will Get Uninterrupted Electricity Even In Storm And Rain.

रांची5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

  • 33 केवी यूजी लाइन का 16 में से 11 का काम हुआ पूरा, कुसई-एयरपोर्ट, हटिया-हरमू व हटिया-पुंदाग लाइन को जल्द पूरा करने का लक्ष्य
  • पार्षदों ने कहा- पहले की तुलना में स्थिति में सुधार, पर बिजली आती-जाती रहती है

रांची में बिजली वितरण सुधार को लेकर झारखंड संपूर्ण बिजली अच्छादन योजना (जसवे) के तहत चल रहे 16 अंडरग्राउंड केबलिंग में 11 पूरा करके पिछले छह माह के अलग-अगल अंतराल पर शुरू कर दिया गया। जबकि, एक को चार्ज करना बाकी है। दो को 30 जून व 30 जुलाई तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। 100 प्रतिशत काम पूरा होने पर शहर के 60 प्रतिशत इलाकों में आंधी-बारिश में भी निर्बाध बिजली मिलेगी।

इस संबंध में वार्ड नंबर एक के पार्षद नकुल तिर्की ने कहा कि पहले जैसी बिजली तो इस बारिश में नहीं कटी है। अभी जब बिजली थोड़ी देर के लिए कटती है। वार्ड 16 की पार्षद नाजिमा रजा ने कहा कि पहले से थोड़ा सुधार है। पिछले बारिश की तुलना में बेहतर कंपलेन करने से तुरंत मिस्त्री भी आ जाते हैं। पड़ताल में पता चला कि पिछले दिनों आए तूफान यास में 33 केवी लाइन डिस्टर्ब नहीं हुआ। इससे जुड़े इलाकों में सामान्य तरीके से बिजली आपूर्ति होती रही। इधर, मानसून शुरू होने के बाद भी राहत मिल रही है। 11 केवी लाइन व अन्य लोकल फॉल्ट जैसे फ्यूज खराबी, ट्रांसफाॅरमर में खराबी को छोड़ बिजली आपूर्ति सामान्य चल रही है।

सभी काम पूरा करने के लिए रांची सर्किल बना रहा योजना

आरपीडीआरपी और जसवे योजना के तहत शहर की 80 प्रतिशत 33 केवी लाइन और 20 प्रतिशत 11 केवी लाइन भूमिगत हो जाएंगे। इसके बाद बची सभी 11 केवी व 33 केवी लाइन अगर पूरी तरह भूमिगत हो जाता है ताे आने वाले दिनों में आंधी-पानी से पूरी तरह राहत मिल सकती है। इसको लेकर रांची सर्किल योजना बना रहा है, जिसे निगम मुख्यालय भेजा जाएगा।

ये 33 केवी लाइन हो चुके हैं चार्ज

  • कांके-राजभवन
  • कांके-मोरहाबादी
  • मोरहाबादी-राजभवन
  • नामकुम-चुटिया
  • नामकुम-नामकुम ग्रिड
  • कुसई-एयरपोर्ट
  • हटिया ग्रिड-विधानसभा सबस्टेशन
  • कुसई-एयरपोर्ट

ये लाइन 30 जुलाई तक करना है पूरा

  • हटिया-हरमू 33
  • हटिया-अरगोड़ा
  • हटिया-पुंदाग
  • हटिया-आईटीआई

अब फोकस रहेगा 11 केवी लाइन का काम जल्द शुरू हो

जो 33 केवी लाइन पूरी हो चुकी है, उसका फायदा बारिश में देखने को मिला है। लोकल फॉल्ट को छोड़ बाकी बिजली सामान्य है। क्योंकि, आंधी-बारिश में सबसे अधिक खराबी 33 केवी लाइन से ही होती थी। अब फोकस रहेगा कि बची 11 केवी व 33 केवी लाइन का काम जल्द शुरू हो। प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है, मुख्यालय भेजा जाएगा।
-पीके श्रीवास्तव, जीएम, रांची

खबरें और भी हैं…

झारखंड | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

महलों वाले मंत्री: 4000 वर्गफीट के आवास से निकलकर 16 हजार वर्गफीट वाले आलीशान बंगले में शिफ्ट होंगे मंत्री

रांचीएक घंटा पहले कॉपी लिंक कैबिनेट ने दी मंजूरी, स्मार्ट सिटी में 10 एकड़ जमीन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *