Breaking News

ब्रिटेन: ब्रिटिश संसद में पीएम जॉनसन से 80 वर्ष से अधिक आयु के लोगों से माफी मांगने को कहा गया

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन
– फोटो : twitter.com/BorisJohnson

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को बुधवार को संसद में देश के बुजुर्गों से माफी मांगने को कहा गया। दरअसल, उनके पूर्व शीर्ष सहयोगी ने दावा किया था कि प्रधानमंत्री ने पिछले साल दूसरे लॉकडाउन की जरूरत को खारिज कर दिया था क्योंकि कोविड-19 से मरने वाले लोग 80 साल से अधिक आयु के थे।

ब्रिटिश संसद के निचले सदन हाउस ऑफ कॉमंस में प्रधानमंत्री के साप्ताहिक प्रश्नोत्तर सत्र में जॉनसन चेकर्स के ग्रामीण इलाके में स्थित अपने आवास से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से उपस्थित हुए, जहां वह खुद क्वारंटीन में हैं।

विपक्ष ने मंगलवार को बीबीसी को दिए साक्षात्कार में डोमिनिक कमिंग्स द्वारा लगाए गए आरोपों को लेकर जॉनसन को संसद में घेरने की कोशिश की। जॉनसन ने पिछले साल अक्टूबर में यह टिप्पणी करने की बात से इनकार नहीं किया, जब उन्होंने कहा था कि सरकार संतुलन बनाते हुए असाधारण रूप से सख्त फैसले ले रही है।

उन्होंने कहा, मैं इस डिजिटल माध्यम से कुछ नहीं कह सकता या मैं कुछ नहीं कर सकता। इस पर विपक्षी लेबर नेता केर स्टार्मर ने जोर देते हुए कहा, मुझे लगता है कि हमे यह जांच करने की जरूरत है कि चेकर्स में लाइन काम कर रहा है या नहीं क्योंकि प्रधानमंत्री के जवाब का मेरे सवाल से असल में कोई संबंध नहीं है।

स्कॉटिश नेशनल पार्टी के नेता इयान ब्लैकफोर्ड ने भी माफी मांगने की मांग करते हुए महामारी से निपटने के सरकार के तौर तरीके की फौरन सार्वजनिक जांच करने की फिर से मांग की।

जॉनसन ने कहा कि यह सही है कि अगले साल की शुरूआत में जब देश में स्थिति बेहतर हो जाए तब जांच शुरू करनी चाहिए, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि हम हर वक्त सबक सीखना जारी रखें।

विस्तार

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को बुधवार को संसद में देश के बुजुर्गों से माफी मांगने को कहा गया। दरअसल, उनके पूर्व शीर्ष सहयोगी ने दावा किया था कि प्रधानमंत्री ने पिछले साल दूसरे लॉकडाउन की जरूरत को खारिज कर दिया था क्योंकि कोविड-19 से मरने वाले लोग 80 साल से अधिक आयु के थे।

ब्रिटिश संसद के निचले सदन हाउस ऑफ कॉमंस में प्रधानमंत्री के साप्ताहिक प्रश्नोत्तर सत्र में जॉनसन चेकर्स के ग्रामीण इलाके में स्थित अपने आवास से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से उपस्थित हुए, जहां वह खुद क्वारंटीन में हैं।

विपक्ष ने मंगलवार को बीबीसी को दिए साक्षात्कार में डोमिनिक कमिंग्स द्वारा लगाए गए आरोपों को लेकर जॉनसन को संसद में घेरने की कोशिश की। जॉनसन ने पिछले साल अक्टूबर में यह टिप्पणी करने की बात से इनकार नहीं किया, जब उन्होंने कहा था कि सरकार संतुलन बनाते हुए असाधारण रूप से सख्त फैसले ले रही है।

उन्होंने कहा, मैं इस डिजिटल माध्यम से कुछ नहीं कह सकता या मैं कुछ नहीं कर सकता। इस पर विपक्षी लेबर नेता केर स्टार्मर ने जोर देते हुए कहा, मुझे लगता है कि हमे यह जांच करने की जरूरत है कि चेकर्स में लाइन काम कर रहा है या नहीं क्योंकि प्रधानमंत्री के जवाब का मेरे सवाल से असल में कोई संबंध नहीं है।

स्कॉटिश नेशनल पार्टी के नेता इयान ब्लैकफोर्ड ने भी माफी मांगने की मांग करते हुए महामारी से निपटने के सरकार के तौर तरीके की फौरन सार्वजनिक जांच करने की फिर से मांग की।

जॉनसन ने कहा कि यह सही है कि अगले साल की शुरूआत में जब देश में स्थिति बेहतर हो जाए तब जांच शुरू करनी चाहिए, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि हम हर वक्त सबक सीखना जारी रखें।

Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | – Amar Ujala

About R. News World

Check Also

यूपी चुनाव 2022: 400 सीटें जीतने का लक्ष्य लेकर साइकिल यात्रा पर निकले अखिलेश यादव, कार्यकर्ताओं में जोश

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: ishwar ashish Updated Thu, 05 Aug 2021 12:17 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *