Breaking News

भारी कटौती: केंद्र ने झारखंड के समग्र शिक्षा बजट में की 1299 कराेड़ कटाैती

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रांची20 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो

  • 3241 कराेड़ का बजट प्रस्ताव भेजा, 1942 कराेड़ मंजूर
  • कहा-पहले का काम पूरा करें, फिर बात करेंगे

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के प्राेजेक्ट एप्रूवल बाेर्ड ने झारखंड के समग्र शिक्षा अभियान के लिए भेजे गए बजट प्रस्ताव में 1299 कराेड़ रुपए की कटाैती कर दी है। झारखंड सरकार ने 3241 कराेड़ रुपए का बजट केंद्र काे भेजा था। इनमें से सिर्फ 1942 कराेड़ रुपए ही पास हुए। हालांकि पिछले साल का बकाया 212 कराेड़ रुपए स्वीकृत कर दिया गया। अब इस साल झारखंड काे कुल 2154 कराेड़ रुपए मिलेंगे।

पिछले वित्तीय वर्ष में भी पैब ने करीब 2400 कराेड़ रुपए का बजट पास किया था। इस बार उससे भी 458 कराेड़ रुपए कम स्वीकृत हुए। पैब के अधिकारियाें का कहना है कि पिछले साल पारित हुई कई याेजनाओं की शुरुआत ही नहीं हुई। ऐसे में बजट बढ़ाने का काेई कारण नहीं दिखता। राज्य सरकार पिछले साल दिए गए पैसे का उपयाेग करे। पिछले साल पारित याेजनाएं पूरी करे। इसके बाद ही आगे के लिए विचार हाेगा।

कहां हुई कटाैती और क्याें

1 1000 स्कूलाें में इन्फाॅर्मेशन एंड कम्युनिकेशन टेक्नाेलाॅजी लैब (आईसीटी) खाेलने और 1228 स्कूलाें में स्मार्ट क्लास बनाने का प्रस्ताव पैब ने नामंजूर किया। कहा- पिछले साल 800 स्कूलाें में आईसीटी लैब स्थापित करने की मंजूरी दी गई थी। इसके लिए पैसे भी जारी किए गए थे। उन स्कूलाें में अब तक काम ही शुरू नहीं हाे पाया। झारखंड इस साल पहले उन स्कूलाें में आईसीटी लैब स्थापित करे। दूसरे स्कूलाें में अाईसीटी लैब की राशि अगले साल स्वीकृत की जाएगी।

2 कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय के लिए फंड बढ़ाने के प्रस्ताव काे भी नामंजूर कर दिया गया। पैब ने कहा कि जब ये स्कूल एक साल से बंद पड़े हुए हैं ताे इस वर्ष फिर भाेजन मद में पैसे कैसे दिए जा सकते हैं।

3 पारा टीचर्स की सैलरी के लिए झारखंड ने 878 कराेड़ मांगे थे। पैब ने 781 कराेड़ रु मंजूर किए। कहा-राज्य में पारा टीचर्स की संख्या कुछ कम हुई है। राज्य सरकार भी इनकी सैलरी का कुछ भार उठाए।

4 कई सिविल वर्क में भी कटाैती की गई है। अतिरिक्त क्लास रूम और भवन निर्माण के लिए राशि घटाई गई है। झारखंड सरकार ने दुमका-खूंटी में डायट भवन बनाने का प्रस्ताव भेजा था। सिर्फ दुमका में डायट भवन बनाने की मंजूरी मिली। हालांकि शाैचालय निर्माण की राशि स्वीकृत हाे गई।

खबरें और भी हैं…

झारखंड | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

टाटा स्टील: कर्मियों के बच्चों को स्पोर्ट्स में भी स्काॅलरशिप एक साल तक प्रतिमाह 10 हजार रुपए मिलेंगे

जमशेदपुर5 घंटे पहले कॉपी लिंक राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय खेलों में पदक विजेताओं को मौका, 1 दिसंबर तक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *