Breaking News

मेयर के मुहल्ले में मनमानी: नाइट कर्फ्यू और टोटल लॉकडाउन का नियम बैजनाथ पारा में नहीं होता लागू, तेलीबांधा के रेस्टोरेंट तो रात 12 बजे तक चलते रहे

रायपुर13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ये है रायपुर का नाइट कर्फ्यू, सब खुला है । तस्वीर तेलीबांधा इलाके रेस्टारेंट्स की जो रात 12 बजे तक यूं ही सेवाएं देते रहे।

प्रदेश की सरकार ने लगभग पूरे प्रदेश में हर रोज शाम 6 बजे के बाद नाइट कर्फ्यू और हर रविवार को टोटल लॉकडाउन का नियम लागू किया है। मगर ये नियम रायपुर के बैजनाथपारा में लागू करवाने के मामले में जिला प्रशासन और पुलिस की टीम नाकाम रही है। रविवार रात इस इलाके का एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें इलाके की दुकानें आम दिनों की तरह खुली थीं। रात के साढ़े 10 बजे से साढ़े 11 बजे तक गलियों में अच्छी खासी भीड़ न कोविड प्रोटोकॉल के पालन की चिंता न ही इस बात का डर कि कहीं प्रशासन की कोई कार्रवाई न हो जाए।

चाय बीड़ी सिगरेट के अलावा बिरयानी के सेंटर भी रात 11 बजे तक खुले रहे।

चाय बीड़ी सिगरेट के अलावा बिरयानी के सेंटर भी रात 11 बजे तक खुले रहे।

बैजनाथ पारा रात के 11 बजे
दैनिक भास्कर की टीम ने रात के करीब 11 बजे बैजनाथ पारा पहुंचकर हालात का जायजा लिया। यहां बीड़ी, सिगरेट, पान और चाय की दुकानें पूरे उत्साह के साथ खुली दिखीं। जबकि संडे लॉकडाउन में इन्हें बंद रखने का नियम है। अंदर की तरफ कबाब और बिरयानी बेचने वाले होटलों में कुछ लोग बैठकर खा रहे थे। शहर के महापौर एजाज ढेबर इसी इलाके के हैं, शहर में नियमों को तोड़कर दुकानें न खुलें इसका जिम्मा नगर निगम पर है और ढेबर नगर निगम के महापौर हैं। इस इलाके से कुछ ही दूरी पर गोलबाजार थाना, मौदहापारा थाना और कोतवाली थाना है। यहां के अफसरों को भी पता है कि रात के वक्त बैजनाथपारा में नियमों का पालन नहीं होता।

टोटल लॉकडाउन के बीच अड्‌डेबाजी भी जरूरी है।

टोटल लॉकडाउन के बीच अड्‌डेबाजी भी जरूरी है।

तेलीबांधा इलाका रात के साढ़े 11 बजे
मेग्नेटो मॉल से थोड़ा आगे जाने पर सड़क की लेफ्ट साइड में एक साथ कई रेस्टोरेंट और ढाबे हैं। यहां कारों का मजमा लगा हुआ था। कार में बैठे युवक सिगरेट पी रहे थे और कोल्ड ड्रिंक्स का लुत्फ ले रहे थे। रेस्टोरेंट के अंदर भी दर्जनों युवकों का झुंड मौजूद था। 10 बजे कलेक्टर ने सब कुछ बंद करने को कहा था मगर यहां मुनाफे के चक्कर में नियमों के पालन को एक भी रेस्टोरेंट वाले ने गंभीरता से नहीं लिया। पुलिस की पेट्रोलिंग भी आस-पास जारी थी मगर रात 12 बजे यहां सबकुछ चलता रहा। कुछ देर बाद रेस्टारेंट वालों ने सिर्फ बाहर की दिखावे के लिए लाइट्स बंद कीं।

कारों कतारें बता रही हैं, नियमों का डर कितना है।

कारों कतारें बता रही हैं, नियमों का डर कितना है।

खुद नगर निगम ने कार्रवाई की
ऐसा भी नहीं कि निगम ने बैजनाथ पारा और तेलीबांधा के रेस्टोरेंट वालों की तरह सभी को छूट दे रखी हो। संडे की सुबह रविवार के टोटल लॉकडाउन नियम का पालन करवाने अफसर सड़कों पर उतरे। जोन 3 इलाके में मण्डी पानी टंकी से पास फिश मार्केट में संगम फिश सीड कम्पनी नाम की एक फिश शॉप को खुला पाया गया। लॉकडाउन का नियम तोड़ने की वजह से फिश शॉप में ताला लगाकर इसे सील कर दिया गया।

संडे को दुकान खोलने की वजह से इस दुकानदार की दुकान अब सील है।

संडे को दुकान खोलने की वजह से इस दुकानदार की दुकान अब सील है।

संडे लॉकडाउन का नियम जैसा कलेक्टर ने बताया
रायपुर के कलेक्टर डॉ एस भारती दासन ने 31 मई को जारी किए गए अपने आदेश में साफ लिखा है कि- प्रत्येक रविवार को पूर्ण लॉकडाउन रखा जाएगा, जिसके दौरान केवल अस्पताल, क्लीनिक, मेडिकल दुकान, पेट्रोल पंप तथा इस आदेश द्वारा निर्धारित समय अवधि में शासकीय उचित मूल्य की दुकानें, एलपीजी, पेट शॉप, न्यूज़पेपर, दूध, फल सब्जी और अन्य अनुमति प्राप्त वस्तुओं या सर्विस की ही होम डिलीवरी के संचालन की ही अनुमति होगी।

खबरें और भी हैं…

छत्तीसगढ़ | दैनिक भास्कर

About R. News World

Check Also

रायपुर में फिर हुई चाकूबाजी: एक दिन पुराने मामूली झगड़े का बदला लेने पूरी गैंग लेकर आए बदमाश, घेरकर बटनदार चाकुओं से कर दिया वार

रायपुर38 मिनट पहले कॉपी लिंक इस मामले में फरार बदमाशों को डीडी नगर पुलिस ढूंढ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *