Breaking News

मुख्यमंत्री के बेटे की शादी में संगीत समारोह का मामला: जिन वर्दीधारी की मुख्यमंत्री के बेटे की शादी से पहले समारोह के गेट पर थी तैनाती, वह जाम छलकाकर थे मदमस्त, चार को किया गया निलंबित

  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The Uniformed Was Deployed In The Women’s Sangeet Ceremony Before The Chief Minister’s Son’s Wedding, He Was Drunk, Four Were Suspended

चंडीगढ़ / मोहाली30 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सीआइए खरड़ इंचार्ज सुखबीर सिंह – फाइल फोटो

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के बेटे नवजोत सिंह की शादी सिमरंधीर कौर से बीते रविवार को मोहाली के एक गुरुद्वारा साहिब में हुई थी। शादी के सिलसिले में 8 अक्टूबर को अरिस्ता रिजॉर्ट में महिला संगीत समारोह आयोजित की गई थी। जहां पर मुख्यमंत्री की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई है। समारोह में जिन जवानों को सुरक्षा के लिए तैनात किया गया था। उन वर्दीधारी जवानों ने ड्यूटी के दौरान जमकर जाम छलकाते हुए डांस किया। समारोह के दौरान शराब पीकर मौज करने, ड्यूटी में कोताही बरतने के मामले में चार पुलिस कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है।

शिकायत की कॉपी

शिकायत की कॉपी

निलंबित होने वालों में सीआइए खरड़ इंचार्ज सुखबीर सिंह, हवलदार जसकरण सिंह, हवलदार दर्शन सिंह और सिपाही सतबीर सिंह शामिल हैं। यह कार्रवाई इंटेलीजेंस की रिपोर्ट के बाद हुई है। डीजीपी ने आईपीएस अधिकारी सरताज सिंह चहल को दो महीने में जांच रिपोर्ट देने के आदेश भी दिए हैं। बता दें कि सुरक्षा में तैनात उक्त तीनों मुलाजिम गेट छोड़कर लेडीज संगीत की पार्टी में अंदर चले गए थे।

गेट पर तैनाती अंदर छलकाए जा रहे थे जाम

इंटेलिजेंस की तरफ से डीजीपी को एक पत्र लिख कर बताया गया है कि गेट पर तैनात किए गए सीआईए इंचार्ज सुखबीर सिंह, हवलदार जसकरण सिंह, हवलदार दर्शन सिंह और सिपाही सतबीर सिंह गेट से गायब थे। जो कार्यक्रम में जाकर जाम छलका रहे थे। जिसके कारण प्रोग्राम में किसकी एंट्री हुई, किसी को कुछ पता नहीं। सीएम की सुरक्षा का भी प्रोटोकॉल है। तीनों तीनों मुलाजिम अंदर जाकर सभी नेताओं के साथ फोटो खिंचवा रहे थे। साथ ही जाम भी छलका रहे थे।

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का बेटा अपने पत्नी के साथ

मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी का बेटा अपने पत्नी के साथ

हर 15 दिन में जांच रिपोर्ट डीजीपी को भेजा जाएगा

सस्पेंड मुलाजिमों के खिलाफ विभागीय जांच शुरू कर दी गई है। मामले की जांच आईपीएस सरताज सिंह चाहल कर रहे हैं। जांच को दो माह में पूरा करना होगा। हर पंद्रह दिन की जांच रिपोर्ट डीजीपी कार्यालय को भेजनी होगी। दूसरी तरफ एडीजीपी इंटेलिजेंस की ओर से आईजी सीएम सिक्योरिटी को एक पत्र लिखा गया है। पत्र में कहा गया है कि मुख्यमंत्री की सुरक्षा में कई तरह की खामियां पाई गई। पत्र में 8 अक्टूबर को मुख्यमंत्री चन्नी के बेटे की खरड़ स्थित रिजोट में हुए लेडी संगीत कार्यक्रम में सुरक्षा खामियों का जिक्र किया गया है।

ब्लड सैंपल जांच रिपोर्ट आने के बाद मामला होगा साफ

जिन पुलिस कर्मचारियों पर ड्यूटी के दौरान शराब पीने का आरोप लगा है। इन सभी पुलिस कर्मचारियों के ब्लड सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। ऐसे में बल्ड जांच रिपोर्ट आने के बाद ही साफ हो पाएगा कि सुरक्षा में तैनात पुलिस कर्मचारियों ने शराब का सेवन किया था या नहीं?

गुरद्वारा शाहीब में चन्नी के बेटे के साथ मौजूद लोग

गुरद्वारा शाहीब में चन्नी के बेटे के साथ मौजूद लोग

अधिकारी भी छू रहे थे मुख्यमंत्री के पांव

एडीजीपी इंटेलिजेंस की ओर से आइजी सीएम सिक्योरिटी को एक पत्र लिखा गया है, जिसमें कहा गया है कि पुलिस व कई ऑफिसर मुख्यमंत्री के पांव छू रहे थे। जो वर्दीधारी अऑफिसर के लिए शर्मनाक बात है। वहीं सादी वर्दी में तैनात महिला पुलिस कर्मी भी ड्यूटी की बजाए पूरी मौज मस्ती करती दिखाई दी थी।

खबरें और भी हैं…

चंडीगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

करनाल की घीड़ मंडी सुर्खियों में: 9 राइस मिलर्स को नहीं मिलेगा सरकारी धान, भ्रष्टाचार में लिप्त खरीद एजेंसी के इंस्पेक्टर होंगे सस्पेंड

यमुनानगरएक घंटा पहले कॉपी लिंक घीड़ अनाज मंडी में बिकने के लिए आया धान। हरियाणा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *