Breaking News

बेतिया से ग्राउंड रिपोर्ट: बाढ़ आने से 3 दिन पहले ठेकेदार तो तोड़ दिया पुल, बाढ़ के पानी से गुजर 5 गांवों में आने-जाने के लिए अब रस्सी का सहारा

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Ground Report From Bettiah; People Of 5 Villages In Chanpatia Block Using Rope To Travel Through Flood Waters

बेतिया7 मिनट पहले

बेतिया जिले में हो रही लगातार बारिश के कारण बाढ़ का पानी कई गांव में घुस चुका है। कई गांव ऐसे हैं जहां बाढ़ के पानी के घुसने से आवागमन ठप हो चुका है। ऐसा ही मामला बेतिया के चनपटिया प्रखंड के जैतिया पंचायत के पिपरा गांव वार्ड नंबर 5 का है। यहां पिपरा गांव से तुलाराम घाट, सिसवनिया, चिकपट्टी, नोनिया टोला जाने वाली मुख्य सड़क के बीचों-बीच पुल टूट चुका है। अब लोगों को रस्सी के सहारे इस पार से उस पार जाना पड़ रहा है।

जो लोग रस्सी के सहारे नहीं जा रहे हैं, उन्हें कमर भर पानी से होकर गुजरना पड़ा है। ऐसे में जान जोखिम में डालकर रस्सी का सहारा लेकर पार कर रहे लोगों के साथ कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।

बाढ़ आने से 3 दिन पहले ठेकेदार ने तोड़ा पुल

स्थानीय लोगों का कहना है कि बाढ़ आने से 3 दिन पहले ठेकेदार द्वारा पुल को तोड़ दिया गया, ताकि दूसरे पुल का निर्माण हो सके। इधर अचानक तेज बारिश के कारण जिले में बाढ़ आ गई। बाढ़ के कारण आवागमन पूरी तरह से बाधित हो गया। अब रस्सी ही एकमात्र सहारा है। रस्सी के सहारे इस पार से उस पार लोग जान जोखिम में डालकर लोग जाने को मजबूर है। गांव में अगर किसी की तबीयत खराब हो जाए तो उन्हें गांव से बाहर निकालने के लिए कोई रास्ता नहीं है। ग्रामीण लक्ष्मण राम ने बताया कि उनके बच्चे की तबीयत खराब है, वह दवा लेने जा रहे हैं। रस्सी एकमात्र सहारा है। आने-जाने का कोई रास्ता ही नहीं है। लोगों का कहना है कि जल्द से जल्द पुल का निर्माण हो जाता तो आवागमन सुचारू रूप से चलता।

ऐसे में सवाल उठता है कि जब मौसम विभाग के द्वारा 15 जून से मानसून की सूचना मिल गई थी तो पुल को क्यों तोड़ा गया। अगर पुल की मरम्मत ही करानी थी तो मानसून आने से कुछ महीने पहले भी यह काम किया जा सकता था। इसे जिला प्रशासन की लापरवाही कहें या ठेकेदार की। जब मानसून दस्तक देने वाला था उसी समय इस पुल को तोड़ा गया। ऐसे में जैतिया पंचायत के कई गांव टापू में तब्दील हो गए।

क्या कहते हैं जिम्मेदार

इस संबंध में जब चनपटिया के प्रखंड विकास पदाधिकारी दीनबंधु दिवाकर से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यह मेरे क्षेत्र में नहीं आता है। आप सीओ साहब से बात कर लीजिए। इस संबंध में चनपटिया CO राकेश कुमार ने बताया कि मैं जाकर देख रहा हूं। चनपटिया विधायक उमाकांत सिंह का कहना है कि मैं प्रशासन से बात कर वहां नाव की व्यवस्था करा दे रहा हूं।

(चनपटिया से गोलू कुमार शुक्ला की रिपोर्ट)

खबरें और भी हैं…

बिहार | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

बाप ने बेटे को मार डाला: बहू से था ससुर का प्रेम-प्रसंग, इसलिए बेटे को रास्ते से हटाया; पुलिस ने हत्यारे बाप को किया गिरफ्तार

दानापुरएक घंटा पहले कॉपी लिंक पुलिस हिरासत में हत्यारोपी पिता। बहू के प्रेम में पागल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *